Search

28th February & 1st March | Current Affairs | MB Books


1. 1 मार्च : शून्य भेदभाव दिवस (Zero Discrimination Day)

1 मार्च को विश्व स्तर पर शून्य भेदभाव दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को महिलाओं और लड़कियों द्वारा भेदभाव और असमानता को चुनौती देने के लिए मनाया गया। इसका उद्देश्य महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करना और उनके सशक्तीकरण और लैंगिक समानता को बढ़ावा देना है।

मुख्य बिंदु : संयुक्त राष्ट्र एड्स कार्यक्रम द्वारा शून्य भेदभाव दिवस मनाया जाता है। हर साल 1 मार्च को यह दिवस मनाया जाता है। इसे 2014 में पहली बार मनाया गया था। इसे एड्स कार्यक्रम से जोड़ा जा रहा है क्योंकि संयुक्त राष्ट्र का मानना ​​है कि एड्स को मिटाने के लिए महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव से लड़ना महत्वपूर्ण है।

महत्व : विश्व में तीन महिलाओं में से एक महिला हिंसा के किसी न किसी रूप का सामना कर रही है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार विश्व में 50% से अधिक महिलाओं ने उनके खिलाफ होने वाली हिंसा की रिपोर्ट की है। इसलिए, जागरूकता बढ़ाने के लिए यह दिवस महत्वपूर्ण है।


2. अमेरिका ने Johnson & Johnson के कोविड-19 टीके के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दी

अमेरिका में खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) ने जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson) की कोरोना वैक्सीन को आपात स्थिति में इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन की केवल एक खुराक ही असरदार है, जबकि अब तक जिन वैक्सीन को मंजूरी मिली थी, उनकी दो डोज लेना जरूरी था।

बता दें कि यह तीसरा टीका है जिसे अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। अर्थात, अब अमेरिका में कोरोना से जंग के लिए तीन वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा सकता। इससे पहले फाइजर/बायोएनटेक और मॉडर्ना की वैक्सीन को मंजूरी मिली थी।

केवल एक खुराक में होगा काम : एफडीए के वैज्ञानिकों ने इस बात की पुष्टि की है कि यह टीका कोविड-19 के गंभीर स्तर के संक्रमण को रोकने हेतु लगभग 66 प्रतिशत प्रभाव क्षमता रखता है। एफडीए ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन के इस टीके की दो के बजाय केवल एक खुराक देने की जरूरत होगी और यह उपयोग के लिए सुरक्षित है।

एफडीए ने क्या कहा? : एफडीए ने जॉनसन ऐंड जॉनसन वैक्सीन को मंजूरी देते हुए कहा कि आज खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए तीसरे टीके के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी। जॉनसन एंड जॉनसन की जॉनसेन कोविड -19 वैक्सीन को 18 साल और उससे अधिक उम्र के व्यक्तियों में इस्तेमाल के लिए वितरित किया जा सकता है।

गंभीर दुष्प्रभाव नहीं : जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल तीन महाद्वीपों में कि गया है। वैक्सीन से अमेरिका में कोरोना के खिलाफ लगभग 85.9 प्रतिशत तक सुरक्षा पाई गई। जबकि खास बात है कि ट्रायल में केवल 2.3 प्रतिशत गंभीर साइड इफेक्ट देखे गए।

अमेरिका कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित : अमेरिका कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है और 5 लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। worldometers के आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका में अब तक 2 करोड़ 92 लाख 2 हजार 824 लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 5 लाख 24 हजार 669 लोगों की मौत हो चुकी है।


3. पीएम मोदी ने वर्चुली किया दूसरे खेलों इंडिया नेशनल विंटर गेम्स को संबोधित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दूसरे खेलों इंडिया नेशनल विंटर गेम्स के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया।

जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में विश्व प्रसिद्ध स्की-रिसॉर्ट गुलमर्ग में खेलो इंडिया-विंटर गेम्स का दूसरा संस्करण आयोजित किया जा रहा है।

इन खेलों का आयोजन जम्मू और कश्मीर खेल परिषद और जम्मू-कश्मीर के शीतकालीन खेल संघ के सहयोग से केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा किया गया है।

खेलों में खेल गतिविधियों में अल्पाइन स्कीइंग, नॉर्डिक स्की, स्नोबोर्डिंग, स्की पर्वतारोहण, आइस हॉकी, आइस स्केटिंग, आइस स्टॉक आदि शामिल होंगे।


4. 28 फरवरी : राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

प्रतिवर्ष 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है, इसका उद्देश्य लोगों में विज्ञान के महत्व और इसके अनुप्रयोग का संदेश फैलाना है।

महत्व : 28 फरवरी, 1928 को भौतिक विज्ञानी सी.वी. रमन द्वारा रमन प्रभाव की खोज को चिह्नित करने के लिए इस दिवस को मनाया जाता है। इस खोज के लिए सी.वी. रमन को 1930 में भौतिकी में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

पृष्ठभूमि : राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की स्थापना केंद्र सरकार द्वारा 1986 में राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचार परिषद की मांग के आधार पर की गई थी। पहली बार राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 28 फरवरी 1987 को मनाया गया था। इस दिवस को लोगों के दैनिक जीवन में उपयोग किए जाने वाले विज्ञान के महत्व के बारे में संदेश फैलाने और विज्ञान व प्रौद्योगिकी को लोकप्रिय बनाने के लिए मनाया जाता है।

रमन प्रभाव : इस घटना में, पारदर्शी माध्यम से गुजरने के बाद प्रकाश की किरण का कुछ हिस्सा बिखर जाता है। प्रकाश के प्रकीर्णन की इस घटना को रमन स्कैटरिंग कहा जाता है और प्रकीर्णन के कारण को रमन प्रभाव कहा जाता है। इन बिखरी हुई किरणों की तरंगदैर्घ्य (wavelength) प्रकाश की किरणों (incident rays) से भिन्न होती है।


5. रूसी सुपर मॉडल वोडियानोवा होंगी नई UN गुडविल एम्बेसडर

रूसी सुपर मॉडल और समाजसेवी नतालिया वोडियानोवा (Natalia Vodianova) महिलाओं और लड़कियों के यौन और प्रजनन अधिकारों को बढ़ावा देने और उनसे छेड़छाड़ से निपटने के लिए बनी संस्था के लिए संयुक्त राष्ट्र गुडविल एम्बेसडर बनाया गया है।

वह संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UN Population Fund) की प्रचारक होंगी, जिसे अब संयुक्त राष्ट्र की यौन और प्रजनन स्वास्थ्य एजेंसी कहती है (UN”s sexual and reproductive health agency), और जिसे UNFPA कहा जाता है।


6. ISRO ने ब्राज़ील के Amazonia-1 उपग्रह को लांच किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के PSLV-C 51 या अमेजोनिया-1 मिशन को लांच किया। अमेजोनिया-1 ब्राज़ील का उपग्रह है।

मुख्य बिंदु :

  • PSLV-C51 को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर (SDSC) से लॉन्च किया गया।

  • इसे अंतरिक्ष केंद्र से 28 फरवरी, 2021 को लॉन्च किया गया।

  • यहइसरो का 53वां पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल मिशन है।

  • इस लांच में, PSLV-C51 रॉकेट ब्राजील के उपग्रह अमेजोनिया-1 को प्राथमिक उपग्रह के रूप में ले जाया गया।

  • ब्राजील के उपग्रह के साथ, यह लांच व्हीकल 19 और उपग्रहों को भी ले गया।

  • यह मिशन इसरो की वाणिज्यिक नोडल एजेंसी का पहला समर्पित व्यावसायिक मिशन है जिसे “न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड (NSIL)” कहा जाता है।

NSIL की भूमिका : NSIL Spaceflight Inc के साथ वाणिज्यिक समझौते के अनुसार इस मिशन पर काम कर रहा है।

Spaceflight Inc. एक सैटेलाइट राइडशेयर और मिशन मैनेजमेंट प्रोवाइडर है।यह अमेरिका के सिएटल में बेस्ड है

18 सह-यात्री उपग्रहों में से 14 NSIL द्वारा भेजे जाएंगे।

अमेजोनिया-1 : अमेजोनिया-1 को राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान, ब्राजील द्वारा भेजा जा रहा है। यह एक ऑप्टिकल पृथ्वी अवलोकन उपग्रह है। यह ब्राजील के अमेज़ॅन क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी के लिए रिमोट सेंसिंग डेटा को भी साझा करेगा। इसके अलावा, यह उपग्रह पूरे ब्राजील में विविध कृषि का विश्लेषण प्रदान करेगा।

अन्य उपग्रह : यह PSLV व्हीकल Indian National Space Promotion and Authorisation Centre (IN-SPACe) नामक नोडल एजेंसी से चार उपग्रहों को ले जाएगा। IN-SPACe अंतरिक्ष विभाग के तहत काम करने वाली एक स्वतंत्र एजेंसी है। यह निजी क्षेत्र को अंतरिक्ष गतिविधियों में भाग लेने की अनुमति देती है।


7. शरद गोकलानी होंगे एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के नए अध्यक्ष और CTO

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने शरद गोकलानी को अपना नया अध्यक्ष और CTO नामित किया है। इससे पहले वह इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक से EVP और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी के रूप में जुड़े थे।

अपनी नई नियुक्ति पर, गोकलानी जयपुर राजस्थान में कार्य करेंगे।

इक्विटास से पहले, वह भारती एयरटेल और भारती टेलीसॉफ्ट के साथ जुड़े थे। उन्होंने जयपुर विश्वविद्यालय से कंप्यूटर एप्लीकेशन में मास्टर डिग्री की है।

AU की शुरुआत 25 साल पहले संजय अग्रवाल, एक मेरिट होल्डर चार्टर्ड अकाउंटेंट और एक पहली पीढ़ी के उद्यमी द्वारा की गई थी।

आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, इसे 1996 में जयपुर में एयू फाइनेंसर्स के नाम से स्थापित किया गया था, जो गैर-बैंकिंग वित्त कंपनी (एनबीएफसी) लेने वाली एक गैर-जमा राशि है, इसने प्रभावी रूप से आर्थिक विकास विशेष रूप से अल्प-सेवा और बिना-सेवा वाले निम्न वर्ग और मध्यवर्गीय व्यक्ति के वित्तपोषण काम किया,

RBI से लाइसेंस मिलने के बाद अप्रैल 2017 में Au Financiers को AU स्मॉल फाइनेंस बैंक में बदल दिया गया।


8. NSO ने साल 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 8% तक की गिरावट का जताया अनुमान

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistical Office) द्वारा जारी किए गए दूसरे एडवांस अनुमानों के अनुसार वर्ष 2020-21 में भारत की जीडीपी विकास दर 8 प्रतिशत नेगेटिव रहने की संभावना है।

यह अनुमान 2019-20 में 4.9 फीसदी था।

इससे पहले NSO ने अपने पहले अग्रिम अनुमान में जीडीपी दर 7.7 प्रतिशत नेगेटिव रहने का अनुमान लगाया था।


9. भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 583.865 अरब डॉलर पर पहुंचा

19 फरवरी, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 169 मिलियन डॉलर की गिरावट के साथ 583.865 अरब डॉलर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत पांचवें स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

विदेशी मुद्रा भंडार : इसे फोरेक्स रिज़र्व या आरक्षित निधियों का भंडार भी कहा जाता है भुगतान संतुलन में विदेशी मुद्रा भंडारों को आरक्षित परिसंपत्तियाँ’ कहा जाता है तथा ये पूंजी खाते में होते हैं। ये किसी देश की अंतर्राष्ट्रीय निवेश स्थिति का एक महत्त्वपूर्ण भाग हैं। इसमें केवल विदेशी रुपये, विदेशी बैंकों की जमाओं, विदेशी ट्रेज़री बिल और अल्पकालिक अथवा दीर्घकालिक सरकारी परिसंपत्तियों को शामिल किया जाना चाहिये परन्तु इसमें विशेष आहरण अधिकारों , सोने के भंडारों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की भंडार अवस्थितियों को शामिल किया जाता है। इसे आधिकारिक अंतर्राष्ट्रीय भंडार अथवा अंतर्राष्ट्रीय भंडार की संज्ञा देना अधिक उचित है।

19 फरवरी, 2021 को विदेशी मुद्रा भंडार :

विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए): $542.106 बिलियन गोल्ड रिजर्व: $35.250 बिलियन आईएमएफ के साथ एसडीआर: $ 1.508 बिलियन आईएमएफ के साथ रिजर्व की स्थिति: $ 5.002 बिलियन


10. SBI ने विदेशी लेनदेन को आसान बनाने के लिए JPMorgan के ब्लॉकचेन पेमेंट नेटवर्क से किया करार

भारतीय स्टेट बैंक ने विदेशी लेनदेन को गति देने के लिए अमेरिकी बैंक की ब्लॉकचेन तकनीक का उपयोग करने के लिए JPMorgan के साथ एक करार किया है।

इस टाई-अप से एसबीआई ग्राहकों की लेनदेन लागत और भुगतानों के लिए लगने वाले समय में कमी आने की उम्मीद है।

एसबीआई ने जेपी मॉर्गन द्वारा विकसित एक नया ब्लॉकचैन-आधारित इंटरबैंक डेटा नेटवर्क लींक (Liink) में शामिल हो गया है। टेक्नोलोजी को एकीकृत करने से बैंक को अपने ग्राहकों के लिए लेनदेन लागत को कम करने और सीमा पार से भुगतान में सुधार आने की उम्मीद है।

लींक एक सहकर्मी से सहकर्मी (peer-to-peer) नेटवर्क और पारिस्थितिकी तंत्र है जो जेपी मॉर्गन के ब्लॉकचैन- और डिजिटल-मुद्रा-केंद्रित व्यवसाय द्वारा संचालित किया जाता है, जिसे Onyx कहा जाता है।

इसे 2017 में पायलट किया गया था, इस उत्पाद को मूल रूप से इंटरबैंक सूचनेटवना र्क के रूप में संदर्भित किया गया था और अक्टूबर 2020 में लींक के रूप में दोबारा प्रस्तुत किया गया था।

Liink समाधान से 78 देशों में 400 से अधिक वित्तीय संस्थानों और निगम जुड़े है, जिसमें दुनिया के शीर्ष 50 बैंकों में से 27 शामिल हैं। नेटवर्क में लगभग 100 लाइव बैंक हैं, जिनमें राज्य के स्वामित्व वाले और निजी संस्थान दोनों शामिल हैं।


11. कर्नाटक : नम्मा कार्गो सेवा शुरू की गयी

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने ‘नम्मा कार्गो’ सेवाओं की शुरुआत की।

नम्मा कार्गो सर्विसेज :

  • इस सेवा का शुभारंभ विधानसभा में किया गया।

  • इस स्थान पर, राज्य सड़क परिवहन निगम पार्सल का परिवहन करेगा अधिक राजस्व उत्पन्न हो सके।

  • कार्गो सेवाओं को कर्नाटक के 109 बस स्टेशनों पर लागू किया जाएगा।

  • इसे आंध्र प्रदेश, गोवा, तेलंगाना, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और केरल में चयनित स्थानों पर भी लागू किया जाएगा।

  • इन सेवाओं के शुभारंभ के साथ, परिवहन विभाग का अनुमान है कि सामान राजस्व आय 70 करोड़ से बढ़कर 80 करोड़ प्रति वर्ष हो जाएगी।

  • “नम्मा कार्गो सर्विसेज” के पहले चरण में कर्नाटक के 88 तालुकों और 21 अंतर-राज्यीय स्थानों पर काम करेगा।

  • परिवहन विभाग ने होम डिलीवरी प्रदान करने के लिए सेवा का विस्तार करने का भी लक्ष्य रखा है।

पृष्ठभूमि : तीन सड़क परिवहन निगमों अर्थात् NWKRTC, KSRTC, और NEKRTC के परिचालन में 51 लाख किमी शामिल हैं, और इसमें प्रतिदिन 38 लाख यात्री भी जाते हैं।

बैंगलोर महानगर परिवहन निगम (BMTC) : यह एक सरकारी एजेंसी है जो बेंगलुरु में सार्वजनिक परिवहन बस सेवा का संचालन कर रही है। बीएमटीसी के पास सबसे अधिक वोल्वो बसें हैं जो देश में एक सार्वजनिक परिवहन कंपनी द्वारा संचालित हैं।


12. NPCI ने UPI AutoPay को किया म्यूजिक स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म 'गाना' पर लाइव

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने Gaana ऐप के लिए UPI AutoPay सेवा शुरू किए जाने की घोषणा की है।

Gaana, के UPI AutoPay के साथ जुड़ने से इसे UPI पर अभिनव ई-मैंडेट सुविधा को शुरू करने वाली मीडिया और मनोरंजन उद्योग की पहली ऐप बना दिया है।

UPI AutoPay की शुरूआत Gaana के उपयोगकर्ताओं को अपने सब्सक्रिप्शन्स रिन्यू करने में सक्षम बनाएगा।

ग्राहक अपनी पसंद के संगीत, पॉडकास्ट और रेडियो की सीमलेस स्ट्रीमिंग का आनंद ले सकते हैं, वो भी बिना अपने सब्सक्रिप्शन्स की रिन्यू तारीख को याद किए।

Paytm और Juspay द्वारा भुगतान एग्रीगेटर के रूप में निभाई जाने वाली रणनीतिक भूमिका ग्राहकों के लिए एक बेहतर लेनदेन अनुभव बनाएगी।


13. मध्य प्रदेश ने दंड कानून (मध्य प्रदेश संशोधन) विधेयक, 2021 को मंजूरी दी

मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल ने 26 फरवरी, 2021 को “दंड कानून (मध्य प्रदेश संशोधन) विधेयक, 2021” को मंजूरी दे दी है। राज्य में खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों को आजीवन कारावास देने के लिए इस विधेयक को मंजूरी दी गई है।

पृष्ठभूमि : दिसंबर 2019 के महीने में, मिलावट के खिलाफ लड़ने के लिए भोपाल में जागरूकता रैली का आयोजन किया गया था। इस रैली में सभी आयु वर्ग के लोगों की भागीदारी देखी गई।

खाद्य मिलावट (Food Adulteration) : यह एक कानूनी शब्द है जिसका उपयोग तब किया जाता है जब कोई खाद्य उत्पाद अधिकारियों द्वारा निर्धारित किसी भी कानूनी मानकों को पूरा करने में विफल रहता है। खाद्य पदार्थ में किसी अन्य पदार्थ से खाद्य मिलावट की जा सकती है ताकि कच्चे रूप या तैयार रूप में खाद्य पदार्थ की मात्रा बढ़ाई जा सके। इससे खाद्य उत्पादों की वास्तविक गुणवत्ता का नुकसान होता है।

खाद्य मानकों को कौन नियंत्रित करता है? : स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा भोजन के कानूनी मानक को विनियमित किया जाता है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय नागरिकों को सुरक्षित भोजन प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है। मंत्रालय ने “खाद्य अपमिश्रण निवारण अधिनियम, 1954” पेश किया था जो नागरिकों को शुद्ध और पौष्टिक भोजन प्रदान करता है। इस अधिनियम में वर्ष 1986 में संशोधन किया गया था। इस संशोधन के साथ मिलावट करने वालों के लिए सजा को और अधिक कठोर बनाया गया था।

खाद्य सुरक्षा और मानक (FSS) अधिनियम, 2006 : यह अधिनियम 2006 में FSSAI द्वारा पारित किया गया था जिसके लिए 2011 में नियमों को अधिसूचित किया गया था। इस अधिनियम के तहत, FSSAI ने खाद्य मिलावट पर नकेल कसने के लिए नए खंड को शामिल करने का प्रस्ताव दिया था। अगर मिलावट की जाती है, जिसके परिणामस्वरूप व्यक्ति को मृत्यु या किसी अन्य गंभीर चोट का सामना करना पड़ता है, तो मिलावट करने वालों के लिए कम से कम सात साल की सजा होगी, जिसे आजीवन कारावास तक भी बढ़ाया जा सकता है।


14. पापुआ न्यू गिनी के पहले प्रधानमंत्री माइकल सोमारे का निधन

पापुआ न्यू गिनी के पहले प्रधानमंत्री माइकल सोमारे (Michael Somare) का निधन।

उन्हें “father of the nation” के नाम से भी जाना जाता था, क्योंकि उन्होंने 1975 में ऑस्ट्रेलिया से स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए प्रशांत द्वीपसमूह का नेतृत्व किया था। उन्होंने 1975 से 2011 के दौरान चार बार देश के प्रधान मंत्री के रूप में कार्य किया था, और वे सबसे लंबे समय (17 वर्ष) तक पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री रहे थे।


15. पद्म श्री मलयालम कवि विष्‍णु नारायणन नम्‍बूति‍री का निधन

प्रसिद्ध मलयालम कवि, पुजारी और शिक्षाविद विष्‍णु नारायणन नम्‍बूति‍री का निधन।

उन्हें दशकों तक मलयालम साहित्य में दिए उनके योगदान के लिए 2014 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। इसके आलावा उन्होंने केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार, केंद्र साहित्य अकादमी फेलोशिप, वल्लथोल पुरस्कार, ओडक्कुज़ल पुरस्कार और मातृभूमि साहित्य पुरस्कार भी जीता।

वह भाषा और वेदों के विख्यात विद्वान होने के साथ-साथ एक वक्ता भी थे।


16. यूसुफ पठान ने की क्रिकेट के सभी फोर्मट्स से संन्यास की घोषणा

पूर्व भारतीय ऑल-राउंडर खिलाड़ी यूसुफ पठान ने क्रिकेट के सभी फोर्मेट्स से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। उन्होंने 2007 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद से भारत के लिए 57 एकदिवसीय और 22 T20I मैच खेले।

वह ICC T20 विश्व कप 2007 और ICC क्रिकेट विश्व कप 2011 जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे।

उन्होंने भारत के लिए 810 ODI रन और 236 T20 रन बनाए है। इसके आलावा उन्होंने सीमित ओवरों के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 46 विकेट भी लिए हैं।

यूसुफ ने 100 प्रथम श्रेणी मैच खेले, जिसमें 4825 रन बनाए और 201 विकेट लिए। लिस्ट ए क्रिकेट में, दाएं हाथ के बल्लेबाज ने 4797 रन बनाए और 199 मैचों में 124 विकेट हासिल किए।

वे भारत के लिए आखिरी बार मार्च 2012 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग में एकदिवसीय मैच में खेले थे।


17. जिम्नास्टिक फेडरेशन ऑफ इंडिया की मान्यता को बहाल किया गया

केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्रालय ने 31 दिसंबर, 2021 तक तत्काल प्रभाव से जिमनास्टिक फेडरेशन ऑफ इंडिया (GFI) को राष्ट्रीय खेल महासंघ (NSF) के रूप में मान्यता दे दी है।

मुख्य बिंदु : खेल मंत्रालय ने आगे कहा कि, 2019- 2023 के कार्यकाल के लिए अध्यक्ष पद पर सुधीर मित्तल और कोषाध्यक्ष पद पर पर कौशिक बिदिवाला का चुनाव दर्ज किया गया है।

इसके अलावा, एस. शांति कुमार सिंह द्वारा दायर याचिका के बारे में मणिपुर उच्च न्यायालय के फैसले के बाद महासचिव पद के लिए एस. शांति कुमार सिंह का चुनाव स्वीकार करने का निर्णय लिया जाएगा।

जबकि कार्यकारी सदस्य के पद के लिए परमेश्वर प्रजापत का चुनाव एनओसी और अन्य तथ्यों को सत्यापित करने के बाद स्वीकार किया जाएगा।

GFI को खेल संहिता के अनुरूप लाने के लिए गठन में 6 महीने के भीतर खेल संहिता के प्रावधानों के बारे में एक स्पष्ट पुष्टि करने की भी आवश्यकता होगी।

हालांकि, खेल मंत्रालय ने चेतावनी दी है कि किसी भी नियम और शर्तों के उल्लंघन के मामले में यह मान्यता वापस ली जा सकती है।


18. आर. विजय कुमार ने क्रिकेट के सभी फोर्मेट्स से किया संन्यास का ऐलान

पूर्व भारतीय अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी और कर्नाटक के कप्तान, आर विनय कुमार ने क्रिकेट के सभी फोर्मेट्स से संन्यास का ऐलान कर दिया है।

“Davangere Express” के नाम से मशहूर विनय कुमार अपने करियर के 25 साल पूरे करने और क्रिकेट जीवन के कई अहम पड़ावों को पार करने के बाद आखिरकार रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया गया हैं।

एक मीडियम गति के तेज गेंदबाज विनय ने भारत के लिए 2010 और 2013 के दौरान एक टेस्ट, 31 एकदिवसीय और 9 T20 इंटरनेशनल मैच खेलें।

विनय ने भारतीय क्रिकेट के घरेलू दिग्गज के रूप में संन्यास लिया, जिसमें 139 मैचों में 504 प्रथम श्रेणी के विकेट लिए, जिसमें 26 बार पांच विकेट लेने वाले हल्स और एक मैच में पांच बार 10 विकेट भी शामिल थे।

बल्ले से उन्होंने 3311 रन बनाए जिसमें दो शतक और 17 अर्धशतक शामिल थे। 141 लिस्ट ए मैचों में, 37 वर्षीय ने 24.39 पर 225 विकेट लिए और चार अर्धशतक सहित 1198 रन बनाए।


19. नीता अंबानी, प्रियंका गांधी सहित 200 महिलाएं ‘टाइटैनिक इंडियन ब्यूटीज 2020’ में शामिल

अंतरराष्ट्रीय स्तर की सामाजिक संस्था जनपरिषद ने रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, सफाईकर्मी बबली राठौर एवं वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया सौंदर्य प्रतियोगिता की रनरअप मान्या सिंह सहित 200 महिलाओं को ‘टाइटैनिक इंडियन ब्यूटीज 2020’ में शामिल किया गया है। जनपरिषद के संयोजक रामजी श्रीवास्तव ने यह जानकारी रविवार को दी है।

उन्होंने कहा कि ‘टाइटैनिक इंडियन ब्यूटीज 2020’ के लिए कुल 200 नामों की घोषणा शुक्रवार को भोपाल में जनपरिषद के एक सार्वजनिक समारोह में संस्था के अध्यक्ष एनके त्रिपाठी और उपाध्यक्ष महान भारत सागर ने की।

श्रीवास्तव ने बताया कि जनपरिषद ने देशभर से 200 ऐसी महिलाओं का चयन किया जो सुंदर होने के साथ-साथ अपनी दक्षता, प्रतिभा और सामाजिक समर्पण के कारण समाज में अपना विशिष्ठ स्थान बनाने के साथ-साथ आने वाली पीढ़ी के लिए मार्गदर्शी बनी हुई हैं।

उन्होंने कहा कि इस सूची में संस्था ने सिनेमा, पत्रकारिता, फैशन, व्यवसाय, चिकित्सा, खेल, राजनीति एवं समाजसेवा सहित हर क्षेत्र से जुड़ी प्रतिभाशाली महिलाओं का चयन किया है।

श्रीवास्तव ने बताया कि नीता अंबानी एवं प्रियंका गांधी वाड्रा के अलावा इसमें फिल्म निर्मात्री एकता कपूर, फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत एवं प्रियंका चोपड़ा और एंकर श्वेता सिंह शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि सूची में नर्स अदिति प्रज्ञा (कोलकाता), सफाईकर्मी बबली राठौर (ओम्कारेश्वर, मध्यप्रदेश) और ऑटो चालक की सुपुत्री एवं वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया सौंदर्य प्रतियोगिता की रनर-अप का हाल ही में खिताब हासिल करने वाली मान्या सिंह (उत्तरप्रदेश) शामिल हैं।

श्रीवास्तव ने बताया कि इनके अलावा, इस सूची में भोपाल की जानी-मानी जूडो खिलाड़ी कमला रावत एवं पर्वतारोही भावना डेहरिया को भी जगह मिली है।




  • Source of Internet