Search

3rd November | Current Affairs | MB Books


1. मिशन सागर II : आईएनएस ऐरावत पोर्ट सूडान पहुंचा

भारतीय नौसेना जहाज ऐरावत ने मिशन सागर के चरण II के भाग के रूप में पोर्ट सूडान में प्रवेश किया। मिशन सागर के तहत, भारत वर्तमान में अपने मित्र देशों को COVID-19 महामारी और प्राकृतिक आपदाओं से उबरने में सहायता प्रदान कर रहा है। आईएनएस ऐरावत 100 टन खाद्य सहायता की खेप लेकर जा रहा है।

मुख्य बिंदु

मिशन सागर के चरण II में, INS ऐरावत सूडान, जिबूती, दक्षिण सूडान और इरिट्रिया को खाद्य सहायता पहुंचाएगा। यह चरण विदेश मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय के साथ निकट समन्वय में कार्यान्वित किया जा रहा है।

मिशन सागर के पहले चरण के तहत भारत सेशेल्स, मेडागास्कर, कोमोरोस, मॉरीशस और मालदीव जैसे देशों को सहायता प्रदान की। इस चरण के दौरान, भारत ने मुफ्त भोजन सहायता और दवाएं प्रदान कीं। इस मिशन के पहले चरण में, आईएनएस केसरी को तैनात किया गया था।

मिशन सागर

SAGAR का पूर्ण स्वरुप Security and Growth for All in the Region है। इसे 2015 में हिंद महासागर क्षेत्र की रणनीतिक दृष्टि के तहत लॉन्च किया गया था। SAGAR के तहत, भारत का लक्ष्य अपने समुद्री पड़ोसियों के साथ आर्थिक और सुरक्षा सहयोग को मजबूत करना है। साथ ही, भारत हिंद महासागर क्षेत्र में राष्ट्रीय हितों की रक्षा करेगा।

मिशन सागर को भारत की अन्य नीतियों जैसे प्रोजेक्ट सागरमाला, प्रोजेक्ट मौसम, एक्ट ईस्ट पॉलिसी के साथ संयोजन के रूप में देखा जाता है।

प्रोजेक्ट सागरमाला