Search

7th November | Current Affairs | MB Books


1. अमेरिका के परमाणु सुरक्षा प्रशासन की निदेशक ने दिया इस्तीफा

अमेरिका के परमाणु सुरक्षा प्रशासन विभाग की निदेशक लिसा गॉर्डन-हेगर्टी ने शुक्रवार व्हाइट हाउस को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

डिफेंस न्यूज ने वरिष्ठ अधिकारियों के हवाले से बताया कि सुश्री लिसा ने पिछले 1 वर्ष से ऊर्जा सचिव डैन ब्रोइलेट के साथ बढ़ते नोकझोक के कारण इस्तीफा दिया है।

ब्रोइलेट पर विभाग के फंड का दुरुपयोग करने का आरोप है। लिसा जॉर्डन इस पद को संभालने वाली पहली महिला थीं। उन्हें फरवरी 2018 में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नियुक्त किया था।


2. कोयला पर भारत-इंडोनेशिया के बीच 5वां संयुक्त कार्य समूह वर्चुअली आयोजित किया गया

5 नवंबर, 2020 को भारत-इंडोनेशिया के बीच कोयला पर पांचवें संयुक्त कार्य समूह की बैठक आयोजित की गयी। इस कार्य समूह की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित की गई थी।

मुख्य बिंदु

इस बैठक के दौरान, दोनों देशों ने भारतीय कोयला नीति सुधारों, भारत में कोयले के वाणिज्यिक खनन और कोयला उत्खनन पर चर्चा की।

पृष्ठभूमि

भारत वर्तमान में इंडोनेशिया से अधिक कोयला आयात करने के अवसरों की तलाश कर रहा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि विश्व बाजार में कोयले की कीमतें तेजी से घट रही हैं।

इंडोनेशिया ही क्यों?

भारत को इंडोनेशिया से अपने कोयले के आयात को बढ़ाना है, क्योंकि सितंबर 2020 में इंडोनेशिया में कोयले की कीमतों में भारी गिरावट आई है। मार्च 2020 से कीमतों में गिरावट जारी है।

इंडोनेशिया दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा कोयला उत्पादक है। विश्व के कोयले के निर्यात में इंडोनेशिया का हिस्सा 40% है। चीन इंडोनेशिया के प्रमुख कोयला ग्राहकों में से एक है। इंडोनेशिया चीन की आर्थिक मंदी से पीड़ित है और भारत अब तक इस खाई को भरने में विफल रहा है। ऐसा इसलिए था क्योंकि भारत वर्तमान में अपने घरेलू कोयला उत्पादन को बढ़ाने की योजना बना रहा है।

भारत में वर्तमान परिदृश्य

भारत में दुनिया में चौथा सबसे बड़ा कोयला भंडार है। फिर भी, भारत अन्य देशों से 250 मिलियन टन से अधिक कोयला आयात करता है। भारत सरकार ने हाल ही में घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए कोयला खदानों को निजी क्षेत्र के लिए खोल दिया है।

दक्षिण अफ्रीका भारत का सबसे बड़ा कोयला आपूर्तिकर्ता है जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया है।

कोयला क्षेत्र सुधार

भारत सरकार ने हाल ही में घरेलू कोयला उत्पादन बढ़ाने के लिए कई उपाय किए हैं। कोयला खदानों को राजस्व साझेदारी के आधार पर निजी कंपनियों को पेश किया जायेगा। साथ ही, वाणिज्यिक खनन की अनुमति दी जा रही है, कोल बेड मीथेन निष्कर्षण अधिकारों की नीलामी की गई है और कोयला गैसीकरण को प्रोत्साहित किया गया है।


3. तंजानिया के राष्ट्रपति जॉन पोम्बे मागुफुली ने जीता दूसरा कार्यकाल

तंजानिया के राष्ट्रपति जॉन पोम्बे मागुफुली (John Pombe Magufuli) ने पांच साल के दूसरे कार्यकाल के लिए राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की है। उन्होंने 05 नवंबर 2020 को पद की शपथ ली।

मागुफुली ने 28 अक्टूबर हुए चुनावों में कुल मतों में से 84% वोट हासिल किए। उन्हें तंजानिया के पांचवें राष्ट्रपति के रूप में चुना गया और वे 2015 से इस पद पर हैं।

इन चुनावों में CHADEMA पार्टी के उम्मीदवार टुंडु लिसु (Tundu Lissu) दूसरे स्थान पर रहे।

4. DMC ने "प्लास्टिक लाओ मास्क ले जाओ" पहल का किया शुभारंभ

उत्तराखंड के देहरादून नगर निगम (DMC) ने प्लास्टिक कचरे के खतरे से निपटने और कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए "प्लास्टिक लाओ मास्क ले जाओ" नामक से एक नई पहल की शुरूआत की है।

इस पहल के तहत प्लास्टिक कचरे के बदले पांच हजार फेस मास्क वितरित किए जाएंगे।

देहरादून के नगर आयुक्त विनय शंकर पांडे अपने घर से प्लास्टिक कचरा लाकर और फेस मास्क प्राप्त कर और प्लास्टिक कचरे के खिलाफ जनता में जागरूकता पैदा करके और मास्क का महत्व बताने वाले पहले व्यक्ति बने थे।

5. भारत सरकार ने टेलीविजन रेटिंग एजेंसियों के दिशानिर्देशों की समीक्षा के लिए गठित की समिति

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार ने भारत में टेलीविजन रेटिंग एजेंसियों के लिए लागू दिशानिर्देशों की समीक्षा करने के लिए एक समिति का गठन किया है। इस समिति की अध्यक्षता प्रसार भारती के CEO शशि शेखर वेम्पती करेंगे।

यह समिति मौजूदा टेलीविजन रेटिंग दिशानिर्देशों की पुनः समीक्षा करेगी ताकि उन्हें अधिक विश्वसनीय और पारदर्शी बनाने के लिए विभिन्न प्रक्रियाओं को और मजबूत बनाया जा सके।

शशि थरूर के नेतृत्व में, सूचना प्रौद्योगिकी के संसदीय पैनल ने पिछले महीने सर्वसम्मति से सहमति व्यक्त की थी कि, टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स (TRP) के माध्यम से दर्शकों के अनुमानों को मापने की वर्तमान प्रणाली त्रुटिपूर्ण है और इसकी तकनीक अब पुरानी हो चुकी है।

समिति की संरचना

अध्यक्ष - शशि शेखर वेम्पति, CEO, प्रसार भारती।

समिति के सदस्य

डॉ. शलभ, IIT, कानपुर में गणित और सांख्यिकी विभाग में सांख्यिकी प्रोफेसर।

डॉ. राजकुमार उपाध्याय, C-DOT के कार्यकारी निदेशक।

पुलक घोष, सार्वजनिक नीति के लिए डिसीजन साइंस सेंटर के प्रोफेसर।

इसके अलावा, यह समिति किसी विशेषज्ञ को भी एक विशेष आमंत्रित व्यक्ति के तौर पर आमंत्रित कर सकती है।

हमें समिति की आवश्यकता क्यों है?

सूचना एवं प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने एक आदेश में यह कहा है कि, भारत में टेलीविजन रेटिंग एजेंसियों के मौजूदा दिशानिर्देशों को टेलीविज़न रेटिंग पॉइंट्स पर मंत्रालय द्वारा गठित संसदीय समिति और संसदीय समिति द्वारा विस्तृत विचार-विमर्श के बाद और टेलीकॉम नियामक प्राधिकरण से प्राप्त सिफारिशों के बाद अधिसूचित किया गया था।

हालांकि, वर्तमान में भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) की हालिया सिफारिशों, तकनीकी प्रगति और इस व्यवस्था को संचालित करने के लिए हस्तक्षेप को ध्यान में रखते हुए, इन दिशानिर्देशों पर नए सिरे से विचार करने की आवश्यकता है।

मुख्य विवरण

यह नई गठित समिति मौजूदा दिशानिर्देश प्रणाली का मूल्यांकन करेगी और TRAI की समय-समय पर अधिसूचित सिफारिशों की जांच करेगी।

हितधारकों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए, यह समिति मौजूदा दिशानिर्देशों में, यदि आवश्यक हो, सभी जरुरी परिवर्तनों के माध्यम से, एक विश्वसनीय, मजबूत, पारदर्शी और जवाबदेह रेटिंग प्रणाली के लिए सिफारिशें करने के साथ, समग्र उद्योग परिदृश्य की पुनः समीक्षा करेगी।

इस समिति को अगले दो महीनों के भीतर अपनी रिपोर्ट सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार को सौंपनी होगी।


6. ICICI बैंक ने लॉन्च किया 'ICICI Bank Mine’ व्यापक बैंकिंग प्रोग्राम

निजी ऋणदाता आईसीआईसीआई बैंक ने अपने मिलेनियम ग्राहकों (18 वर्ष से 35 वर्ष के आयु वर्ग) के लिए ‘ICICI Bank Mine’ नामक एक व्यापक बैंकिंग कार्यक्रम शुरू किया है।

बैंक द्वारा लॉन्च किया गया ‘ICICI Bank Mine’ भारत का पहला और एक विशिष्ट उत्पाद है ताकि बैंक अपने सबसे पुराने ग्राहकों को मोबाइल-फर्स्ट, अत्यधिक व्यक्तिगत और अनुभवात्मक बैंकिंग अनुभव प्रदान किया जा सके।


7. केरल के मंदिरों में पहली बार होगी SC और ST पुजारियों की नियुक्ति

केरल में मंदिरों का प्रबंधन करने वाला शीर्ष निकाय ट्रावणकोर देवस्वओम बोर्ड अपने इतिहास में पहली बार अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) समुदायों से पुजारियों की नियुक्ति करने जा रहा है। ट्रावणकोर देवस्वओम बोर्ड (टीडीबी) ने इन समुदायों से 19 पुजारियों की नियुक्ति करने का निर्णय किया है। इनमें से 18 एससी समुदाय से जबकि एक आदिवासी समुदाय से होंगे। इन पुजारियों की नियुक्ति अंशकालिक आधार पर की जाएगी। टीडीबी प्रदेश के 1200 मंदिरों का प्रबंधन करता है।

टीडीबी एक स्वायत्त मंदिर निकाय है जो विभिन्न मंदिरों का प्रबंधन करता है। इनमें सबरीमला का भगवान अयप्पा मंदिर भी शामिल है।

प्रदेश के देवस्वओम मंत्री के सुरेंद्रन ने फेसबुक पोस्ट में कहा, यह पहला मौका है जब टीडीबी अपने अधीन मंदिरों में किसी आदिवासी व्यक्ति को पुजारी नियुक्त करने जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्हें अंशकालिक पुजारी के पदों पर नि​युक्त किया जाएगा। यह नियुक्ति विशेष भर्ती प्रक्रिया के तहत की जाएगी। मंत्री ने कहा कि अब तक ट्रावणकोर देवस्वओम बोर्ड में अंशकालिक पुजारी पदों के लिए रैंक सूची से 310 लोगों का चयन किया गया है, जिसका प्रकाशन 2017 में किया गया था। उन्होंने कहा कि उस समय एससी और एसटी समुदायों से पर्याप्त संख्या में योग्य उम्मीदवार नहीं थे। इसलिए विशेष अधिसूचना के आधार पर उनके लिए एक अलग रैंक सूची जारी की गई जिसका प्रकाशन पांच नवंबर को किया गया।

मंत्री ने कहा कि अदिवासी समुदाय के लिए चार रिक्तियां थीं लेकिन केवल एक आवेदन मिला था। सूत्रों ने बताया कि राज्य में मौजूदा सरकार के साढ़े चार साल के कार्यकाल में मंदिरों में 133 गैर ब्राह्मण पुजारियों की नियुक्ति की जा चुकी है।


8. Syska Group ने राजकुमार राव को बनाया अपना नया ब्रांड एंबेसडर

फास्ट मूविंग इलेक्ट्रिकल गुड्स (FMEG) कंपनी Syska Group ने अभिनेता राजकुमार राव को अपने ब्रांड का नया चेहरा (ब्रांड एम्बेसडर) बनाया है।

राव LED और फैन सेगमेंट में Syska उत्पादों की सेल बढ़ाने के लिए कंपनी के साथ मिलकर प्रचार करेंगे।

इस साझेदारी के तहत सिस्का ग्रुप एक नया विज्ञापन अभियान शुरू करेगा, जिसमें राजकुमार LED और फैन सेगमेंट के प्रचार पर ध्यान केंद्रित करेंगे।


9. देश के नए मुख्य सूचना आयुक्त बने यशवर्धन कुमार सिन्हा

यशवर्धन कुमार सिन्हा ने शनिवार को मुख्य सूचना आयुक्त (CIC) के तौर पर शपथ ली। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में यह जानकारी दी गई है। बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में सिन्हा को शपथ दिलाई। इस साल 26 अगस्त को बिमल जुल्का का कार्यकाल पूरा होने के बाद दो महीने से ज्यादा समय से मुख्य सूचना आयुक्त का पद खाली पड़ा था। सिन्हा ने एक जनवरी 2019 को सूचना आयुक्त का पद संभाला था। वह ब्रिटेन और श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त के तौर पर सेवाएं दे चुके हैं।

बतौर सीआईसी 62 वर्षीय सिन्हा का कार्यकाल करीब तीन वर्षों का होगा सीआईसी या सूचना आयुक्त की नियुक्ति पांच वर्ष के लिए या 65 वर्ष की आयु पूरी होने तक के लिए की जाती है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय समिति द्वारा सिन्हा का चयन किया गया है पीएम मोदी के अलावा लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और गृह मंत्री अमित शाह इस समिति के सदस्य हैं

सिन्हा के अलावा इस समिति ने पत्रकार उदय माहुरकर, पूर्व श्रम सचिव हीरा लाल सामारिया और पूर्व उप नियंत्रण एवं महालेखा परीक्षक सरोज पुन्हानी को सूचना आयुक्त के रूप में नियुक्त करने को मंजूरी दी अधिकारियों का कहना है कि इन तीनों लोगों को भी शनिवार को ही शपथ दिलाई जाएगी

माहुरकर, सामारिया और पुन्हानी के शामिल होने के साथ ही सूचना आयुक्तों की संख्या बढ़कर सात हो जाएगी जबकि उनकी स्वीकृत क्षमता 10 है इस समय वनाजा एन सरना, नीरज कुमार गुप्ता, सुरेश चंद्र और अमिता पांडोवे अन्य सूचना आयुक्त हैं माहुरकर एक प्रमुख मीडिया संस्थान के साथ वरिष्ठ उप संपादक के तौर पर काम कर चुके हैं वह गुजरात के महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय से भारतीय इतिहास, संस्कृति और पुरातत्वविज्ञान में स्नातक हैं

सामारिया तेलंगाना कैडर के 1985 बैच के आईएएस अधिकारी हैं वह सितंबर में श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के सचिव के तौर पर सेवानिवृत्त हुए थे पुन्हानी, 1984 बैच के भारतीय लेखा परीक्षा एवं लेखा सेवा (आईएएएस) अधिकारी रहे हैं


10. चाचा चौधरी बने नमामि गंगे परियोजना के ब्रांड एम्बेस्डर

मशहूर भारतीय सुपरहीरो चाचा चौधरी, जिनका दिमाग कम्प्यूटर से भी तेज चलता है, ने अब नमामि गंगे कार्यक्रम से हाथ मिलाया है।

डायमंड टून्स गंगा संरक्षण के लिए उपलब्ध सर्वश्रेष्ठ ज्ञान को जनता के बीच फैलाने और गंगा नदी के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व पर जागरुकता फैलाने के लिए चाचा चौधरी के साथ इस नई ‘Talking Comics’ की संकल्पना का निर्माण और प्रकाशन करेगी।

इसका टीजर गंगा उत्सव 2020 के दौरान जारी किया गया।


11. भारत ने PSLV-C49 से किया रडार इमेजिंग सैटेलाइट का प्रक्षेपण

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने शनिवार शाम को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से PSLV-C49 प्रक्षेपण यान से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह (EOS-01) और साथ ही नौ अंतर्राष्ट्रीय उपग्रह सफलतापूर्वक लॉन्च किए हैं।

23 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक राष्ट्रव्यापी कोरोनावायरस लॉकडाउन शुरू करने के बाद से यह राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी का पहला प्रक्षेपण है लॉन्च 26 घंटे की उलटी गिनती के बाद दोपहर 3.12 बजे हुआ समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि उड़ान मार्ग में मलबा आने के कारण प्रक्षेपण में 10 मिनट की देरी हुई

दोपहर 3.28 बजे इसरो ने ट्वीट किया कि पीएसएलवी के चौथे चरण (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल - भारत के कार्यक्रम का वर्कहॉर्स जिसने अब अपना 51 वां लॉन्च पूरा कर लिया है) के चौथे चरण से उपग्रह सफलतापूर्वक अलग हो गया और इसे ग्रह के चारों ओर कक्षा में इंजेक्ट किया गया

इसरो ने कहा है कि EOS-01 कृषि, वानिकी और आपदा प्रबंधन सहायता में इस्तेमाल होने वाला एक पृथ्वी अवलोकन उपग्रह हैग्राहक उपग्रहों में लिथुआनिया से एक, और क्रमशः लक्समबर्ग और संयुक्त राज्य अमेरिका के चार सैटेलाइट शामिल हैं


12. दिलीप रथ को IDF के बोर्ड में किया गया शामिल

राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (National Dairy Development Board) के अध्यक्ष दिलीप रथ को सर्वसम्मति से वैश्विक डेयरी निकाय इंटरनेशनल डेयरी फेडरेशन (IDF) के बोर्ड में चुना गया है।

वह भारतीय राष्ट्रीय समिति के सदस्य सचिव और डेयरी नीति और अर्थशास्त्र पर स्थायी समिति के सदस्य के रूप में IDF के साथ पिछले 10 वर्षों से जुड़े हुए हैं।

रथ ने IDF और खाद्य और कृषि संगठन (Food and Agriculture Organization) के बीच अक्टूबर 2016 में रॉटरडैम में आईडीएफ विश्व डेयरी शिखर सम्मेलन में डेयरी घोषणा पर हस्ताक्षर करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

भारत दुनिया के दुग्ध उत्पादक देशों में पहले स्थान पर है और दुनिया में सबसे बड़ी गोजातीय आबादी वाला देश है।

8 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved