Search

13th & 14th June | Current Affairs | MB Books


1. 14 जून : विश्व रक्तदाता दिवस

विश्व रक्तदाता दिवस (World Blood Donor Day) 14 जून को दुनिया भर में मनाया जाता है।

थीम : Give blood and keep the world beating

पृष्ठभूमि : मई 2005 में, 58वीं विश्व स्वास्थ्य सभा (WHA) के दौरान, दुनिया भर के स्वास्थ्य मंत्रियों ने सर्वसम्मति से स्वैच्छिक रक्तदान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और समर्थन की घोषणा की और WHA58.13 के संकल्प के साथ, उन्होंने विश्व रक्तदाता दिवस को एक वार्षिक कार्यक्रम के रूप में नामित किया।

मेलबर्न घोषणा : बाद में 2009 में, ट्रांसफ्यूज़न चिकित्सा के क्षेत्र में विशेषज्ञों, नीति-निर्माताओं और 40 से अधिक देशों के गैर-सरकारी प्रतिनिधियों ने मेलबर्न घोषणा तैयार की, जिसने सभी देशों के लिए 2020 तक स्वैच्छिक (अवैतनिक) रक्त दाताओं से अपनी सभी रक्त आपूर्ति प्राप्त करने का लक्ष्य स्थापित किया।

यह तिथि क्यों? : यह दिवस 14 जून, 1868 को कार्ल लैंडस्टीनर (एक ऑस्ट्रियाई जीवविज्ञानी, चिकित्सक और प्रतिरक्षाविज्ञानी) की जन्मदिन की सालगिरह मनाने के लिए इस दिन मनाया जाता है। उन्हें रक्त समूह प्रणाली के विकास और वर्गीकरण, रीसस (Rh) फैक्टर की खोज के लिए जाना जाता है। उन्हें ट्रांसफ्यूज़न चिकित्सा के जनक के रूप में भी जाना जाता है।

उद्देश्य : यह नियमित रूप से सुरक्षित रक्तदान की आवश्यकता के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए कार्य करता है ताकि कि सभी व्यक्तियों/समुदायों को सुरक्षित और गुणवत्ता-सुनिश्चित रक्त और सभी रक्त उत्पादों की सस्ती और समय पर आपूर्ति हो। यह स्वैच्छिक रक्तदाताओं को उनके जीवन रक्षक उपहारों के लिए धन्यवाद देने के लिए भी मनाया जाता है।

महत्व : यह दिन सभी सरकारों, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरणों और राष्ट्रीय रक्त सेवाओं के लिए दुनिया भर में एक महत्वपूर्ण अवसर के रूप में कार्य करता है ताकि नियमित रूप से अवैतनिक रक्त दाताओं से रक्त का संग्रह बढ़ाने के लिए पर्याप्त बुनियादी ढांचा प्रदान किया जा सके।

प्राकृतिक आपदाओं, दुर्घटनाओं और सशस्त्र संघर्षों जैसी आपात स्थितियों के दौरान घायलों के उपचार में रक्त महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। मातृ देखभाल में इसकी एक आवश्यक, जीवन रक्षक भूमिका भी है। किसी देश के लिए एक प्रभावी स्वास्थ्य प्रणाली के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि पर्याप्त मात्रा में सुरक्षित रक्त और रक्त उत्पादों तक पहुंच आवश्यक है।


2. नफ्ताली बेनेट बने इजरायल के नए प्रधानमंत्री

नफ्ताली बेनेट (Naftali Bennett) ने हाल ही में इजराइल के नए प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ले ली है। नफ्ताली बेनेट ने सबसे कम अंतर 60-59 मतों के साथ विश्वास मत जीता। उनकी इस जीत ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के 12 साल के शासन को समाप्त कर दिया। बेंजामिन नेतन्याहू इजरायल के सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले नेता है।

मुख्य बिंदु : नफ्ताली बेनेट इजरायल पूर्व रक्षा मंत्री हैं। वे दक्षिणपंथी यामिना पार्टी (Yamina Party) के नेता हैं। उन्होंने इजरायल की संसद नेसेट में 60-59 वोटों से विश्व मत हासिल किया। वे अब इजरायल के 13वें प्रधानमंत्री बने गये हैं।

सत्ता-साझाकरण सौदे के हिस्से के रूप में नफ्ताली बेनेट सितंबर, 2023 तक प्रधान मंत्री रहेंगे। इसके बाद वह अगले दो साल के लिए यायर लैपिड (Yair Lapid) को सत्ता सौंपेंगे। बेंजामिन नेतन्याहू दक्षिणपंथी लिकुड पार्टी के प्रमुख बने रहेंगे और विपक्ष के नेता बनेंगे।

नफ्ताली बेनेट : नफ्ताली बेनेट (Naftali Bennett) एक इसरायली राजनेता हैं, वे वर्तमान में इजराइल के 13वें प्रधानमंत्री हैं। इसे पहले उन्होंने कई मंत्री पदों पर कार्य किया है। वे 2013-15 तक अर्थव्यवस्था मंत्री, 2013-19 तक प्रवासी मंत्री, 2015-19 तक शिक्षा मंत्री और 2019-20 के दौरान रक्षा मंत्री रहे। वे अपने करियर के दौरान अलग-अलग दलों से जुड़े हुए रहे हैं। 2013-18 तक वे ‘द ज्यूइश होम’, 2018-19 के दौरान ‘न्यू राईट’, 2019 में यामिना, 2019-20 के दौरान ‘न्यू राईट’ और 2020 में ‘यामिना’ के साथ जुड़े रहे।


3. मंगोलिया के पूर्व प्रधानमंत्री खुरेलसुख ने जीता राष्ट्रपति चुनाव

मंगोलिया के पूर्व प्रधान मंत्री, उखना खुरेलसुख देश के छठे लोकतांत्रिक रूप से चुने गए राष्ट्रपति बने, जिसने सत्तारूढ़ मंगोलियन पीपुल्स पार्टी (MPP) की सत्ता को एक शानदार जीत के साथ मजबूत किया।

रातों-रात 99.7% मतों की गिनती के साथ, खुरेलसुख की संख्या 821,136, या कुल के 68% तक पहुंच गई थी, जो 1990 में लोकतांत्रिक युग शुरू होने के बाद से वोट का सबसे बड़ा हिस्सा था।


4. भारतीय मूल की पत्रकार मेघा राजगोपालन ने जीता पुलित्ज़र पुरस्कार 2021

हाल ही में भारतीय मूल की पत्रकार मेघा राजगोपालन, एलिसन किलिंग और क्रिस ब्रुशेक ने पुलित्ज़र पुरस्कार 2021 जीता। उन्हें यह पुरस्कार चीन के शिन्झियांग प्रांत में उइगर मुसलमानों के लिए बनाये गये डिटेंशन कैम्पस की जानकारी दुनिया तक पहुंचाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया है।

चीन में उइगरों की स्थिति : चीन ने शिनजियांग प्रांत में उइगर और अन्य तुर्क मुसलमानों को नियंत्रित करने के लिए अपने प्रयासों को तेज कर दिया है। इसके लिए चीन ने कई प्रकार के कार्यक्रम शुरू किये हैं, इसमें महिलाओं की नसबंदी, शिविरों में बड़े पैमाने पर इंटर्नशिप, ज़बरन श्रम कार्यक्रम, व्यापक तकनीकी और मानव निगरानी इत्यादि शामिल हैं। हालांकि, चीन इन सभी आरोपों को खारिज करता है। चीन का तर्क है कि ये शिविर व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र हैं जो धार्मिक अतिवाद का मुकाबला करने के लिए आवश्यक हैं।

पुलित्ज़र पुरस्कार (Pulitzer Prize) : पुलित्ज़र पुरस्कार अमेरिका में अख़बार, मैगज़ीन, ऑनलाइन पत्रकारिता, साहित्य और संगीत के लिए दिया जाता है। इसकी स्थपाना 1917 में की गयी थी। यह पुरस्कार 21 श्रेणियों में दिया जाता है। प्रत्येक विजेता को एक प्रमाण पत्र और 15,000 डॉलर इनामस्वरुप दिए जाते हैं। इस पुरस्कार का नाम जोसफ पुलित्ज़र के नाम पर रखा गया है, वे एक अमेरिकी समाचार प्रकाशक थे।


5. केंद्रीय शिक्षा मंत्री के द्वारा जारी की गई AISHE 2019-20 रिपोर्ट

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने अखिल भारतीय उच्च शिक्षा सर्वेक्षण (AISHE-All India Survey on Higher Education) 2019-20 की रिपोर्ट जारी की है।

इस रिपोर्ट के अनुसार पिछले पांच वर्षों (2015-16 से 2019-20) में छात्रों के नामांकन में 11.4% की वृद्धि हुई है और 2015-16 से 2019-20 तक उच्च शिक्षा में महिला नामांकन में 18.2 फीसदी की वृद्धि हुई है।

AISHE 2019-20 उच्च शिक्षा पर अखिल भारतीय सर्वेक्षण की श्रृंखला का 10वां संस्करण है। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा इसे प्रतिवर्ष जारी किया जाता है।


6. भारत ने शुरू किया ‘Extension of Hospitals’ प्रोजेक्ट

भारत ने कोविड-19 से लड़ने के लिए प्रमुख स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे में अंतर को पाटने के लिए कई राज्यों में “Extension of Hospitals” परियोजना शुरू की है।

मुख्य बिंदु :

  • यह परियोजना विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों और छोटे शहरों में चलाई जाएगी।

  • मॉड्यूलर अस्पताल, अस्पताल के बुनियादी ढांचे का विस्तार हैं।

  • इसे मौजूदा अस्पताल भवन के बगल में बनाया जाएगा।

इस परियोजना की क्या आवश्यकता है? : कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच, अस्पतालों के बुनियादी ढांचे पर भारी दबाव पड़ा था। इस प्रकार, मॉड्यूलर अस्पताल का निर्माण एक बड़ी राहत होगी।

‘Extension Hospitals’ प्रोजेक्ट : यह परियोजना शुरू करने के लिए, प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय ने निजी क्षेत्र की कंपनियों, डोनर संगठनों और व्यक्तियों को आमंत्रित किया है। वे राष्ट्रीय महत्व की कई अन्य परियोजनाओं के साथ पहल का समर्थन करेंगे। उन राज्यों में लगभग 50 अस्पतालों का चयन किया गया है जहां सबसे ज्यादा कोविड-19 मामले सामने आए हैं।

मेडिकैब अस्पताल (MediCAB Hospitals) : MediCAB अस्पतालों को मॉड्यूलस हाउसिंग (Modulus Housing) द्वारा विकसित किया गया है जो IIT-M में एक स्टार्ट-अप इनक्यूबेट है। यह 3 सप्ताह के भीतर 100-बिस्तर विस्तार सुविधा का निर्माण करने में सक्षम होगा। मेडिकैब अस्पतालों को गहन देखभाल इकाइयों (ICU) के एक समर्पित क्षेत्र के साथ डिजाइन किया गया है जो कई जीवन-समर्थन उपकरण और चिकित्सा उपकरणों को समायोजित कर सकता है। इन पोर्टेबल अस्पतालों में लगभग 25 वर्षों का स्थायित्व (durability) है।

परियोजना का पहला चरण : पहले चरण के तहत छत्तीसगढ़ के बिलासपुर, महाराष्ट्र में अमरावती, पुणे और जालना; पंजाब के मोहाली में 100 बिस्तरों वाले अस्पताल शुरू किए जाएंगे जबकि छत्तीसगढ़ के रायपुर में 20 बेड का अस्पताल बनाया जाएगा।


7. भारत के नागराज अडिगा को इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ अल्ट्रारनर काउंसिल में एशिया-ओशिनिया प्रतिनिधि चुना गया

भारत के नागराज अडिगा को हाल ही में संपन्न 2021 इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ अल्ट्रारनर (IAU) काउंसिल में, जिसमें IAU परिषद चुनाव हुए थे, एशिया-ओशिनिया प्रतिनिधि के रूप में चुना गया है।

अडिगा स्वास्थ्य, फिटनेस को बढ़ावा देने और उभरते खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया और विभिन्न सरकारी निकायों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।


8. DBS बैंक ने फिर से फोर्ब्स के द्वारा 'दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बैंक' का खिताब जीता

DBS Bank को फोर्ब्स द्वारा विश्व के सर्वश्रेष्ठ बैंकों की सूची 2021 में नामित किया गया है।

DBS Bank लगातार दूसरे वर्ष भारत में 30 घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बैंकों में से नंबर 1 स्थान पर है। फोर्ब्स द्वारा 'विश्व के सर्वश्रेष्ठ बैंकों' की सूची का यह तीसरा संस्करण है, जो मार्केट रिसर्च फर्म स्टेटिस्टा (Statista) के साथ साझेदारी में आयोजित किया गया है।

दुनिया भर में 43,000 से अधिक बैंकिंग ग्राहकों का उनके वर्तमान और पूर्व बैंकिंग संबंधों पर सर्वेक्षण किया गया। इस सर्वेक्षण के तहत बैंकों को सामान्य संतुष्टि और विश्वास, डिजिटल सेवाओं, वित्तीय सलाह और शुल्क जैसी प्रमुख विशेषताओं के आधार पर अंक प्रदान किये गये।


9. कोविड-19 के रोगियों के लिए SBI ने लॉन्च की कवच पर्सनल लोन योजना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को कोविड-19 के उपचार के लिए स्वयं और परिवार के सदस्यों के चिकित्सा खर्चों को पूरा करने में सक्षम बनाने के लिए एक collateral-free "कवच व्यक्तिगत ऋण" योजना को लॉन्च किया है।

इस योजना के तहत, ग्राहक 60 महीनों के लिए 8.5 प्रतिशत प्रति वर्ष की ब्याज दर पर ₹5 लाख तक का ऋण बैंक से प्राप्त कर सकते हैं, जिसमें तीन महीने की मोहलत (moratorium) शामिल है।


10. नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) ने फ्रेंच ओपन में पुरुष एकल वर्ग का खिताब जीता

नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) ने पेरिस के रोलैंड गैरोस में पुरुष एकल वर्ग में फ्रेंच ओपन 2021 में अपना 19वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीता है।

मुख्य बिंदु :

  • उन्होंने 5वीं वरीयता प्राप्त स्टेफानोस सितसिपास (Stefanos Tsitsipas) के खिलाफ 2 सेट से वापसी करने के बाद यह खिताब जीता।

  • जोकोविच ने ग्रैंड स्लैम फाइनल में पहली बार 6-7 (6), 2-6, 6-3, 6-2, 6-4 से खिताब जीता।

  • वह ओपन एरा में कम से कम दो बार सभी 4 ग्रैंड स्लैम जीतने वाले पहले व्यक्ति बन गए हैं।

  • वह रॉय इमर्सन और रॉड लेवर के बाद सभी ग्रैंड स्लैम जीतने वाले तीसरे व्यक्ति हैं।

नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) : उनका जन्म 22 मई, 1987 को हुआ था, वे एक सर्बियाई पेशेवर टेनिस खिलाड़ी हैं, जिन्हें वर्तमान में Association of Tennis Professionals (ATP) द्वारा विश्व नंबर 1 के रूप में स्थान दिया गया है। वह कुल 325 हफ्तों के रिकॉर्ड के साथ नंबर 1 रहे हैं। उन्होंने 19 ग्रैंड स्लैम पुरुष एकल खिताब और 84 एटीपी एकल खिताब जीते हैं। इसमें रिकॉर्ड नौ ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब और रिकॉर्ड 36 मास्टर्स इवेंट भी शामिल हैं जिसे उन्होंने राफेल नडाल के साथ साझा किया है। वह एकमात्र खिलाड़ी हैं जिन्होंने सभी चार ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट, सभी नौ एटीपी मास्टर्स इवेंट और एटीपी फाइनल में सभी बड़े खिताब जीते हैं।

फ्रेंच ओपन (French Open) : फ्रेंच ओपन, जिसे रोलैंड गैरोस (Roland Garros) के नाम से भी जाना जाता है, फ्रांस के पेरिस में आयोजित किया जाने वाला एक प्रमुख टेनिस टूर्नामेंट है। यह हर साल मई के अंत में शुरू होता है। इस टूर्नामेंट का नाम फ्रेंच एविएटर रोलैंड गैरोस के नाम पर रखा गया है। यह एक क्ले कोर्ट टेनिस चैंपियनशिप टूर्नामेंट है।


11. पटियाला करेगा इंडियन ग्रांड प्रिक्स 4 की मेजबानी

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (AFI) ने घोषणा की कि Indian Grand Prix 4 का आयोजन 21 जून को राष्ट्रीय खेल संस्थान, पटियाला, पंजाब में किया जाएगा।

भारतीय एथलीटों को टोक्यो के लिए क्वालीफाई करने का अधिकतम मौका देने के लिए घरेलू आयोजनों की मेजबानी करने का निर्णय किया गया था।

भारत की स्टार स्प्रिंटर्स दुती चंद और हिमा दास के 2021 के चौथे भारतीय जीपी में भाग लेने की उम्मीद है। राष्ट्रीय अंतर-राज्य एथलेटिक्स चैंपियनशिप 25 जून से उसी स्थान पर आयोजित की जाएगी।


12. मध्य प्रदेश लांच करेगा ‘युवा शक्ति कोरोना मुक्ति अभियान’

मध्य प्रदेश कोविड-19 महामारी पर लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए ‘युवा शक्ति कोरोना मुक्ति अभियान’ (Yuva Shakti Corona Mukti Abhiyan) शुरू करने जा रहा है।

युवा शक्ति कोरोना मुक्ति अभियान :

  • इस अभियान के तहत कॉलेज के शिक्षकों और लगभग 16 लाख छात्रों को कोविड-19 संक्रमण के प्रति जागरूक कर उन्हें कोविड उपयुक्त व्यवहार और टीकाकरण की शिक्षा दी जाएगी।

  • उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सहयोग से यह अभियान चलाया जायेगा।

  • इस अभियान की प्रभावी वास्तविक समय निगरानी के लिए मोबाइल एप्प भी विकसित किया गया है।

मध्य प्रदेश में कोविड-19 मामले : मध्य प्रदेश कोरोना संक्रमण के मामले में भारत में 26वें स्थान पर है। राज्य में पिछले कुछ दिनों से 24 घंटे में 500 से कम मामले सामने आ रहे हैं। 20 जिलों में एक भी मामला सामने नहीं आया है। भोपाल, इंदौर और जबलपुर में दोहरे अंक में मामले देखे गए। राज्य में रोजाना करीब 80 हजार टेस्ट हो रहे हैं जबकि ठीक होने की दर 98.3 फीसदी पहुंच गई है।


13. कन्नड़ अभिनेता संचारी विजय (Sanchari Vijay) का निधन

14 जून, 2021 को प्रसिद्ध कन्नड़ अभिनेता संचारी विजय की सड़क दुर्घटना में मौत हो गयी है। वे 38 वर्ष के थे। उनके निधन पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री समेत कई गणमान्य लोगों ने शोक व्यक्त किया है। उनके निधन के बाद उनके परिवार ने उनके अंगो को दान करने का निर्णय लिया है।

संचारी विजय : संचारी विजय (Sanchari Vijay) का जन्म 1983 में कर्नाटक के चिकमंगलूर में हुआ था। उन्होंने अपने करियर में मुख्य रूप से कन्नड़ सिनेमा में कार्य किया, इसके अलावा उन्होंने कई तमिल, तेलुगु और हिंदी फिल्मों में भी कार्य किया है। विजय ने अपने करियर के शुरुआत वर्ष 2011 में रंगप्पा होगबितना फिल्म से की थी। उनकी कुछ एक प्रसिद्ध फ़िल्में इस प्रकार हैं : रामा रामा रघु रामा, दसवाला, हरिवु, ओग्गाराने, नानू अवन्ल्ला अवलू, किलिंग वीरप्पन, सिनेमा माय डार्लिंग, सिपाही, रिक्त, अलमा, नान मागले हीरोइन, वर्मान, अव्यक्त, कृष्ण तुलसी, अदुवु गोम्बे, जेंटलमैन इत्यादि।

नानू अवन्ल्ला अवलू में उन्हें एक ट्रांसजेंडर की भूमिका निभाने के लिए 62वें नेशनल फिल्म अवार्ड में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।


14. स्वतंत्र भारत के पहले ओलंपियन सूरत सिंह माथुर का निधन

ओलंपिक खेलों में मैराथन पूरी करने वाले स्वतंत्र भारत के पहले ओलंपियन सूरत सिंह माथुर का निधन हो गया।

1952 के हेलसिंकी ओलंपिक में दिग्गज एमिल ज़ातोपेक (Emil Zatopek) के साथ दौड़ते हुए, माथुर ने 2:58.92 सेकेंड में 52वें स्थान पर मैराथन पूरी की थी।

1951 में पहले एशियाई खेलों में उन्होंने कांस्य पदक जीता। उनका जन्म दिल्ली के मोहम्मदपुर माजरी गाँव (कराला) में हुआ था। वे दो बार के राष्ट्रीय चैंपियन थे।


15. प्रसिद्ध कन्नड़ कवि सिद्धलिंगैया का निधन

प्रसिद्ध कन्नड़ कवि, नाटककार और दलित कार्यकर्ता, सिद्धलिंगैया का कोविड -19 बीमारी से लड़ते हुए निधन हो गया।

वह कर्नाटक के पहले प्रमुख दलित कवियों में से एक थे, और लोग उन्हें प्यार से "दलिता कवि" बुलाते थे।

उन्हें कन्नड़ में दलित-बंदया साहित्यिक आंदोलन शुरू करने और दलित लेखन की शैली शुरू करने का श्रेय दिया जाता है। वह राज्य में दलित संघर्ष समिति के संस्थापकों में से एक थे।










  • Source of Internet

5 views0 comments

Recent Posts

See All