Search

21st & 22nd March | Current Affairs | MB Books


1. 22 मार्च : विश्व जल दिवस (World Water Day)

1993 से हर साल, विश्व जल दिवस (World Water Day) 22 मार्च को मनाया जाता है। यह ताजे पानी के महत्व को फैलाने के लिए मनाया जाता है। यह दिन संयुक्त राष्ट्र द्वारा और साथ ही दुनिया भर में विभिन्न अन्य संगठनों द्वारा मनाया जाता है।

Theme : Valuing Water

महत्व : विश्व जल दिवस का मुख्य उद्देश्य सतत विकास लक्ष्य 6 (Sustainable Development Goal 6) प्राप्त करना है। इसमें 2030 तक सभी के लिए जल और स्वच्छता शामिल है।

आवश्यकता : 2050 तक, 5.7 बिलियन से अधिक लोग उन क्षेत्रों में होंगे, जहां पानी दुर्लभ होगा। दुनिया भर में पानी की मांग 2040 तक 50% तक बढ़ जाएगी। इसलिए, जल संरक्षण पर बल देना आवश्यक है।


2. 21 मार्च को मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस (International Day of Forests)

अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस (International Day of Forests) 21 मार्च को मनाया गया।

अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस : 28 नवंबर, 2012 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस के रूप में स्थापित किया था। अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस 21 मार्च, 2013 को पहली बार मनाया गया।

अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस सभी प्रकार के वनों के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने पर फोकस करता है। अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस के अवसर पर देशों को वृक्षारोपण अभियान से संबंधित गतिविधियों को आयोजित करने के लिए स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रयासों को करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस का विचार European Confederation of Agriculture की 23वीं महासभा में पेश किया गया था ।

महत्व : हर साल 13 मिलियन हेक्टेयर से अधिक वन नष्ट हो जाते हैं। बड़े पैमाने पर वनों की कटाई से 12% से 18% विश्व कार्बन उत्सर्जन होता है।


3. सामिया सुलुहू हसन बनीं तंजानिया की पहली महिला राष्ट्रपति

सामिया सुलुहू हसन (Samia Suluhu Hassan) ने तंजानिया (Tanzania) के छठे राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली, जो पूर्वी अफ्रीकी देश की पहली महिला नेता बन गईं।

61 वर्षीय हसन ने पूर्व राष्ट्रपति जॉन मगुफुली (John Magfufuli) की ह्रदय घात के कारण मृत्यु के बाद राष्ट्रपति पद ग्रहण किया था। ​वह मगुफुली का दूसरा पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी, जो 2025 तक चलेगा। राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभालने से पहले, हसन नवंबर 2015 से तंजानिया के उपराष्ट्रपति थी, साथ ही देश की पहली महिला उपराष्ट्रपति भी थीं।


4. भारत ने SCO के नौरोज़ समारोह में भाग लिया

बीजिंग में भारतीय दूतावास ने 20 मार्च, 2021 को चीन के बीजिंग में शंघाई सहयोग संगठन (Shanghai Cooperation Organisation – SCO) के सचिवालय में आयोजित नौरोज़ समारोह में भाग लिया। नौरोज़ (Nowruz) ईरानी और फारसी नव वर्ष समारोह है।

मुख्य बिंदु : समारोह में भारतीय राजदूत विक्रम मिश्री (Vikram Misri) ने भाग लिया, इसमें साथ ही अन्य एससीओ सदस्य देशों के राजनयिकों में शामिल थे जिनमें चीन, रूस, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और पाकिस्तान शामिल हैं। इस उत्सव में 500 से अधिक मेहमानों ने हिस्सा लिया। इस समारोह के दौरान, भारतीय दूतावास ने योग, कथक और भारतीय व्यंजनों को प्रदर्शित किया। इस अवसर पर, भारतीय राजदूत ने भारत और एससीओ की मित्रता के पोषण के प्रतीक के रूप में एक चीड़ का पेड़ भी लगाया।

नवरोज़ या नौरोज़ (Nowruz) : यह ईरानी नव वर्ष (Iranian New Year) है जिसे फारसी नव वर्ष (Persian New Year) के रूप में भी जाना जाता है। नया साल वसंत विषुव या मार्च विषुव पर शुरू होता है जिसे फरवर्दिन (Farvardin) के पहले दिन के रूप में चिह्नित किया गया है। फरवर्दिन ईरानी सौर कैलेंडर का पहला महीना है। यह दिन दुनिया भर में कई समूहों द्वारा मनाया जाता है। नौरोज़ की उत्पत्ति ईरानी और पारसी संस्कृति है। लेकिन यह त्योहार विभिन्न समुदायों द्वारा 3,000 वर्षों से मध्य एशिया, पश्चिमी एशिया, काला सागर बेसिन, काकेशस, बाल्कन और दक्षिण एशिया में मनाया जाता है। ईरान में नौरोज़ का समय सौर हिजरी एल्गोरिथम कैलेंडर (Solar Hijri Algorithmic Calendar) पर आधारित है।


5. चौथी बार चुनाव जीतकर सत्ता में बरकरार डच प्रधानमंत्री मार्क रुट्टे

नीदरलैंड के प्रधानमंत्री, मार्क रुट्टे (Mark Rutte) ने 2021 के संसदीय चुनावों में लगातार चौथे कार्यकाल के लिए प्रधान मंत्री के रूप में अधिकांश सीटों के साथ जीत हासिल की।

इससे पहले रुट्टे और उनके पूरे मंत्रिमंडल ने बाल कल्याण धोखाधड़ी से संबंधित एक घोटाले के जवाब में 15 जनवरी 2021 को इस्तीफे की पेशकश की, हालांकि, 2021 के चुनाव तक रुट्टे पद पर बने रहे। रुट्टे अक्टूबर 2010 से नीदरलैंड के प्रधानमंत्री हैं।


6. भारत और जापान ने पेटेंट सत्यापन में सहयोग के लिए सहमती जताई

भारत और जापान अंतरराष्ट्रीय पेटेंट आवेदन के लिए “सक्षम अंतर्राष्ट्रीय खोज और अंतर्राष्ट्रीय प्रारंभिक परीक्षा प्राधिकरण (ISA / IPEA)” के रूप में सहयोग करने के लिए एक दूसरे के कार्यालयों को मान्यता देने के लिए सहमत हुए हैं।

मुख्य बिंदु : औद्योगिक संपत्ति पर सहयोग के ज्ञापन के तहत उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) और जापान पेटेंट कार्यालय (JPO) की चौथी समीक्षा बैठक के दौरान समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। पहले चरण की बैठक की अध्यक्षता गुरुप्रसाद महापात्रा ने की, जो DPIIT के सचिव हैं, और जापान की ओर से इसमें तोशीहिदे कासुतानी ने हिस्सा लिया , जो JPO के आयुक्त हैं। इस बैठक के दौरान, पायलट Patent Prosecution Highway (PPH) कार्यक्रम के पहले वर्ष की समीक्षा की गई।

बैठक का एजेंडा : इस बैठक के दौरान, दोनों देशों ने भारत और जापान के बीच औद्योगिक संपत्ति पर सहयोग समझौते के तहत प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने भारत और JPO के कंट्रोलर जनरल ऑफ़ पेटेंट्स, डिज़ाइन्स एंड ट्रेडमार्क (CGPDTM) के बीच कार्य योजना की भी समीक्षा की। भविष्य के सहयोग के लिए दोनों देशों के बीच सहकारी संबंधों को गहरा करने के लिए अपने विचारों को भी साझा किया गया। उन्होंने आईपी प्रवर्तन को मजबूत करने, आईपी जागरूकता बढ़ाने, क्षमता निर्माण को बढ़ाने और नवाचार को प्रोत्साहित करने के महत्व को भी स्वीकार किया। दोनों देशों ने औद्योगिक डिजाइन शिक्षा के क्षेत्र में अपना सहयोग जारी रखने पर भी सहमति व्यक्त की।


7. पीएम मोदी ने लांच किया ‘Catch the Rain’ अभियान

प्रधानमंत्री मोदी ने 22 मार्च को विश्व जल दिवस के अवसर पर “जल शक्ति अभियान : कैच द रेन” अभियान (Jal Shakti Abhiyan : Catch the Rain Campaign) लॉन्च किया। यह अभियान देश के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में चलाया जायेगा। यह अभियान 22 मार्च से 30 नवम्बर तक चलाया जायेगा।

अभियान के बारे में : इस अभियान की टैगलाइन है “Catch the rain, where it falls, when it falls”। इस अभियान में उपयुक्त वर्षा जल संचयन संरचनाएं (Rain Water Harvesting Structures-RWHS) बनाने में मदद मिलेगी जो मानसून के गिरने से पहले जलवायु परिस्थितियों और उप-मौसम के लिए उपयुक्त हैं। यह अभियान चेक डैम, रूफटॉप आरडब्ल्यूएचएस, वाटर हार्वेस्टिंग पिट, टैंक की डिसिल्टिंग को बढ़ाकर अपनी भंडारण क्षमता बढ़ाने के लिए अभियान चलाएगा।

सरकार ने राज्य सरकारों से अनुरोध किया है कि वे इन गतिविधियों को सुविधाजनक बनाने के लिए प्रत्येक जिले, कलेक्ट्रेट या नगर पालिकाओं या ग्राम पंचायतों में रेन सेंटर खोलें। इन केंद्रों में इस अवधि के दौरान एक समर्पित मोबाइल फोन नंबर होगा। केंद्रों को एक इंजीनियर या एक व्यक्ति द्वारा संचालित किया जाएगा जो आरडब्ल्यूएचएस में अच्छी तरह से प्रशिक्षित है।

अभियान का उद्देश्य : इस अभियान का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि जिले की इमारतों में छत आरडब्ल्यूएचएस हो ताकि किसी भी परिसर में बारिश का अधिकतम पानी गिर सके। इससे मिट्टी की नमी में सुधार और भूजल को बढ़ाने में मदद मिलेगी। यह शहरी क्षेत्रों में सड़कों पर पानी के संचय को कम करेगा।


8. World Happiness Report : 2021

‘United Nation Sustainable Development Solutions Network’ ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट “World Happiness Report, 2021″ जारी की है। COVID-19 महामारी के बीच इस रिपोर्ट को तैयार किया गया। यह रिपोर्ट तीन संकेतक जीवन मूल्यांकन (Life Evaluation), सकारात्मक मनोभाव (Positive Emotions) और नकारात्मक मनोभाव (Negative Emotions) पर निर्भर होकर व्यक्तिपरक कल्याण को मापती है। यह रिपोर्ट ” World Happiness Day” से पहले प्रस्तुत की गई थी, जिसे 20 मार्च को मनाया जाता है।

मुख्य बिंदु : जीवन मूल्यांकन को मापने के लिए, गैलप वर्ल्ड पोल (Gallup World Poll) ने लोगों को अपने वर्तमान जीवन का मूल्यांकन करने के लिए कहा। उनके लिए सबसे अच्छा संभव जीवन का मूल्यांकन 10 के रूप में किया गया था जबकि सबसे खराब संभव जीवन 0 के रूप में। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, “जीवन मूल्यांकन” अंतरराष्ट्रीय तुलनाओं को संचालित करने के लिए सबसे अधिक जानकारी प्रदान करता है क्योंकि यह संकेतक पूर्ण और स्थिर तरीके से जीवन की गुणवत्ता की जानकारी देता है।

मुख्य बिंदु : फ़िनलैंड को फिर से दुनिया के सबसे खुशहाल देश के रूप में नामित किया गया था क्योंकि इसकी समग्र रैंकिंग 2020 के सूचकांक के समान थी। डेनमार्क, आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और नीदरलैंड ने रैंकिंग में अच्छा प्रदर्शन किया। संयुक्त राज्य अमेरिका को 19वें स्थान पर रखा गया था। भारत 149 देशों में से 139वें स्थान पर था। भारत पिछले वर्ष में 156 देशों में से 144वें स्थान पर था। वर्ष 2021 में भारत से पीछे रहने वाले दस देशों में बुरुंडी, यमन, तंजानिया, हैती, मलावी, लेसोथो, बोत्सवाना, रवांडा, जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान हैं।


9. भारत हिमालयी ग्लेशियरों के रडार सर्वे आयोजित करेगा

भारत ने हिमालय के ग्लेशियरों की मोटाई का अनुमान लगाने के लिए हवाई राडार सर्वेक्षण करने की योजना बनाई है। इस योजना के तहत, पायलट अध्ययन हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति बेसिन में आयोजित किया जाएगा। यह प्रस्ताव पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय ध्रुवीय और महासागर अनुसंधान (National Centre for Polar & Ocean Research – NCPOR) केंद्र द्वारा शुरू किया गया था।

मुख्य बिंदु : इस प्रायोगिक परियोजना के पूरा हो जाने के बाद सिंधु, गंगा और ब्रह्मपुत्र उप-घाटियों में भी इसी तरह के अध्ययन किए जाएंगे। यह घटना भारत की नदी प्रणालियों में ग्लेशियरों के महत्व के कारण महत्वपूर्ण है और भारत-गंगा के मैदानों (Indo-Gangetic Plains) में 500 मिलियन लोग इस पर आश्रित है। वे ऊर्जा सुरक्षा के दृष्टिकोण से भी महत्वपूर्ण हैं।

भारत चरम मौसम की घटनाओं के लिए सबसे कमजोर (vulnerable) देशों में से एक है। जलवायु जोखिम सूचकांक (Climate Risk Index) में इसे 20वें स्थान पर रखा गया है। फरवरी, 2021 में उत्तराखंड के रैनी गाँव के पास ग्लेशियर के फटने से कई लोगों की जान चली गयी थी।


10. PNB ने क्रेडिट कार्ड व्यवसाय के प्रबंधन के लिए सहायक कंपनी की स्थापना की

पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank-PNB) ने अपने क्रेडिट कार्ड व्यवसाय के प्रबंधन के लिए पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी "PNB कार्ड्स एंड सर्विसेज लिमिटेड (PNB Cards & Services Ltd)" की स्थापना की है। PNB कार्ड्स एंड सर्विसेज लिमिटेड को 16 मार्च 2021 को रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज, दिल्ली द्वारा निगमित किया गया है।

नई सहायक बैंक के क्रेडिट कार्ड व्यवसाय से संबंधित गैर-वित्तीय सहायता सेवाएं शुरू करेगी। कंपनी की अधिकृत पूंजी 25 करोड़ रुपये है और प्रदत्त पूंजी 15 करोड़ रुपये है।


11. श्रम मंत्रालय और BECIL ने सर्वेक्षण करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए

श्रम ब्यूरो (Labour Bureau), जो श्रम और रोजगार मंत्रालय के तहत कार्यालय करता है, ने ब्रॉडकास्ट इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (Broadcast Engineering Consultants India Limited – BECIL) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, इसके तहत श्रम ब्यूरो को तकनीकी और जनशक्ति सहायता प्रदान की जाएगी।

मुख्य बिंदु : BECIL के इस समर्थन से प्रवासी श्रमिकों के साथ-साथ अखिल भारतीय त्रैमासिक स्थापना आधारित रोजगार सर्वेक्षण (AQEES) करने में मदद मिलेगी। यह समझौता “आईटी-सक्षम सर्वेक्षण” की शुरुआत को चिह्नित करता है जिसमें ब्यूरो द्वारा सर्वेक्षण BECIL द्वारा प्रदान की गई तकनीक के साथ एकीकृत किया जाएगा। इससे सर्वेक्षण पूरा करने में लगने वाले समय को 30-40% तक कम करने में मदद मिलेगी।

ब्रॉडकास्ट इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (BECIL) :

यह भारत सरकार का एक सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम (PSU) है। यह पूरे भारत में प्रसारण इंजीनियरिंग और सूचना प्रौद्योगिकी सेवाएं प्रदान करता है। इसने मलयाला मनोरमा (Malayala Manorama) और टाइम्स टीवी (Times TV) जैसे चैनलों को कंसल्टेंसी सेवाएँ प्रदान की हैं।


12. UNCTAD का अनुमान 2021 में भारत की GDP 5% बढ़ेगी

UN कॉन्फ्रेंस ऑन ट्रेड एंड डेवलपमेंट (UNCTAD) ने कोरोनोवायरस महामारी के कारण 2020 में भारत की अर्थव्यवस्था के 6.9 प्रतिशत तक संकुचित होने का अनुमान लगाया था, 2021 में "प्रबल वसूली (stronger recovery)" का रिकॉर्ड और 5 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान लगाया है।

इसके अलावा, UNCTAD ने 2021 में वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.7 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान लगाया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 में अपेक्षित मंदी की तुलना में भारत के लिए 2021 के लिए प्रबल रिकवरी का अनुमान है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार, जिसमें कहा गया है कि देश का चालू वित्त वर्ष बजट सार्वजनिक निवेश में वृद्धि के साथ मांग-पक्ष उत्तेजना की ओर एक बदलाव को इंगित करता है।


13. नियोग्रोथ ने बनाया अजिंक्य रहाणे को ब्रांड एंबेसडर

छोटे व्यवसायों के लिए ऋण देने वाली कंपनी नियोग्रोथ क्रेडिट प्राइवेट लिमिटेड (NeoGrowth Credit Pvt Ltd) ने क्रिकेटर अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को अपना ब्रांड एंबेसडर नियुक्त करने की घोषणा की है। यह समझौता एक साल के लिए है जिसे आगे बढ़ाया जा सकता है।

रहाणे अप्रैल के पहले सप्ताह में जारी होने वाले अभियान में शामिल होंगे, जिसमें छोटे व्यवसायों के लिए नियोग्रॉथ के माध्यम से ऋण की खरीद में सरलता के बारे में बात की जाएगी। अभियान "कीपिंग इट सिंपल (Keeping it simple)" स्केलिंग करते समय छोटे व्यवसायों के दिन-प्रतिदिन संघर्ष और नियोग्रोथ कैसे उन्हें दूर करने में मदद कर सकता है, दर्शाएगा।


14. पांचवे टी-20 में भारत ने इंग्लैंड को 36 रनों से हराया, 3-2 से जीती सीरीज

भारत ने बल्लेबाज रोहित शर्मा (64 रन) की शानदार पारी के बाद कप्तान विराट कोहली (नाबाद 80 रन) के अर्धशतक से शनिवार को यहां पांचवें और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में इंग्लैंड को 36 रन से हराकर श्रृंखला 3-2 से अपने नाम की।

श्रृंखला में भारतीय टीम के प्रदर्शन से दिखता है कि उसकी टी20 विश्व कप की तैयारियां सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं जिसने दो बार पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए सीरीज जीती। टीम ने श्रृंखला में चौथी बार टॉस गंवाया लेकिन इसके बावजूद टी20 अंतरराष्ट्रीय में इंग्लैंड के खिलाफ अपना सबसे बड़ा स्कोर खड़ा किया।

निर्णायक मुकाबले में बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद भारत ने नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रोहित और कोहली के अर्धशतकों से दो विकेट पर 224 रन बनाये जो उसका इस श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रयास भी है।इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम जोस बटलर (52 रन) और डेविड मलान (68, 46 गेंद, नौ चौके और दो छक्के) के अर्धशतकों के बावजूद आठ विकेट पर विकेट पर 188 रन ही बना सकी।

भारत के लिये शार्दुल ठाकुर ने 45 रन देकर तीन और भुवनेश्वर कुमार ने 15 रन देकर दो विकेट चटकाये जबकि आलराउंडर हार्दिक पंड्या ने 34 रन देकर और टी नटराजन ने 39 रन देकर एक एक विकेट हासिल किया।अब भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ जीत की इस (टेस्ट श्रृंखला से शुरू हुई) लय को वनडे श्रृंखला में भी जारी रखना चाहेगी जिसका पहला मैच 23 मार्च को पुणे में खेला जायेगा।

जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने शुरू के मैचों में अपनी तेज रफ्तार से भारतीयों को परेशान किया था लेकिन रोहित (34 गेंद में चार चौके और पांच छक्के) और कोहली (52 गेंद में सात चौके और दो छक्के) ने इनके खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए टीम को पॉवरप्ले में 60 रन बनाने में मदद की। इन दोनों के बीच पहले विकेट के लिये 54 गेंद में 94 रन की साझेदारी बनी।इनके अलावा सूर्यकुमार यादव (17 गेंद में 32 रन, तीन चौके, दो छक्के) और पंड्या (17 गेंद में नाबाद 39 रन, चार चौके, दो छक्के) ने भी योगदान दिया।

मेजबानों ने अंतिम पांच ओवरों में 67 रन जोड़कर विपक्षी टीम को जीत के लिये विशाल लक्ष्य दिया।बेन स्टोक्स और आदिल राशिद को छोड़कर इंग्लैंड के सभी गेंदबाजों ने 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा लुटाये जिसमें क्रिस जोर्डन (57 रन देकर कोई विकेट नहीं) सबसे ज्यादा खर्चीले रहे।

भारत ने सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल को बाहर रखने का फैसला किया ताकि तेज गेंदबाज टी नटराजन के रूप में अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सके।राहुल के नहीं खेलने से कोहली ने रोहित के साथ पारी का आगाज करने का फैसला किया जो टीम के लिये काफी बढ़िया साबित हुआ।

इस भागीदारी में रोहित से ज्यादातर रन बटोरे और कोहली दूसरे छोर पर स्ट्रोक्स भरी पारी का लुत्फ उठाते दिखे।

पहले दो मैचों में रोहित को आराम दिया गया था लेकिन वह अगले दो मैचों में कुछ अच्छा नहीं कर सके लेकिन उन्होंने शनिवार को बड़े मैच में अपनी ख्याति के अनुरूप पारी खेली।

रोहित ने अपने पांचों छक्के अपने ‘ट्रेडमार्क’ शॉट से लगाये। उनके स्ट्रेट ड्राइव्स भी काफी मनोरंजक रहे जिसमें इंग्लैंड के खतरनाक गेंदबाज मार्क वुड के पहले ही ओवर में लगा शॉट था।कोहली ने भी वुड की गेंद को स्टैंड तक पहुंचाया जिसके बाद वह भी जोश में भर गये।

रोहित ने अपना अर्धशतक छक्का लगाकर 30 गेंद में पूरा किया जो बिलकुल भी हैरानी भरा नहीं था। पर वह स्टोक्स की गेंद पर बोल्ड हो गये।इसके बाद कोहली ने अपनी पारी को खूबसूरत ढंग से आगे बढ़ाया जिसमें उन्हें दूसरे छोर पर सूर्यकुमार का साथ मिला जिन्होंने अपने पदार्पण मैच की लय को यहां भी जारी रखा और क्रीज पर उतरते ही अपने इरादे दिखा दिये।

मुंबई के इस बल्लेबाज ने लेग स्पिनर आदिल राशिद पर लगातार दो छक्के जड़े। इसके बाद जोर्डन पर लगातार तीन चौके जमाये जिससे इस ओवर में 19 रन बने और तब भारत का स्कोर 12 ओवर में एक विकेट पर 133 रन था। सूर्यकुमार 14वें ओवर में राशिद की गेंद का शिकार बने और दूसरे विकेट के लिये 49 रन की भागीदारी का अंत हुआ।कोहली ने फिर हार्दिक के साथ मिलकर भारत को 200 रन के पार कराया। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 40 गेंद में नाबाद 81 रन की साझेदारी निभायी।

इंग्लैंड को पहला झटका पहले ही ओवर में तेज गेंदबाज भुवनेश्वर ने दिया जिन्होंने सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय को दूसरी ही गेंद पर बोल्ड कर दिया। हालांकि मेहमान टीम जल्द ही इस झटके से उबर गयी। बटलर और मलान क्रीज पर डट गये, दोनों ने अपने अर्धशतक पूरे किये और विकेट नहीं गिरने दिया। इससे मुकाबला रोमांचक हो गया।

लेकिन भुवनेश्वर ने ही दूसरे विकेट की इस 130 रन की भागीदारी का अंत बटलर को आउट कर किया जिनका कैच पंड्या ने लपका। बटलर ने 34 गेंद में दो चौके और चार छक्के जड़े।शार्दुल ने फिर अपने तीसरे ओवर में दो विकेट झटक लिये। पारी के 15वें ओवर में जोस बटलर को पवेलियन भेजने के बाद उन्होंने क्रीज पर जमे मलान की पारी खूबसूरत गेंद पर बोल्ड कर समाप्त की।

अगले ही ओवर में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन (01) पंड्या की गेंद का शिकार हुए। इससे इंग्लैंड का स्कोर 13वें ओवर से 16वें ओवर तक दो विकेट पर 130 रन से पांच विकेट पर 142 रन हो गया।जोफ्रा आर्चर रन आउट हुए और शार्दुल ने अंतिम ओवर में एक विकेट हासिल किया।


15. एथलीट अविनाश साबले ने पुरुष 3000 मीटर स्टीपलचेज़ में नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया

भारतीय एथलीट अविनाश साबले (Avinash Sable) ने पटियाला में चल रहे फेडरेशन कप सीनियर नेशनल एथलेटिक्स चैंपियनशिप (Federation Cup Senior National Athletics Championships) में पुरुषों की 3000 मीटर की स्टीपलचेज स्पर्धा में 8:20.20 के समय के साथ एक नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया।

इसके साथ, 26 वर्षीय अविनाश ने दोहा में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के फाइनल में 13 वें स्थान पर रहने के बाद, 2019 में 8:21.37 के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

महाराष्ट्र के शुष्क बीड जिले के सेना के जवान ने अपने करियर में पांचवीं बार राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा। साबले पहले ही 2019 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दौरान पुरुषों की 3000 मीटर की स्टीपलचेज में टोक्यो ओलंपिक 2020 में बर्थ हासिल कर चुका है।


16. वंदे भारत मिशन के तहत दुनिया भर से 67.5 लाख से अधिक लोगों को वापस लाया गया

केंद्र सरकार ने कहा है कि वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के तहत अब तक 67.5 लाख से अधिक लोगों को दुनिया भर से वापस लाया गया है।

मुख्य बिंदु : विदेश में फंसे भारतीयों को वापस लाने के लिए भारत ने पिछले साल 7 मई से दुनिया के सबसे बड़े निकासी अभियानों में से एक की शुरुआत की। शुरू में, एयर इंडिया और इसकी सहायक एयर इंडिया एक्सप्रेस ने इस काम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

बाद में, अन्य एयर कैरियर को इस कार्यक्रम में भाग लेने की अनुमति दी गई। हवाई निकासी के अलावा समुद्री जहाजों का उपयोग भी भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए किया गया था। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने एक ट्वीट में कहा कि वंदे भारत सिर्फ एक मिशन नहीं है जो असहाय और संकटग्रस्त नागरिकों को वापस लाए बल्कि यह आशा और खुशी का मिशन भी है।

विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए भारत सरकार द्वारा वंदे भारत मिशन शुरू किया गया था।


17. झारखंड ने लांच किया SAAMAR अभियान

झारखंड सरकार ने “SAAMAR अभियान” (SAAMAR Campaign) लांच किया है। SAAMAR का पूर्ण स्वरुप “Strategic Action for Alleviation of Malnutrition and Anaemia Reduction” है। झारखंड में कुपोषण से निपटने के लिए यह अभियान शुरू किया गया है।

मुख्य बिंदु : एनीमिया से पीड़ित महिलाओं और कुपोषित बच्चों की पहचान करने के उद्देश्य से SAAMAR अभियान शुरू किया गया है। यह अभियान कुपोषण की समस्या से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए कई विभागों को एकजुट करता है।

झारखण्ड में कुपोषण : आर्थिक सर्वेक्षण 2021 में कहा गया है कि, झारखण्ड में मार्च 2017 से जुलाई 2017 की अवधि के लिए एक व्यापक राष्ट्रीय पोषण सर्वेक्षण किया गया था। इस सर्वेक्षण के अनुसार, 45% बच्चे कम वजन वाले हैं।

SAAMAR अभियान (SAAMAR Campaign) : झारखण्ड में 1000 दिनों के लक्ष्य के साथ SAAMAR अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत, प्रगति पर नज़र रखने के लिए वार्षिक सर्वेक्षण किया जाएगा। इस अभियान में ग्रामीण विकास विभाग, खाद्य और नागरिक आपूर्ति जैसे कई विभागों को शामिल करने और स्कूल प्रबंधन समितियों और ग्राम सभाओं के साथ जुड़ाव के बारे में बताया गया है ताकि उन्हें पोषण संबंधी व्यवहार के बारे में जागरूक किया जा सके। यह उनकी पोषण संबंधी जरूरतों के लिए प्राथमिक रूप से कमजोर आदिवासी समूहों पर ध्यान केंद्रित करेगा।


18. भारतीय सेना दुनिया की चौथी सबसे शक्तिशाली सेना, पहले नंबर पर चीन

दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में भारतीय सेना चौथे नंबर पर है। डिफेंस वेबसाइट मिलिट्री डायरेक्ट (Military Direct) की तरफ से जारी की गई एक स्टडी के मुताबिक चीन के पास दुनिया की सबसे मजबूत सैन्य शक्ति है। स्टडी के अनुसार अमेरिकी सेना का बजट सबसे बड़ा है। इसके बावजूद 74 पॉइंट्स के साथ दूसरे नंबर पर है। इसके बाद रूस 69 पॉइंट्स के साथ तीसरे, 61 पॉइंट्स के साथ भारत चौथे पर और फिर 58 पॉइंट्स के साथ फ्रांस का नंबर है।

ब्रिटेन ने भी टॉप-10 में जगह बनई है और 43 पॉइंट्स के साथ 9वें नंबर पर है। स्टडी में कहा गया है कि अल्टीमेट मिलिट्री स्ट्रेन्थ इंडेक्स (ultimate military strength index) को बजट, सैनिकों की संख्या और परमाणु संसाधनों, औसत वेतन और इक्विपमेंट समेत कई फैक्टर्स को ध्यान में रखकर कैलकुलेट किया गया है। चीन के पास दुनिया की सबसे मजबूत सेना है और इसने इंडेक्स में 100 में से 82 पॉइंट्स हासिल किए हैं।

बजट, एयर और नौसेना की क्षमता आधार पर चीनी सेना को शक्तिशाली बताया गया है। दुनियाभर की सभी सेनाओं के मुकाबले अमेरिकी सेना का बजट सबसे अधिक है। अमेरिकी सेना का बजट 732 बिलियन डॉलर सालाना है। चीनी सेना 261 बिलियन डॉलर के साथ दूसरे नंबर पर है। इसके बाद 71 बिलियन डॉलर के साथ भारत तीसरे नंबर पर है। इस स्टडी रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि अगर कोई लड़ाई होती है तो समुद्री लड़ाई में चीन जीतेगा, हवाई लड़ाई में अमेरिका और जमीनी लड़ाई पर रूस जीतेगा।





  • Source of Internet

10 views0 comments

Recent Posts

See All