Search

15th May | Current Affairs | MB Books


1. 15 मई : अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस (International Day of Families)

हर साल 15 मई को अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस (International Day of Families) मनाया जाता है। यह दिवस परिवारों द्वारा विकास में उनके द्वारा निभाई गई भूमिका को रेखांकित करता है।

मुख्य बिंदु : संयुक्त राष्ट्र (UN) परिवार को समाज की मूल इकाई के रूप में मान्यता देता है।इसलिए, 1992 में संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN General Assembly) ने संकल्प A/RES/47/237 के द्वारा 15 मई को अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस के रूप में घोषित किया।

उद्देश्य : यह परिवारों से संबंधित मुद्दों के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना चाहता है और इसका उद्देश्य जनसांख्यिकीय, आर्थिक और सामाजिक प्रक्रियाओं को प्रभावित करने वाले ज्ञान को बढ़ाना है।

अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस को Division for Inclusive Social Development’ (DISD) द्वारा आयोजित किया जाता है , जो संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक और सामाजिक मामलों के विभाग (UN DESA) और Global Communications Civil Society का हिस्सा है ।


2. हवाई हमलों के बाद इज़राइल और हमास के बीच बढ़ी शत्रुता

इजरायल की सेना ने गाजा (Gaza) में विभिन्न क्षेत्रों में रॉकेटों से बमबारी की है। यह 2014 के बाद से गाजा में सबसे तीव्र हवाई हमले हैं।

हमास ने सोमवार को इजरायल की ओर सैकड़ों रॉकेट दागे थे।

उसके बाद, इसराइल ने गाजा में सैकड़ों हवाई हमले किए।

गाजा स्थित फिलिस्तीनी समूह, हमास, ने अल-अक्सा मस्जिद में इजरायली पुलिस और फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों के बीच संघर्ष के विरोध में इजरायल की ओर लाल रॉकेट दागे थे।

अल-अक्सा मस्जिद यरूशलम में स्थित है। यह मुसलमानों के लिए तीसरा सबसे पवित्र स्थान है।


3. भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.4 बिलियन डॉलर की वृद्धि के साथ 589.465 अरब डॉलर पर पहुंचा

7 मई, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.4 बिलियन डॉलर की वृद्धि के साथ 589.465 अरब डॉलर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

विदेशी मुद्रा भंडार : इसे फोरेक्स रिज़र्व या आरक्षित निधियों का भंडार भी कहा जाता है भुगतान संतुलन में विदेशी मुद्रा भंडारों को आरक्षित परिसंपत्तियाँ’ कहा जाता है तथा ये पूंजी खाते में होते हैं। ये किसी देश की अंतर्राष्ट्रीय निवेश स्थिति का एक महत्त्वपूर्ण भाग हैं। इसमें केवल विदेशी रुपये, विदेशी बैंकों की जमाओं, विदेशी ट्रेज़री बिल और अल्पकालिक अथवा दीर्घकालिक सरकारी परिसंपत्तियों को शामिल किया जाना चाहिये परन्तु इसमें विशेष आहरण अधिकारों , सोने के भंडारों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की भंडार अवस्थितियों को शामिल किया जाता है। इसे आधिकारिक अंतर्राष्ट्रीय भंडार अथवा अंतर्राष्ट्रीय भंडार की संज्ञा देना अधिक उचित है।

7 मई, 2021 को विदेशी मुद्रा भंडार :

विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए): $546.493 बिलियन गोल्ड रिजर्व: $36.480 बिलियन आईएमएफ के साथ एसडीआर: $1.503 बिलियन आईएमएफ के साथ रिजर्व की स्थिति: $4.989 बिलियन


4. Tianwen-1: चीनी रोवर ने मंगल ग्रह पर लैंडिंग की

14 मई, 2021 को चीनी अंतरिक्ष यान तियानवेन 1 (Tianwen-1) मंगल ग्रह पर सफलतापूर्वक उतरा। इसे जुलाई, 2020 में लॉन्ग मार्च 5 (Long March 5) रॉकेट पर लॉन्च किया गया था।

लैंडिंग के बारे में :

  • तियानवेन 1 अब तीन महीने से मंगल ग्रह की परिक्रमा कर रहा है। इस लैंडर में झुरोंग रोवर है, यह लैंडर हाल ही में मंगल की सतह पर सफलतापूर्वक उतरा।

  • यह यूटोपिया प्लैनिटिया (Utopia Planitia) क्षेत्र में उतरा।

  • हालाँकि, जब लैंडर ने मंगल ग्रह के वातावरण में प्रवेश किया, तो इस अंतरिक्ष यान ने नासा के मार्स परसेवरांस रोवर के तरह “Seven Minutes of Terror” का सामना किया।

मंगल ग्रह का यूटोपिया प्लैनिटिया (Utopia Planitia of Mars) : यह मंगल ग्रह के उत्तरी गोलार्ध में एक मैदान है।यह क्षेत्र ज्यादातर समतल और चिकना है लेकिन इसमें क्रेटर हैं। इसके अलावा, इस क्षेत्र में एओलियन पहाड़ियां (Aeolian ridges) हैं।

वैज्ञानिकों ने पाया है कि यह क्षेत्र कीचड़ के प्रवाह से आच्छादित है। कुछ का तो यह भी मानना ​​है कि संभवतः यहाँ भूजल का अस्तित्व बहुत पहले से था।

Seven Minutes of Terror क्या है? : EDL चरण, जिसे Entry Descent Landing कहा जाता है, को “Entry Descent Landing” चरण कहा जाता है। यह चरण रेडियो संकेतों द्वारा मंगल ग्रह से पृथ्वी तक पहुंचने में लगने वाले समय से अधिक तेजी से होता है। इसका मतलब है कि इस चरण के दौरान अंतरिक्ष यान अपने आप ही कार्य करता है और इसलिए इसे “seven minutes of terror” कहा जाता है। यह चरण तब शुरू होता है जब लैंडर मंगल ग्रह के वातावरण में प्रवेश करता है।

EDL चरण तब समाप्त होता है जब रॉकेट संचालित स्काई क्रेन लैंडर को सुरक्षित रूप से मंगल ग्रह की सतह पर नीचे उतारती है। इस सात मिनट के दौरान कई अहम चीजें होती हैं।

झुरोंग रोवर (Zhurong rover) : यह सतह की मिट्टी की विशेषताओं और संभावित जल बर्फ वितरण की जांच करेगा।


5. ICAS की कार्यकारी समिति में शामिल हुई मनीषा कपूर

एडवरटाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (Advertising Standards Council of India - ASCI) ने घोषणा की कि उसके महासचिव मनीषा कपूर (Manisha Kapoor) को इंटरनेशनल काउंसिल फॉर एडवरटाइजिंग सेल्फ रेगुलेशन (International Council for Advertising Self-Regulation-ICAS) की कार्यकारी समिति में नियुक्त किया गया है।

अप्रैल तक, ASCI ने कार्यकारी समिति में दो साल के कार्यकाल के लिए सदस्य के रूप में कार्य किया। अब, कपूर 2023 तक समिति में नेतृत्व की भूमिका निभाएंगे।

वह कार्यकारी समिति के चार वैश्विक उपाध्यक्षों में से एक होंगी।


6. भारतीय महिला टी-20 की सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा पहली बार वनडे टीम में शामिल

युवा भारतीय महिला बल्लेबाज शेफाली वर्मा को पहली बार भारतीय महिला वनडे टीम में जगह मिली है। आगामी इंग्लैंड दौरे के लिए उन्हें सभी प्रारूपों (टेस्ट, वनडे, टी-20) में टीम में शामिल किया गया है। वहीं अनुभवी ऑलराउंडर शिखा पांडे और विकेटकीपर बल्लेबाज तानिया भाटिया की भी टीम में वापसी हुई है। दोनों हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू वनडे और टी-20 सीरीज से टीम से बाहर थी।

राष्ट्रीय चयनकर्ताओं ने इंग्लैंड दौरे के लिए दो टीमों की घोषणा की है। इकलौते टेस्ट और तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए मिताली राज के नेतृत्व में 18 सदस्यीय टीम बनाई गई है और टी-20 के लिए अलग 17 सदस्यीय टीम घोषित की गई है, जिसकी कमान हरमनप्रीत कौर को दी गई है। शेफाली के अलावा अनकैप्ड विकेटकीपर इंद्राणी रॉय ने भी दोनों टीमों में जगह बनाई है, जबकि कोरोना से न उबर पाने के कारण लेग स्पिनर राजेश्वरी गायकवाड़ को ड्राप आउट (छोड़) किया गया है।


7. इरेडा को किया गया 'हरित ऊर्जा पुरस्कार' से सम्मानित

इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स (ICC) ने 11 मई, 2021 को इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी लिमिटेड (IREDA) को 'हरित ऊर्जा पुरस्कार' से सम्मानित किया है। इस एजेंसी को अक्षय ऊर्जा के लिए वित्तपोषण संस्थान के तौर पर एक अग्रणी सार्वजनिक संस्थान होने के लिए सम्मानित किया गया है।

यह प्रतिष्ठित पुरस्कार इरेडा के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, प्रदीप कुमार दास ने महानिदेशक, अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन, डॉ अजय माथुर से प्राप्त किया। एक वर्चुअल समारोह के दौरान ICC की राष्ट्रीय विशेषज्ञ समिति के अध्यक्ष अनिल राजदान भी मौजूद थे।

इरेडा के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक ने यह पुरस्कार प्राप्त करते हुए कहा कि, यह पुरस्कार प्रधानमंत्री मोदी के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप अक्षय ऊर्जा क्षेत्र के विकास में इरेडा के अपार योगदान को मान्यता देता है।

इरेडा को हरित ऊर्जा पुरस्कार क्यों दिया गया है? : भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी लिमिटेड (इरेडा - इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी लिमिटेड) को हरित ऊर्जा वित्तपोषण में उनकी महत्त्वपूर्ण और विकासात्मक भूमिका के लिए पुरस्कार मिला है।इरेडा ने इस महामारी के बावजूद वर्ष, 2020-21 के अंत में जोरदार कामयाबी हासिल की है। इसने ऋण की दूसरी उच्चतम राशि को 8,827 करोड़ रुपये वितरित किये हैं।

कोविड - 19 महामारी की पहली और दूसरी लहर के दौरान IREDA द्वारा पहल : इरेडा ने एक 'कोविड केयर रिस्पांस टीम' का गठन किया है जो अपने कोविड-19 पॉजिटिव कर्मचारियों के साथ-साथ उनके परिवार के सदस्यों की भी लगातार देखभाल कर रही है। यह पहल जून, 2020 में शुरू की गई थी और इसके परिणामस्वरूप 11 मई, 2021 तक 'जीरो' कर्मचारी कोविड संक्रमित या उपचाराधीन हैं।

ऐसे समय में, जब पूरी दुनिया COVID-19 महामारी से निपटने के लिए संघर्ष कर रही है, इरेडा महामारी के लिए समय पर और सक्रिय दृष्टिकोण अपनाकर अपने कर्मचारियों के लिए सुरक्षित और स्वस्थ वातावरण सुनिश्चित करने में सक्षम है।

इरेडा के बारे में : इरेडा, जो नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण में है, देश में अक्षय ऊर्जा (RE) और ऊर्जा दक्षता (EE) परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिए भारत में एकमात्र समर्पित संस्थान है।

बीते वर्षों में, एजेंसी ने जिन ऋणों को मंजूरी दी है वे कुल मिलाकर 96,601 करोड़ रुपये हैं और 63,492 करोड़ रुपये का वितरण किया है। भारत में अब तक इरेडा ने 17,586 मेगावाट से अधिक अक्षय ऊर्जा क्षमता का योगदान दिया है।


8. साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता पत्रकार होमेन बरगोहाइँ का निधन

असमिया भाषा के प्रसिद्ध साहित्यकार और पत्रकार, होमेन बरगोहाइँ (Homen Borgohain) का निधन हो गया है।

वह कई समाचार पत्रों से जुड़े थे और हाल ही में उनकी मृत्यु तक असमिया दैनिक नियोमिया वार्ता (Niyomiya Barta) के प्रमुख के संपादक के रूप में कार्यरत थे।

वह असम साहित्य सभा के अध्यक्ष भी थे। उन्हें उनके उपन्यास 'पिता पुत्र’ के लिए असमिया भाषा के लिए 1978 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

उन्होंने कई उपन्यास, लघु कथाएँ और कविताएँ लिखी हैं।


9. अर्जुन पुरस्कार विजेता प्रसिद्ध पैडलर चंद्रशेखर का निधन

COVID से संबंधित जटिलताओं के कारण तीन बार के राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियन और पूर्व अंतर्राष्ट्रीय पैडलर वी. चंद्रशेखर (V. Chandrasekar) का निधन हो गया है।

वह तमिझागा टेबल टेनिस एसोसिएशन (Tamizhaga Table Tennis Association-TTTA) के वर्तमान अध्यक्ष थे।

63 वर्षीय चंद्रशेखर ने 1982 में अर्जुन पुरस्कार प्राप्त किया। सीता श्रीकांत के साथ चंद्रा की आत्मकथा, माय फाइटबेक फ्रॉम डेथस डोर (My fightback from Death’s Door) का प्रकाशन 2006 में हुआ था।


10. स्वतंत्रता सेनानी अनूप भट्टाचार्य का निधन

स्वतंत्रता सेनानी और स्वाधीन बंगला बेतर केंद्र के संगीतकार, अनूप भट्टाचार्य (Anup Bhattacharya) का निधन हो गया है।

बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के दौरान, उन्होंने स्वाधीन बंगला बेतर केंद्र (Swadhin Bangla Betar Kendra) में संगीतकार और संगीत निर्देशक के रूप में काम किया था।

वह रवीन्द्र संगीत शिल्पी संस्था (Rabindra Sangeet Shilpi Sangstha) के संस्थापक सदस्य भी हैं।

उनके उस समय के मुक्ति गीतों, जिसमे "तीर हारा ए ढेऊ-र सगोर", "रोक्तो दीये नाम लिखेछी," "पूरबो दिगोंते सुरजो उतेचे," और "नोंगोर तोलो तोलो" शामिल है, ने 1971 के दौरान मुक्ति युद्ध सेनानियों को प्रेरित किया। स्वाधीन बंगला बेतर केंद्र 1971 में रेडियो प्रसारण का माध्यम था।






  • Source of Internet

11 views0 comments

Recent Posts

See All