Search

30th September | Current Affairs | MB Books


1. अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस : 30 सितम्बर

30 सितम्बर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा द्वितीय अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस मनाया जाता है। इसके द्वारा उन सभी लोगों को सम्मानित किया जाता है जो अंतर्राष्ट्रीय कूटनीति में संवाद में भाषा विशेषज्ञ के रूप में कार्य करके विकास तथा वैश्विक शान्ति को बढ़ावा देते हैं। इस दिवस के द्वारा साहित्यिक व वैज्ञानिक कार्य के शुद्ध तथा स्पष्ट अनुवाद कार्य को भी अति-आवश्यक माना जाता है।

पृष्ठभूमि

अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने मई, 2017 में प्रस्ताव 71/288 को पारित करके स्थापित किया था। देशों को निकट लाने, संवाद में सहायता करने तथा सहयोग के लिए अनुवाद की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है, यह विश्व शांति तथा विकास में काफी योगदान देता है। बाइबिल के अनुवादक सेंट जेरोम के त्यौहार के कारण 30 सितम्बर को अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस चुना गया। सेंट जेरोम ने बाइबिल का अनुवाद किया था, उन्हें अनुवादकों का संरक्षक माना जाता है।

संविधान की आठवीं

अनुसूची में भारत की आधिकारिक भाषा को सूचीबद्ध किया गया है। भारत में वर्तमान में 22 आधिकारिक भाषाएँ हैं। इनमें से 14 संविधान में शामिल थीं। बाद में 1967 में 21वें संवैधानिक संशोधन के माध्यम से सिंधी को जोड़ा गया। इसके बाद 1992 में 71वें संविधान संशोधन द्वारा कोंकणी, मणिपुरी और नेपाली को शामिल किया गया। 2004 में 92वें संवैधानिक संशोधन अधिनियम के माध्यम से बोडो, मैथिली, डोगरी और संथाली को जोड़ा गया।

2. भारत-बांग्लादेश वर्चुअल समिट आयोजित करेंगे

30 सितंबर, 2020 को भारत और बांग्लादेश संयुक्त सलाहकार आयोग की बैठक के 6वें दौर का आयोजन करेंगे। यह शिखर सम्मेलन दोनों देशों के प्रधामंत्रियों के बीच होगा।

मुख्य बिंदु

इस शिखर सम्मेलन के बारे में घोषणा विदेश मंत्री एस. जयशंकर द्वारा की गई थी। इसके साथ ही उन्होंने निम्नलिखित घोषणाएं भी कीं :

16 दिसंबर, 2020 को भारत बंगबंधु की जन्म शताब्दी पर एक स्मारक डाक टिकट जारी करेगा।इससे पहले बांग्लादेश ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर एक स्मारक डाक टिकट जारी किया था।

महात्मा के 150 साल पूरे होने और मुजीब बरशो को मनाने के लिए एक बंगबंधु-बापू डिजिटल संग्रहालय स्थापित किया जाएगा।

मुजीब बरशो क्या है?

भारत और बांग्लादेश दोनों ही बांग्लादेश के संस्थापक शेख मुजीबुर रहमान की याद में 2020 को “मुजीब बरशो” के रूप में मना रहे हैं। मुजीब बरशो का अर्थ है मुजीब वर्ष। ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि 2020 में उनके जन्म को 100 वर्ष पूरे हो रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र भी इस समारोह में शामिल हो गया है। यह निर्णय यूनेस्को की 40वीं महासभा के दौरान लिया गया था।

मुजीबुर रहमान

वह एक बांग्लादेशी राजनेता थे और उन्हें बांग्लादेश की स्वतंत्रता के पीछे की प्रेरणा शक्ति माना जाता है। उन्हें बांग्लादेश के लोगों द्वारा “बंगबंधु” के नाम से जाना जाता है। वर्तमान प्रधानमंत्री शेख हसीना उनकी बेटी हैं।

पूर्वी पाकिस्तान के लिए राजनीतिक स्वायत्तता हासिल करने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है। 1975 में, सेना के अधिकारियों के एक समूह ने उनके निवास पर हमला किया और मुजीब और उनके परिवार को मार डाला। केवल उनकी दो बेटियां शेख हसीना और शेख रेहाना इस हमले में बच गईं।

3. मोक्टर ओअने माली के नए प्रधानमंत्री

माली के अंतरिम राष्ट्रपति, बाह नेडॉ ने, पूर्व मालियन विदेश मंत्री मोक्टर ओअने (Moctar Ouane) को माली का नया प्रधान मंत्री नामित किया है।

मोक्टर ओअने ने 1995-2002 तक संयुक्त राष्ट्र में माली के राजदूत के रूप में कार्य किया है, और 2004-2009 में अमदौ तूमानी टूर के शासन के दौरान विदेश मंत्री के रूप में कार्य किया है।

4. कुवैत के शेख सबाह अल अहमद का 91 वर्ष की उम्र में निधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कुवैत के शासक शेख सबाह अल अहमद अल सबाह (Sheikh Sabah Al Ahmad Al Sabah) के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए मंगलवार को कहा कि अरब जगत ने एक प्रिय नेता खो दिया जबकि भारत ने एक करीबी दोस्त और दुनिया ने एक महान राजनेता खो दिया है।

मोदी ने कहा कि शेख सबाह ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाई और कुवैत में भारतीय समुदाय का हमेशा विशेष ध्यान रखा। प्रधानमंत्री ने कहा कि कुवैत के अमीर शेख सबाह अल-अहमद अल-जबर अल-सबाह के निधन पर मेरी हार्दिक श्रद्धांजलि। दु:ख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं अल-सबाह परिवार और कुवैत के लोगों के साथ हैं। शेख सबाह का मंगलवार को निधन हो गया। वे 91 वर्ष के थे।

मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि आज, कुवैत और अरब जगत ने एक प्रिय नेता, भारत ने एक करीबी दोस्त और दुनिया ने एक महान राजनेता खो दिया है।

5. असम की एकमात्र महिला सीएम सैयदा अनवरा तैमूर का निधन

असम की पहली और एकमात्र महिला मुख्यमंत्री, सैयदा अनवरा तैमूर का निधन हो गया।

1972 में अपने पहले चुनाव से शुरुआत के साथ चार बार की कांग्रेस विधायक, तैमूर ने 6 दिसंबर, 1980 से 30 जून, 1981 तक के लिए मुख्यमंत्री बनने से पहले शिक्षा जैसे विभागों का संचालन किया।

1988 में उन्हें राज्यसभा के लिए नामित किया गया था। वह 2011 में अखिल भारतीय संयुक्त गणतांत्रिक मोर्चा (All India United Democratic Front-AIUDF) में शामिल हुईं।

6. Reliance में General Atlantic करेगा 3675 करोड़ रुपए का निवेश

वैश्विक निवेश फर्म जनरल अटलांटिक (General Atlantic) 0.84% इक्विटी के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (Reliance Retail Ventures Limited) में 3675 करोड़ रुपए का निवेश (Investments) करेगी। यह रिलायंस रिटेल में तीसरा बड़ा निवेश है। बुधवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) ने इस निवेश की घोषणा की। सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.285 लाख करोड़ रुपए आंका गया। साल की शुरुआत में जनरल अटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 6,598.38 करोड़ का निवेश किया था। यह जनरल अटलांटिक का रिलायंस इंडस्ट्रीज की एक सहायक कंपनी में दूसरा निवेश है। रिलायंस रिटेल लिमिटेड के देशभर मे फैले 12 हजार से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ खरीदार आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है। रिलायंस रिटेल के पास देश के सबसे लाभदायक रिटेल बिजनेस तमगा भी है। कंपनी खुदरा वैश्विक और घरेलू कंपनियों, छोटे उद्योगों, खुदरा व्यापारियों और किसानों का एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहती है, जिससे उपभोक्ताओं को किफायती मूल्य पर सेवा प्रदान की जा सके और लाखों रोजगार पैदा किए जा सकें। रिलायंस रिटेल ने अपनी नई वाणिज्य रणनीति के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का डिजिटलीकरण शुरू किया है। कंपनी का लक्ष्य 2 करोड़ व्यापारियों को इस नेटवर्क से जोड़ना है। यह नेटवर्क व्यापारियों को बेहतर टेक्नॉलोजी के साथ ग्राहकों को बेहतर मूल्य पर सेवाएं देने में सक्षम बनाएगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, मैं प्रसन्न हूं कि जनरल अटलांटिक के साथ हमारे संबंध और मजबूत हुए हैं। हम व्यापारियों और उपभोक्ताओं को सशक्त बनाने और अंततः भारतीय रिटेल की तस्वीर बदलने के लिए काम कर रहे हैं। रिलायंस रिटेल की तरह, जनरल अटलांटिक भी प्रगति और विकास के लिए डिजिटल क्षमता में विश्वास करती है। जनरल अटलांटिक की विशेषज्ञता और भारत में निवेश के दो दशकों के उसके अनुभव का लाभ उठाने के लिए हम तत्पर हैं, क्योंकि हम देश में रिटेल की सूरत बदलने के लिए नया कॉमर्स प्लेटफार्म विकसित कर रहे हैं। रिलायंस रिटेल की निदेशक सुश्री ईशा अंबानी ने कहा, एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप जनरल अटलांटिक का स्वागत करते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है। सभी भारतीय उपभोक्ताओं और व्यापारियों के हित में हम भारतीय रिटेल ईको-सिस्टम का विकास जारी रखेंगे। रिटेल स्पेस में जनरल अटलांटिक के पास

जबरदस्त विशेषज्ञता है और इससे हमें लाभ की उम्मीद है।

जनरल अटलांटिक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बिल फोर्ड ने कहा, जनरल अटलांटिक देश के रिटेल क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव लाने की मुकेश अंबानी के मिशन का समर्थन करती है। जनरल अटलांटिक टेक्नॉलोजी की ताकत में रिलायंस इंडस्ट्रीज की धारणा में भी गहरा विश्वास रखती है। हमें वैश्विक डिजिटल अर्थव्यवस्था में भारत की स्थिति को मजबूत करने के लिए एक बार फिर से रिलायंस टीम के साथ भागीदारी करने पर सम्मानित महसूस कर रहे हैं।

7. 30 सितम्बर : हरिजन सेवक संघ स्थापना दिवस

हरिजन सेवक संघ की स्थापना 30 सितंबर, 1932 को हुई थी। इसकी स्थापना गांधीजी ने की थी। उन्होंने इसकी स्थापना तब की जब वे पुणे के येरवदा जेल में थे।

पृष्ठभूमि

गांधीजी ने एक अलग समूह में हिंदू समुदाय के दबे हुए वर्गों के अलगाव का विरोध किया। यह 1931 में लंदन में आयोजित द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में किया गया था। बी.आर. अंबेडकर ने ब्रिटिश सरकार को दलित वर्ग को सांप्रदायिक आधार पर प्रतिनिधित्व प्रदान करने की सिफारिश की थी।

गांधीजी के अनुसार, हिंदू समुदाय में विभाजन पैदा करने के लिए यह कदम उठाया गया था। उनका मत था कि यह अंग्रेजों की फूट डालो और राज करो की नीति का हिस्सा था।

बाद में 30 सितंबर, 1932 को गांधीजी ने All India Untouchability League की स्थापना की। बाद में इस लीग का नाम बदलकर “हरिजन सेवा संघ” कर दिया गया। इसके बाद उन्होंने हरिजन अखबार की स्थापना की।

हरिजन सेवक संघ

इसकी स्थापना भारत में अस्पृश्यता को समाप्त करने के लिए की गई थी। इसका मुख्यालय किंग्सवे कैंप, दिल्ली में है। इस संघ ने भारतीय समाज में दलित वर्गों को स्कूलों, मंदिरों, सड़कों और जल संसाधनों जैसे सार्वजनिक स्थानों तक पहुंचने में मदद की। इसने अंतर्जातीय विवाह भी करवाए।

किंग्सवे कैंप गांधीवादी विरासत स्थलों में से एक है। इन स्थलों का रखरखाव संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जाता है।

8. अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ पुरस्कार 2019-20 घोषित

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (All India Football Federation-AIFF) पुरस्कार 2019-20 की घोषणा की गई।

भारतीय पुरुष टीम के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने पुरुषों की श्रेणी में 2019-'20 AIFF प्लेयर ऑफ द ईयर अवार्ड जीता है।

हरियाणा से महिला टीम की मिडफील्डर संजू यादव ने महिलाओं की श्रेणी में 2019-'20 AIFF प्लेयर ऑफ द ईयर अवार्ड जीता है।

2019-20 AIFF पुरस्कारों की पूरी सूची यहां देखें:

  • 2019-20 AIFF मेन्स फुटबॉलर ऑफ़ द इयर: गुरप्रीत सिंह संधू

  • 2019-20 AIFF विमेंस प्लेयर ऑफ़ द इयर: संजू यादव

  • 2019-20 AIFF मेन्स एमर्जिंग फुटबॉलर ऑफ द ईयर: अनिरुद्ध थापा

  • 2019-20 AIFF एमर्जिंग महिला फुटबॉलर ऑफ द ईयर: रतनबाला देवी

  • 2019-20 AIFF अवार्ड फॉर द बेस्ट असिस्टेंट रेफ़री: पी. वैरामुत्तु (तमिलनाडु से)

  • 2019-20 AIFF अवार्ड फॉर द बेस्ट रेफ़री: एल. अजित कुमार मीतई (मणिपुर से)

  • 2019-20 AIFF अवार्ड फॉर द बेस्ट ग्रासरूट्स डेवलपमेंट प्रोग्राम: पश्चिम बंगाल (ई-लाइसेंस और गोल्डन बेबी लीग पर आधारित)

9. भारत के ASTROSAT ने तारों के मानचित्रण के पांच सफल वर्ष पूरे किए

ASTROSAT भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) द्वारा लॉन्च किया गया पहला मल्टी-वेवलेंथ उपग्रह है। इसे 28 सितंबर 2015 को लॉन्च किया गया था। अब इसने आकाशीय पिंडों की सफल इमेजिंग के पांच साल पूरे कर लिए हैं।

मुख्य बिंदु

ASTROSAT ने तारों, तारामंडलों का पता लगाया और मिल्की वे आकाशगंगा की बड़ी और छोटी आकाशगंगाओं का मानचित्रण किया जिसे “मैगेलैनिक क्लाउड” कहा जाता है। मैगेलैनिक क्लाउड गामा-रे फटने, सुपरनोवा, सक्रिय आकाशगंगा नाभिक जैसी ऊर्जावान घटना हैं। सरल शब्दों में, उन्हें मिल्की वे का उपग्रह आकाशगंगा कहा जाता है।

ASTROSAT का रेजोल्यूशन NASA मिशन GALEX के रेजोल्यूशन से तीन गुना बेहतर है।

एस्ट्रोसैट

एस्ट्रोसैट की सफलता के साथ, भारत अंतरिक्ष-आधारित वेधशालाओं वाले देशों के विशेष क्लब में एक शामिल हो गया है। जिन अन्य देशों के पास अंतरिक्ष वेधशालाएं हैं वे अमेरिका, यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी, रूस और जापान हैं। इस उपग्रह का उद्देश्य बाइनरी स्टार सिस्टम में उच्च ऊर्जा प्रक्रियाएं प्रदान करना है जिसमें ब्लैक होल और न्यूट्रॉन स्टार शामिल हैं।

एस्ट्रोसैट पहला समर्पित भारतीय मिशन था जिसने एक्स-रे, यूवी और ऑप्टिकल स्पेक्ट्रल बैंड के साथ-साथ अपने पांच यूवी टेलीस्कोप और एक्स-रे टेलिस्कोप के साथ आकाशीय स्रोतों का अध्ययन किया था। एस्ट्रोसैट का ग्राउंड कमांड और कंट्रोल सेंटर ISRO टेलीमेट्री ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क (ISTRAC), बैंगलोर में स्थित है।

ISTRAC

ISTRAC के ग्राउंड स्टेशन बैंगलोर, हैदराबाद, पोर्ट ब्लेयर, तिरुवनंतपुरम, श्रीहरिकोटा और लखनऊ में स्थित हैं।

GALEX

GALEX का अर्थ Galaxy Evolution Explorer है। यह नासा द्वारा 2003 में लॉन्च किया गया था और यह 2012 तक संचालित था। इस मिशन ने हजारों आकाशगंगाओं का निरीक्षण किया। इसका उद्देश्य पृथ्वी से प्रत्येक आकाशगंगा की दूरी निर्धारित करना था। यह भी पाया गया कि प्रत्येक आकाशगंगा में किस दर से तारा बनता है।

ASTROSAT 2

यह 2015 में लॉन्च किए गए उपग्रह एक का उत्तराधिकारी है। ASTROSAT-1 का संचालन समय पांच साल था और 2020 में समाप्त हो रहा है। अभी तक ASTROSAT-2 की ओर कोई कदम नहीं उठाया गया है, लेकिन इसरो द्वारा एक प्रस्ताव बनाया गया है।

10. स्वदेशी बूस्टर के साथ ब्रह्मोस मिसाइल का परीक्षण सफल रहा

30 सितंबर, 2020 को एक स्वदेशी बूस्टर और एयरफ्रेम सेक्शन के साथ सतह से सतह पर मार करने वाली सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का ओडिशा के बालासोर में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया।

ब्रह्मोस

इसे डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान विकास संगठन) और रूस के NPOM के संयुक्त उद्यम के रूप में विकसित किया गया था। इसका नाम ब्रह्मपुत्र और मोस्कवा नदियों के नाम पर रखा गया है। इसमें 300 किमी की उड़ान रेंज है। यह दो चरणों वाली मिसाइल है। पहले चरण में ठोस प्रणोदक इंजन और दूसरे में तरल रैमजेट का उपयोग किया जाता है।

भारत ने मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था (MTCR) में प्रवेश करने के बाद ब्रह्मोस मिसाइल की सीमा बढ़ाकर 450-600 किमी कर दी है।

एमटीसीआर

2016 में भारत MTCR का सदस्य बन बना था। MTCR की शुरुआत 1987 में G-7 देशों द्वारा की गई थी। MTCR में कुल 35 सदस्य हैं। MTCR के सदस्यों को क्रूज मिसाइलों, बैलिस्टिक मिसाइलों, मानवरहित हवाई वाहनों, ड्रोन, अंतरिक्ष प्रक्षेपण वाहनों, दूर से संचालित पायलट वाहनों, अंतर्निहित घटकों और प्रौद्योगिकियों के लिए राष्ट्रीय निर्यात नियंत्रण नीतियां स्थापित करनी पड़ती हैं।

अन्य संधियाँ

सीमित प्रतिबंध संधि

भारत ने संधि की पुष्टि की है। यह संधि जमीन, बाहरी अंतरिक्ष और पानी के भीतर परमाणु प्रयोगों पर रोक लगाती है।

बाह्य अन्तरिक्ष पर संधि

भारत ने 1967 में इस संधि पर हस्ताक्षर किए। यह संधि देशों को चंद्रमा और अन्य खगोलीय पिंडों की कक्षा में परमाणु हथियारों का परीक्षण करने के लिए प्रतिबंधित करती है।

NPT

एनपीटी अप्रसार संधि है। भारत ने इस संधि पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं। भारत उन पांच देशों में शामिल है, जिन्होंने इस संधि पर हस्ताक्षर नहीं किये हैं। अन्य चार देश दक्षिण सूडान, पाकिस्तान, इजरायल और उत्तर कोरिया हैं। एनपीटी के तीन मुख्य उद्देश्य परमाणु अप्रसार, निरस्त्रीकरण और शांति से परमाणु तकनीक का उपयोग करने का अधिकार है।

व्यापक परीक्षण प्रतिबंध संधि

यह संधि सभी परमाणु विस्फोटों पर प्रतिबंध लगाने का प्रयास करती है। 1996 में हस्ताक्षर के लिए खुलने के बाद अब तक 182 देशों ने संधि पर हस्ताक्षर किए हैं। भारत ने अभी भी संधि पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं।

11. SBI कार्ड का नया ब्रांड अभियान "संपर्क रहित कनेक्शन’

एसबीआई कार्ड ने अपना नया ब्रांड अभियान 'संपर्क रहित कनेक्शन (Contactless Connections)' शुरू किया है, जिसका उद्देश्य यह संदेश फैलाना है कि इस कठिन अवधि के दौरान, जहां सामाजिक दूरी आदर्श है, वहां प्यार और देखभाल भी साझा किया जा सकता है।

यह अभियान सकारात्मकता का एहसास कराने का एक प्रयास है जो यह दर्शाता है कि लोग सामाजिक दूरी के व्यवहार, जिनमें हम सभी बंधे हुए हैं, के बावजूद भावनात्मक रूप से जुड़ सकते हैं और आनंद फैला सकते हैं।

एसबीआई कार्ड द्वारा समर्थित संपर्क रहित भुगतान, उपभोक्ता अपने कार्ड को विक्रेता को देने या पिन (PIN) डाले बिना,सुरक्षित और सुनिश्चित भुगतान के लिए बस अपने कार्ड या फोन को घुमाकर या क्यूआर (QR) कोड को स्कैन करने की अनुमति देता है।

12. उषा मंगेशकर को लता मंगेशकर पुरस्कार 2020-21 सम्मान

महाराष्ट्र सरकार ने अनुभवी महिला पार्श्व गायिका उषा मंगेशकर को वर्ष 2020-21 के लिए गान सम्राज्ञी लता मंगेशकर पुरस्कार देने की घोषणा की है।

यह पुरस्कार राज्य सरकार के सांस्कृतिक विभाग द्वारा दिया जाता है। पुरस्कार में पाँच लाख रुपये का नकद पुरस्कार, एक प्रमाण पत्र और एक स्मृति चिन्ह शामिल है।

इस अनुभवी गायक ने मराठी, हिंदी और कई अन्य भारतीय भाषाओं की फिल्मों में गाने गाए हैं।

फिल्म 'सुबह का तारा', 'जय संतोषी मां', 'आजाद', 'चित्रलेखा', 'खट्टा मीठा', 'काला पत्थर', 'नसीब', 'खुबसूरत', 'डिस्को डांसर', 'इंकार' से उनके गानों ने चार्टबस्टर पर शासन किया।

13. भारत में पिछले 24 घंटे में दर्ज हुए 80,472 नए COVID-19 केस, कोरोनावायरस से 1,179 की मौत

Coronavirus in India: देश में कोरोना संक्रमण का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कुल संक्रमितों का आंकड़ा 62 लाख के चिंताजनक आंकड़े को पार कर चुका है। बुधवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी ताजा जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटों (मंगलवार सुबह 8 बजे से लेकर बुधवार सुबह 8 बजे तक) में 80,472 नए मामले सामने आए हैं इसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 62, 25,763 हो गई है। वहीं इस दौरान 1179 लोगों की मौत हुई है और कुल मृतकों की संख्या 97,497 हो गई है। जबकि पिछले 24 घंटों में बीते 86,428 मरीज़ ठीक हुए हैं। एक बार फिर 24 घंटों में संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या आई है।

देश में इस वक्त 9,40,441 मामले एक्टिव स्टेज में हैं यानी की इनका इलाज या तो अस्पतालों में हो रहा है या फिर डॉक्टरों के दिशा निर्देशों के चलते वह होम आइसोलेशन में हैं अगर अब तक कुल ठीक होने वाले मरीजों की संख्या की बात करें तो यह 52 लाख के आंकड़े के करीब पहुंच चुकी है अब तक कुल 51,87,825 मरीज कोरोना वायरस को मात देने में कामयाब हो चुके हैं सितंबर महीने में कोरोना का कहर सबसे ज्यादा टूटा है इस महीने में अब तक कुल 26,04,518 संक्रमण के मामले सामने आए हैं और 33,028 लोगों की मौत हुई

अब बात करते हैं कोरोना टेस्ट कीजानकारी के लिए बता दें कि ICMR के अनुसार पिछले 24 घंटों में 10,86,688 लोगों की कोरोना की जांच की जा चुकी है जबकि अब तक कुल 7,41,96,729 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं

प्रतिशत के हिसाब से आंकड़ों को समझें तो बता दें कि रिकवरी रेट 83.32 फीसदी पर पहुंच गया है, वहीं डेथ रेट 1.56 प्रतिशत पर बना हुआ है पॉजिटिविटी रेट 7.4 फीसदी है तो वहीं 15.1 प्रतिशत मामले एक्टिव मिल रहे हैं

9 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved