Search

8th January | Current Affairs | MB Books


1. एलेक्स एलिस होंगे भारत में नए ब्रिटिश उच्चायुक्त

अलेक्जेंडर एलिस को भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त नियुक्त किया गया है।

उन्होंने यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के कैबिनेट कार्यालय में उप-राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, महानिदेशक और विभाग में ब्रिटिश राजदूत सहित कई पदों पर कार्य किया है।

एलिस, फिलिप बार्टन की जगह लेंगे। अगस्त 2020 में, बार्टन को यूके के नवगठित विदेशी, कॉमनवेल्थ और विकास कार्यालय में स्थायी अंडरस्ट्रेक्ट्री के रूप में पदोन्नत किया गया था।


2. भारत की पहली डबल स्टैक लॉन्ग-हॉल कंटेनर ट्रेन को रवाना किया गया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में हरियाणा के न्यू अटेली से राजस्थान के न्यू किशनगंज तक पहली डबल स्टैक लॉन्ग-हॉल कंटेनर ट्रेन को रवाना किया।

डबल स्टैक लॉन्ग-हॉल कंटेनर ट्रेन की मुख्य विशेषताएं

इस ट्रेन को पश्चिमी समर्पित फ्रेट कॉरिडोर के 360 किलोमीटर लंबे रेवाड़ी-मदार खंड में पर चलाया जायेगा।

यह ट्रेन 5 किलो मीटर लंबी है।

यह इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन द्वारा नियोजित है।

भारत में माल गाड़ियों की गति सीमा क्या है?

वर्तमान में, मालगाड़ियों को 75 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से चलाया जाता है। इस गति को 100 किमी / घंटा तक बढ़ाया जायेगा। माल गाड़ियों की औसत गति 26 किमी / घंटा से बढ़ाकर 70 किमी / घंटा की जायेगा।

मिशन शीघ्र क्या है?

भारतीय रेलवे ने उत्तर प्रदेश में मिशन शीघ्रा का संचालन किया। इसे भारतीय रेलवे के लखनऊ मंडल द्वारा लॉन्च किया गया था। इस मिशन के तहत, ट्रेनों ने अधिकतम 100 किमी / घंटा की अधिकतम स्वीकार्य गति प्राप्त की।

ट्रेनों में गति सीमा महत्वपूर्ण क्यों हैं?

अगर ट्रेन सीधी लाइन में यात्रा कर रही हैं तो उच्च गति कोई समस्या नहीं है। हालांकि, उतार-चढ़ाव वाले क्षेत्रों में उचित गति बनाए नहीं रखने से ट्रेन डीरेल हो सकती है। भारत में, ट्रेनों की गति सीमा सार्वभौमिक है, अर्थात देश की सभी ट्रेनों पर लागू होती है।

समर्पित फ्रेट कॉरिडोर क्या हैं?

समर्पित फ्रेट कॉरिडोर उच्च गति उच्च क्षमता वाले रेलवे गलियारे हैं जो विशेष रूप से माल ढुलाई के लिए हैं। पश्चिमी समर्पित माल गलियारा मुंबई के जवाहरलाल नेहरू पोर्ट से लेकर उत्तर प्रदेश के दादरी तक है। पूर्वी फ्रेट कॉरिडोर पश्चिम बंगाल में डाकुनी और पंजाब में लुधियाना को जोड़ता है। दक्षिण-पश्चिम समर्पित फ्रेट कॉरिडोर चेन्नई और गोवा को जोड़ता है।

समर्पित फ्रेट कॉरिडोर के लाभ

वे लॉजिस्टिक्स लागत को कम करते हैं। वे अधिक पर्यावरण के अनुकूल हैं। वे सामानों की तेज आवाजाही में मदद करते हैं।


3. पुरुषों के टेस्ट मैच में मैच अधिकारी बनने वाली पहली महिला अंपायर बनी क्लेयर पोलोस्क

ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोस्क भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे टेस्ट में चौथे अंपायर भूमिका निभाकर पुरुषों के टेस्ट मैच में अंपायर बनने पहली महिला अधिकारी बन गई है।

न्यू साउथ वेल्स की 32 वर्षीय, ने पहले ही ICC की डिवीजन 2 में पुरुष वनडे मैच में नामीबिया और ओमान के बीच 2019 में विंडहोक में खेले जाने वाले पुरुष वनडे मैच में पहली महिला होने का गौरव हासिल कर है।


4. बिडेन ने जज मेरिक गारलैंड को चुना अटॉर्नी जनरल

नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन फेडेरल अपील जज मेरिक गारलैंड (Merrick Garland) को अगले अमेरिकी अटॉर्नी जनरल के रूप में नामित करेंगे।

वह वर्तमान कोलंबिया के सर्किट के जिला के अपील न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में कार्य करता है, जो 13 संघीय अपीलीय अदालतों में से एक है।

नागरिक और मानवाधिकार पर लीडरशिप सम्मेलन की प्रमुख वनिता गुप्ता को बिडेन द्वारा एसोसिएट अटॉर्नी जनरल नामित किया जाएगा, जो विभाग में नंबर 3 की पोस्ट है।


5. NFHS-5 के प्रतिकूल निष्कर्षों का अध्ययन करने के लिए प्रीति पंत पैनल का गठन किया गया

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने हाल ही में राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 (National Family Health Survey-5) से प्रतिकूल निष्कर्षों का अध्ययन करने के लिए एक तकनीकी विशेषज्ञ समूह का गठन किया है।

मुख्य बिंदु

स्वास्थ्य मंत्रालय ने संयुक्त सचिव प्रीति पंत के नेतृत्व में चिकित्सा और पोषण विशेषज्ञों की तकनीकी समिति का गठन किया है। इस विशेषज्ञ समूह में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और कर्नाटक के राज्य कार्यक्रम अधिकारी भी शामिल हैं। यह समिति राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण -5 के निष्कर्षों की जांच करेगी और साथ ही एनीमिया, कुपोषण, सी-सेक्शन और स्टंटिंग से संबंधित संकेतकों में सुधार करने के लिए नीतियों और कार्रवाई के लिए सुझाव देगी। यह नवगठित तकनीकी विशेषज्ञ समूह नियमित रूप से बैठकें करेगा और जल्द ही अपनी सिफारिशें देगा।

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 5 के पहले चरण की फैक्टशीट दिसंबर, 2020 में जारी की गई थी। इसमें 22 राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों को शामिल किया गया था और इसमें 131 सूचकों जैसे परिवार कल्याण, जनसंख्या, पोषण, प्रजनन और बाल स्वास्थ्य आदि के बारे में जानकारी दी गई थी।

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 से पहले, 1992-93, 1998–99, 2005–06 और 2015-16 में चार सर्वेक्षण किए गए हैं। राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के सभी राउंड इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर पॉपुलेशन साइंसेज (आईआईपीएस), मुंबई द्वारा आयोजित किए गए थे।


6. भारत और NDB ने आंध्र प्रदेश के लिए 646 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर किए हस्ताक्षर

न्यू डेवलपमेंट बैंक (NDB) ने आंध्र प्रदेश में दो सड़क परियोजनाओं के लिए भारत सरकार के साथ 646 मिलियन अमरीकी डालर के ऋण समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

प्रत्येक परियोजना की लागत 323 मिलियन अमरीकी डालर है।

ये परियोजनाएं सामाजिक आर्थिक केंद्रों के लिए गतिशीलता और कनेक्टिविटी में सुधार करेंगी, परिवहन दक्षता में सुधार करेंगी, सड़क सुरक्षा और यात्रा गुणवत्ता में सुधार करेंगी, और राज्य के सड़क उपयोगकर्ताओं के लिए सभी मौसम में सुलभता प्रदान करेंगी।

पहली परियोजना आंध्र प्रदेश सड़क और पुल पुनर्निर्माण परियोजना है। इसमें राज्य मार्गों के 1,600 किमी चौड़े हिस्से को डबल लेन और राज्य मार्ग नेटवर्क पर पुराने-जज्जर पुलों का पुनर्निर्माण शामिल है।

दूसरी परियोजना आंध्र प्रदेश मंडल कनेक्टिविटी और ग्रामीण कनेक्टिविटी सुधार परियोजना है। इसमें 1,400 किलोमीटर की जिला सड़कों को डबल लेन तक चौड़ा करने और जिला सड़क नेटवर्क पर पुराने-जज्जर पुलों का पुनर्निर्माण शामिल है।


7. देश की अर्थव्यवस्था में इस साल 7.7 प्रतिशत गिरावट का अनुमान

कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के गहरे असर के परिणामस्वरूप देश की अर्थव्यवस्था में चालू वित्त वर्ष (2020-21) में 7.7 प्रतिशत गिरावट का अनुमान है। इससे पिछले वर्ष 2019-20 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 4.2 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई थी। मुख्य रूप से विनिर्माण और सेवा क्षेत्र के खराब प्रदर्शन की वजह से अर्थव्यवस्था में गिरावट आने का अनुमान है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) द्वारा गुरुवार को जारी राष्ट्रीय आय के पहले अग्रिम अनुमान में कहा गया है कि कृषि और जनउपयोगी सेवाओं मसलन बिजली और गैस आपूर्ति को छोड़कर अर्थव्यस्था के लगभग सभी क्षेत्रों में गिरावट आने का अनुमान है। एनएसओ के अनुसार, 2020-21 में स्थिर मूल्य (2011-12) पर वास्तविक जीडीपी या जीडीपी 134.40 लाख करोड़ रुपए रहने का अनुमान है। वहीं वर्ष 2019-20 में जीडीपी का शुरुआती अनुमान 145.66 लाख करोड़ रुपए रहा है। इस लिहाज से 2020-21 में वास्तविक जीडीपी में अनुमानत: 7.7 प्रतिशत की गिरावट आएगी जबकि इससे पिछले साल जीडीपी में 4.2 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई थी। हालांकि सकल घरेलू उत्पाद में गिरावट का आंकड़ा कुछ अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों मसलन अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) और विश्व बैंक के अनुमान से कहीं कम है।एनएसओ का अनुमान है कि आधार कीमत पर वास्तविक सकल मूल्य वर्धन (जीवीए) 2020-21 में 123.39 लाख करोड़ रुपए रहेगा, जो 2019-20 में 133.01 लाख करोड़ रुपए रहा है। जीवीए में शुद्ध करों को शामिल नहीं किया जाता। चालू वित्त वर्ष में विनिर्माण क्षेत्र के जीवीए में 9.4 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है। वहीं 2019-20 में विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर लगभग स्थिर (0.03 प्रतिशत) रही थी।एनएसओ का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में खनन और संबद्ध क्षेत्रों तथा व्यापार, होटल, परिवहन, संचार और प्रसारण से संबंधित सेवाओं में क्रमश: 12.4 प्रतिशत और 21.4 प्रतिशत की गिरावट आएगी। इसी तरह निर्माण क्षेत्र में भी 12.6 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है। आंकड़ों के अनुसार लोक प्रशासन, रक्षा और अन्य सेवाओं में 3.7 प्रतिशत की गिरावट आएगी। वहीं वित्तीय, रियल एस्टेट और पेशेवर सेवाओं में 0.8 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है। हालांकि 2020-21 में कृषि, वन और मत्स्य पालन की वृद्धि दर 3.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है जबकि 2019-20 में इस क्षेत्र की वृद्धि दर 4 प्रतिशत रही थी।इसी तरह चालू वित्त वर्ष में बिजली, गैस, जलापूर्ति और अन्य यूटिलिटी सेवाओं की वृद्धि दर 2.7 प्रतिशत रहने का अनुमान है। 2019-20 में इन क्षेत्रों की वृद्धि दर 4.1 प्रतिशत रही थी। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था में 23.9 प्रतिशत और दूसरी तिमाही में 7.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। वहीं एनएसओ के तिमाही अनुमानों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में वास्तविक जीडीपी में 15.7 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई। वहीं तिमाही दर तिमाही आधार पर जीडीपी में पहली तिमाही के मुकाबले दूसरी तिमाही में 21 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। एनएसओ के अग्रिम अनुमान में तीसरी और चौथी तिमाही के दौरान गतिविधियां लगातार बढ़ती दिख रही हैं। इससे वित्त वर्ष 2020-21 की समाप्ति अर्थव्यवस्था में 7.7 प्रतिशत की गिरावट के साथ होने का अनुमान है। भारतीय रिजर्व बैंक का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.5 प्रतिशत की गिरावट आएगी। हालांकि पहले केंद्रीय बैंक ने अर्थव्यवस्था में 9.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया था। विश्व बैंक ने अपने ताजा वैश्विक आर्थिक परिदृश्य में 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 9.6 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है। इसी तरह आईएमएफ का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.3 प्रतिशत की गिरावट आएगी। हालांकि उसका अनुमान है कि अगले वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था 8.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करेगी। मूडीज इन्वेस्टर सर्विस ने चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.6 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है। पहले उसने अर्थव्यवस्था में 11.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया था।


8. करन बाजवा होंगे एशिया प्रशांत में गूगल क्लाउड के नए प्रमुख

गूगल क्लाउड ने करण बाजवा को एशिया प्रशांत के लिए अपना नया प्रमुख बनाने की घोषणा की है।

वर्तमान में, बाजवा भारत में गूगल क्लाउड का नेतृत्व कर रहे है।

वह गूगल क्लाउड के सभी क्षेत्रीय राजस्व और गो-टू-मार्केट संचालन का नेतृत्व करेंगे, जिसमें गूगल क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म (GCP) और गूगल वर्कप्लेस शामिल हैं।

वह रिक हर्षमैन का स्थान लेंगे है जो अधिकांश नया अवसर मिलने पर संगठन छोड़ देते है।

वर्तमान में, बाजवा गुड़गांव में स्थित गूगल कार्यलय में कार्यत है, लेकिन 2021 में वह सिंगापुर शिफ्ट हो जाएंगे।

हालाँकि वह भारत में गूगल क्लाउड के प्रमुख के रूप में बने रहेंगे, जब तक इसके नए प्रमुख की नियुक्ति नहीं हो जाती है।


9. केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए दी 28,400 करोड़ रुपये की मंजूरी

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने हाल ही में केंद्र शासित प्रदेश के लिए 28,400 करोड़ रुपये की औद्योगिक विकास योजना की घोषणा की। यह योजना जम्मू-कश्मीर में नए निवेश, पर्याप्त विस्तार और मौजूदा उद्योगों को प्रोत्साहित करेगी।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि केंद्र सरकार ने क्षेत्र की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने और रोजगार के मौके उपलब्ध कराने के लिए जम्मू-कश्मीर के लिए 28,400 करोड़ की औद्योगिक विकास योजना को मंजूरी प्रदान की है। उन्होंने इन योजनाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है।

योजना क्या है?

सरकार का कहना है कि जम्मू-कश्मीर में पहली बार कोई औद्योगिक योजना ब्लॉक स्तर तक जा रही है। यह योजना साल 2037 तक के लिए है। यह योजना 28,400 करोड़ रुपये की है। सरकार ने कहा है कि इस योजना के सहारे सरकार का उद्देश्य 4.5 लाख लोगो को रोजगार उपलब्ध कराना है। इस योजना से क्षेत्र के स्थानीय क्षमताओं को बढ़ावा दिया जाएगा। सरकार इस योजना के तहत कृषि, डेयरी उद्योग, रेशम, मछली और पशुपालन उद्योग को बढ़ावा दिया जाएगा।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने क्या कहा? उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में विनिर्माण और सेवा क्षेत्र की इकाइयों को फायदा मिलेगा और यह योजना भारतीय अर्थव्यवस्था में जम्मू-कश्मीर की बड़ी भूमिका को दर्शाती है। उन्होंने कहा कि यह योजना जम्मू-कश्मीर की स्थानीय क्षमताओं के उपयोग को बढ़ावा देगी और इसका उद्देश्य विनिर्माण तथा सेवा क्षेत्रों में सरकारी नौकरियों से परे रोजगार पैदा करना है। उपराज्यपाल ने कहा कि पिछले 16 महीनों में जम्मू-कश्मीर समृद्धि और आर्थिक सफलता की गारंटी के साथ नए अवसरों के क्षेत्र के रूप में उभरा है। इससे नए निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा। साथ ही जम्मू-कश्मीर में मौजूदा उद्योगों का विस्तार होगा। उपराज्यपाल ने कहा कि साल 2019 तक औद्योगिक नीति में केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई कुल राशि 1123.84 करोड़ थी, जबकि नई नीति में 24,800 करोड़ रुपये की ऐतिहासिक राशि का परिव्यय है। जम्मू-कश्मीर में मेट्रो ट्रेन का सफर उपराज्यपाल के मुताबिक जम्मू और कश्मीर में ऊर्जा इंफ्रास्ट्रक्चर को सुचारू करने के लिए प्रशासन लंबी और कम समय की रणनीति पर काम कर रहा था। मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू और कश्मीर को पहले सड़क संपर्क के क्षेत्र में प्रगति मिली और निकट भविष्य में हर गांव अच्छी सड़क से जुड़ जाएंगे। साल 2023 में जम्मू और कश्मीर के लोग पहली बार मेट्रो ट्रेन में सफर करेंगे। 10. सबसे पुराने जीवित प्रथम श्रेणी के क्रिकेटर एलन बर्गेस का निधन प्रथम श्रेणी के दुनिया के सबसे पुराने जीवित क्रिकेटर एलन बर्गेस का 100 वर्ष की आयु में निधन। दाहिने हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के धीमी गति के गेंदबाज, एलन ने 1940/41 से 1951/52 तक कैंटरबरी के लिए 11 प्रथम श्रेणी मैच और 1945 में इंग्लैंड में न्यूजीलैंड सर्विसेज के लिए भी खेले थे। उन्होंने क्रिसमस डे 1940 से शुरू होने वाले मैच में लैंकेस्टर पार्क में ओटागो के खिलाफ 6-52 से अपने करियर की शुरुआत की थी। एलन बर्गेस द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान इंग्लैंड में न्यूजीलैंड की सेना में एक टैंक चालक थे। उनकी मृत्यु के बाद, भारत के रघुनाथ चंदोरकर अब सबसे पुराने प्रथम श्रेणी के क्रिकेटर हैं। 11. RBI ने 50 करोड़ रुपये से अधिक के NEFT, RTGS लेनदेन के लिए की लीगल एंटिटी आइडेंटिफ़ायर की शुरुआत भारतीय रिजर्व बैंक ने रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (NEFT) के जरिए संस्थाओं (गैर-व्यक्तियों) द्वारा किए जाने वाले 50 करोड़ रुपये अथवा उससे अधिक मूल्य के सभी भुगतान लेनदेन के लिए लीगल एंटिटी आइडेंटिफ़ायर (LEI) की शुरुआत की है। रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (NEFT) RBI द्वारा संचालित सेंट्रलाइज्ड पेमेंट सिस्टम हैं। यह निर्देश 01 अप्रैल, 2021 से लागू होगा। लीगल एंटिटी आइडेंटिफ़ायर (LEI) एक 20-अंकीय संख्या है जिसका उपयोग दुनिया भर में वित्तीय लेनदेन के लिए विशिष्ट रूप से पार्टियों की पहचान करने के लिए किया जाता है। रिज़र्व बैंक ने बड़े पैमाने पर कर्ज लेने वालों और नॉन-डेरीवेटिव मार्केट्स के साथ-साथ बड़े कॉर्पोरेट उधारकर्ताओं के लिए भी LEI को चरणबद्ध तरीके से शुरू किया है। LEI, को लीगल एंटिटी आइडेंटिफ़ायर इंडिया लिमिटेड (LEIL) से प्राप्त किया जा सकेगा, जो कि Clearing Corporation of India Ltd (CCIL) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है। 12. SMCB, SFB के लिए लाइसेंस पाने वाला बना भारत का पहला अर्बन-कोऑपरेटिव बैंक उत्तर प्रदेश स्थित शिवालिक मर्केंटाइल को-ऑपरेटिव बैंक (SMCB) भारत का पहला ऐसा शहरी सहकारी बैंक (UCB) बन गया है, जिसने RBI से स्मॉल फाइनेंस बैंक (SFB) का संचालन करने का लाइसेंस प्राप्त किया है। आरबीआई ने SMCB को कारोबार शुरू करने के लिए 18 महीने का समय दिया था। SMCB ने वोलंटरी ट्रांजीशन स्कीम के तहत SFB ट्रांजीशन के लिए 06 जनवरी 2021 को बैंकिंग नियामक भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से वाणिज्यिक बैंकिंग लाइसेंस प्राप्त किया। शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक (SSFB) अप्रैल 2021 से अपना बैंकिंग परिचालन शुरू करेगा। 13. आर. कौशिक द्वारा भारत के दौरों पर लिखी गई पुस्तक का हुआ विमोचन 'इंडियाज 71-इयर टेस्ट: द जर्नी टू ट्रायम्फ इन ऑस्ट्रेलिया' नामक एक पुस्तक का विमोचन किया गया, जो भारत के पिछले 12 टूर की कहानी बयान करती है। ब्रैडमैन संग्रहालय पहल नामक पुस्तक, वरिष्ठ क्रिकेट लेखक आर. कौशिक द्वारा लिखी गई है, और यह एक प्रतिद्वंद्विता को आगे बढ़ाती है जिसने टेस्ट क्रिकेट को एक उत्साह दिया है। 14. विराट कोहली बने दशक के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी, जीता सर गारफील्ड सोबर्स अवार्ड भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को आईसीसी ने ‘दशक का सबसे बेहतरीन पुरुष’ खिलाड़ी चुना है, इसके लिए विराट कोहली को सर गारफील्ड सोबर्स अवार्ड से सम्मानित किया जायेगा। गौरतलब है कि इस अवधि में विराट कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 20,396 रन बनाये। इस दौरान उन्होंने कुल मिलाकर सबसे ज्यादा 66 शतक लगाए और सबसे सबसे ज्यादा 94 अर्द्धशतक लगाए। 70 से ज्यादा पारियां खेलने वाले बल्लेबाजों में विराट कोहली का औसत सबसे अधिक 56.97 है। मुख्य बिंदु इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने T20I, ODI और दशक की टेस्ट टीमों की घोषणा की है। भारतीय टीम के पूर्व महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को T20I और दशक की ODI टीम का कप्तान चुना गया है। दशक की टी-20 टीम में चार भारतीय खिलाड़ियों को शामिल किया गया है और 3 भारतीय खिलाड़ियों को दशक की वनडे टीम में शामिल किया गया है। दशक की टी-20 टीम में शामिल खिलाड़ी हैं – एम.एस. धोनी, विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह। दशक की वनडे टीम में 3 भारतीय खिलाड़ी हैं- एम.एस. धोनी, विराट कोहली, और रोहित शर्मा। T20I Team of the Decade: एम.एस. धोनी (कप्तान) रोहित शर्मा, विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह, एबी डीविलियर्स, ग्लेन मैक्सवेल, काईरन पोलार्ड, क्रिस गेल, आरोन फिंच, राशिद खान और लसिथ मलिंगा। ICC’s ODI Team of the Decade: एम.एस. धोनी (कप्तान), रोहित शर्मा, विराट कोहली, डेविड वार्नर, ट्रेंट बोल्ट, एबी डिविलियर्स, बेन स्टोक्स, शाकिब अल हसन, मिशेल स्टार्क, लसिथ मलिंगा और इमरान ताहिर। Test Team of the Decade : विराट कोहली (कप्तान), एलिस्टेयर कुक, केन विलियमसन, रवि अश्विन, डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ, बेन स्टोक्स, स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन, डेल स्टेन, और कुमार संगकारा। Women T20I Team of the Decade : मेग लैनिंग (कप्तान), एलिसे पेरी, एलिसा हीली, हरमनप्रीत कौर, पूनम यादव, आन्या श्रूबसोले, सोफी डिवाइन, स्टेफ़नी टेलर, सूज़ी बेट्स, डिआंड्रा डोटिन और मेगन शुट्ट। 15. कारगिल में हुआ खेलो इंडिया आइस हॉकी टूर्नामेंट का शुभारंभ लद्दाख के चिकटन में खेलो इंडिया आइस हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन आरंभ हो गया है। यह पहला मौका है जब चिकटन की महिला टीम कारगिल जिले में खेले जा रहे खेलो इंडिया गेम्स में भाग लिया। टूर्नामेंट में चिकटन के विभिन्न गांवों से भाग लेने वाली 13 टीमें हैं, जिसमें 11 पुरुष टीम और 2 महिला टीमें शामिल हैं। टूर्नामेंट का उद्घाटन एसडीएम शकर चिकटन और आयोजन के मुख्य अतिथि काचो असगर अली खान ने ZPEO चिकटन गुलाम रसूल के साथ-साथ प्रभारी पुलिस पोस्ट-चिकटन की मौजूदगी में किया।

  • Source of Internet

8 views0 comments

Recent Posts

See All