Search

30th April | Current Affairs | MB Books


1. रूस ने यूरोपीय राजनयिकों को निष्कासित किया

रूस ने हाल ही में लातविया, स्लोवाकिया, एस्टोनिया, लिथुआनिया, रोमानिया, चेक राजनयिकों के राजनयिकों को निष्कासित कर दिया है। इन देशों द्वारा रूसी राजनयिकों को निष्कासित करने के बाद रूस ने यह निर्णय लिया है।

पृष्ठभूमि : चेक गणराज्य ने रूसी कर्मचारियों को दूतावास छोड़ने का आदेश दिया था। यह आदेश 2014 के विस्फोट के पीछे रूसी खुफिया अधिकारियों की भूमिका के आरोपों के आधार पर जारी किया गया था।

2014 के विस्फोट : 2014 में, चेक गणराज्य में एक गोला बारूद डिपो में दो विस्फोट हुए थे।

रूस और चेक गणराज्य : चेक गणराज्य नाटो, यूरोपीय संघ और ओईसीडी का सदस्य है। 2014 में क्रीमिया के अधिग्रहण के बाद रूस के साथ चेक गणराज्य के संबंध ख़राब हो गये थे।

क्रीमिया का अधिग्रहण (Annexation of Crimea) : क्रीमिया की राजनीतिक स्थिति रूस और यूक्रेन के बीच विवादित है। इसे क्रीमियन मुद्दा कहा जाता है। 2014 में, रूस ने क्रीमिया को यूक्रेन से अपने कब्ज़े में ले लिया था।

बाल्टिक देश (Baltic Countries) : लातविया, एस्टोनिया और लिथुआनिया को बाल्टिक देश कहा जाता है। इस क्षेत्र का नाम बाल्टिक समुद्र पर रखा गया है जो इस क्षेत्र को घेरता है। इन देशों ने 1991 में सोवियत संघ से स्वतंत्रता की घोषणा की थी।

भारत-बाल्टिक देश : संयुक्त राष्ट्र में स्थायी सदस्यता के लिए लातविया और लिथुआनिया भारत का समर्थन करते हैं। 2019 में, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने इन देशों का दौरा किया था। उन्होंने पहले भारत-लातविया बिजनेस फोरम को भी संबोधित किया था।

बाल्कन देश (Balkan countries) : बाल्टिक देश बाल्कन देशों से अलग हैं।बाल्कन देश बाल्कन प्रायद्वीप में स्थित हैं। यह दक्षिण-पश्चिम में आयोनियन सागर, उत्तर पश्चिम में एड्रियाटिक सागर और दक्षिण-पश्चिम में आयोनियन सागर से घिरा है।

वे बोस्निया, अल्बानिया, बुल्गारिया, हर्जेगोविना, कोसोवो, मोंटेनेग्रो, मैसेडोनिया, सर्बिया, रोमानिया और स्लोवेनिया हैं।

इस क्षेत्र का नाम बाल्कन पर्वत के नाम पर रखा गया है।


2. क्रिकेटर रवींद्र जडेजा बने ASICS के ब्रांड एंबेसडर

जापानी स्पोर्ट्सवियर ब्रांड ASICS ने घोषणा की कि उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम और चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को अपना ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किया है। कंपनी का फोकस रनिंग श्रेणी के लिए स्पोर्टिंग गियर पर है।

ASICS खेल की विभिन्न विधाओं में युवा और ताजा एथलेटिक प्रतिभा के साथ काम कर रहा है। भारत में ASICS को अभिनेता टाइगर श्रॉफ (Tiger Shroff) द्वारा प्रचारित किया जाता है। एशिया में, ASICS के वर्तमान में पूरे भारत, श्रीलंका और भूटान में 55 से अधिक स्टोर हैं।


3. 30 अप्रैल : आयुष्मान भारत दिवस (Ayushman Bharat Diwas)

हर साल, आयुष्मान भारत दिवस 30 अप्रैल को भारत में मनाया जाता है।

आयुष्मान भारत दिवस क्यों मनाया जाता है? : आयुष्मान भारत दिवस दो लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मनाया जाता है। वे गरीबों के स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देना और उन्हें बीमा लाभ प्रदान करना है।

आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Scheme) :

  • इस योजना को अप्रैल, 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किया गया था।

  • स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, आयुष्मान भारत योजना ने अब तक 75,532 आयुष्मान भारत स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र को शुरू किया है। इसने 2022 तक 5 लाख स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र स्थापित करने का लक्ष्य तय किया है।

  • लाभार्थियों को सामाजिक-आर्थिक जनगणना डेटाबेस से चुना जायेगा।

  • यह दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य कवर है।

  • इसका लक्ष्य प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य कवर प्रदान करना है।

  • यह योजना अस्पताल में भर्ती होने 15 दिन पहले और 15 दिनों के बाद को कवर करती है। इसमें दवाओं और टेस्ट का खर्च शामिल है।

  • इस योजना में ऐसे पैकेज हैं, जिनमें केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजनाओं की तुलना में 15% तक सस्ता घुटना रीप्लेसमेंट, बाईपास और अन्य उपचार शामिल हैं।

आयुष्मान मित्र (Ayushman Mitra) :

  • “आयुष्मान मित्र” पहल बेरोजगारों को रोजगार प्रदान करने के लिए शुरू की गई थी। आयुष्मान मित्र पहल के तहत दस लाख से अधिक नौकरियां सृजित की गईं। आयुष्मान मित्र को सीधे निजी अस्पतालों और सरकारी अस्पतालों में तैनात किया गया था।

  • इस योजना के तहत नियोजित युवाओं को 15,000 रुपये का वेतन मिलेगा। इसके अलावा, उन्हें प्रत्येक लाभार्थी पर 50 रुपये का प्रोत्साहन मिलता है।

  • आयुष्मान मित्र लाभार्थियों को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं। उन्हें रोगी के निर्वहन के बाद राज्य एजेंसी को सूचित करना पड़ता है।

4. DRDO ने पाइथन -5 एयर टू एयर मिसाइल का LCA तेजस का उपयोग करते हुए मेडन ट्रायल आयोजित किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) ने गोवा में तेजस (Tejas) विमान से 5 वीं पीढ़ी के पायथन -5 एयर-टू-एयर मिसाइल (AAM) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। यह भारत के स्वदेशी रूप से विकसित लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट, तेजस के एयर-टू-एयर हथियारों के पैकेज में पायथन -5 एयर-टू-एयर मिसाइल (एएएम) जोड़ता है।

परीक्षण का उद्देश्य तेजस पर पहले से ही एकीकृत डर्बी बियॉन्ड विजुअल रेंज (BVR) AAM की बढ़ी हुई क्षमता को मान्य करना है। पायथन -5 एयर-टू-एयर मिसाइल (AAM) का निर्माण इजरायल के राफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम द्वारा किया गया है और यह दुनिया की सबसे अत्याधुनिक गाइडेड मिसाइलों में से एक है।


5. Agriculture Infrastructure Fund ने 8,000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया

कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने हाल ही में घोषणा की कि कृषि अवसंरचना कोष (Agriculture Infrastructure Fund) ने हाल ही में 8,000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया है। मंत्रालय को अब तक 8,665 आवेदन मिले हैं। इन आवेदनों की कीमत 8216 करोड़ रुपये है। इसमें से 4000 करोड़ रुपये मंत्रालय द्वारा अभी तक स्वीकृत किए गए हैं।

मुख्य बिंदु :

  • जिन राज्यों को इस फण्ड के माध्यम से अधिकतम मदद मिली, वे हैं – आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और राजस्थान।

  • स्वीकृत आवेदन का सबसे बड़ा हिस्सा निम्नलिखित क्षेत्रों का था:

  • प्राथमिक कृषि सोसायटी: 58%

  • कृषि-उद्यमी: 24%

  • व्यक्तिगत किसान: 13%

कृषि अवसंरचना निधि (Agriculture Infrastructure Fund) :

  • 2020 में, भारत सरकार ने कृषि और इसकी संबद्ध गतिविधियों में साख (credit प्रदान करने के लिए कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड की स्थापना की थी।

  • इसे आत्मनिर्भर भारत (Atma Nirbhar Bharat) के एक भाग के रूप में लॉन्च किया गया था।इस कोष का मुख्य उद्देश्य किसानों को आत्मनिर्भर बनाना है।

  • फंड के लिए लगभग एक लाख करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे।

  • इसे 2020 और 2029 के बीच लागू किया जायेगा।

  • इस फण्ड का उपयोग विपणन सहकारी समितियों, प्राथमिक कृषि समितियों, किसान उत्पादक संगठन, संयुक्त देयता समूहों, स्वयं सहायता समूहों को ऋण प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

  • यह फण्ड गोदामों, कोल्ड स्टोर, ग्रेडिंग, पैकेजिंग इकाइयों आदि की स्थापना के लिए प्रदान किया जा रहा है।

  • इस फण्ड का प्रबंधन Management Information System Platform द्वारा किया जाता है।

6. भारतीय सेना ने लद्दाख इग्नाइटेड माइंड्स कार्यक्रम के लिए HPCL और NIEDO के साथ किया समझौता

फायर एंड फ्यूरी कॉर्प्स के तत्वावधान में लद्दाखी युवा सेना (Ladakhi youth Army) ने कॉरपोरेट पार्टनर हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HPCL) और कार्यान्वयन एजेंसी नेशनल इंटीग्रिटी एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (NIEDO), मुख्यालय 14 कॉर्प्स लेह के साथ लद्दाख इग्नाइटेड माइंड्स परियोजना (Ladakh Ignited Minds project) के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

परियोजना लद्दाख इग्नाइटेड माइंड्स: लद्दाख के केन्द्र शासित प्रदेशों के युवाओं के लिए एक बेहतर भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उत्कृष्टता और कल्याण केंद्र की अवधारणा की गई है।

भारतीय सेना के फायर एंड फ्यूरी कॉर्प्स के तत्वावधान में कार्यक्रम को राष्ट्रीय एकता और शैक्षिक विकास संगठन (NIEDO) द्वारा कानपुर स्थित एक गैर सरकारी संगठन द्वारा निष्पादित किया जाएगा।


7. चीन ने तियानहे अंतरिक्ष स्टेशन (Tianhe Space Station) कोर मॉड्यूल लॉन्च किया

29 अप्रैल, 2021 को चीन ने अपने स्पेस स्टेशन का मुख्य मॉड्यूल लॉन्च किया। यह अंतरिक्ष में एक स्थायी मानव उपस्थिति स्थापित करने की देश की महत्वाकांक्षी योजना में एक महत्वपूर्ण कदम है।

जो मॉड्यूल लॉन्च किया गया था, उसे तियानहे (Tianhe) कहा जाता है। चीन जो स्पेस स्टेशन बना रहा है उसे तियानगॉन्ग (Tiangong) कहा जाता है।

तियानगॉन्ग :

  • तियानगॉन्ग का अर्थ है “स्वर्गीय अंतरिक्ष”।

  • यह 2022 में अपना काम शुरू करेगा।

  • अभी भी 11 और मॉड्यूल लॉन्च किए जाने हैं और अंतरिक्ष स्टेशन को पूरा करने के लिए इन्हें एसेम्बल किया जायेगा।

  • चीनी सरकार के अनुसार, पूरा अंतरिक्ष स्टेशन “मीर स्टेशन” (Mir Station) जैसा दिखेगा। मीर एक रूसी अंतरिक्ष स्टेशन था जो 1980 और 2001 के बीच कार्य करता था।

  • चीनी अंतरिक्ष स्टेशन तियानगॉन्ग 400 से 450 किलोमीटर की ऊँचाई पर पृथ्वी की निचली कक्षा में परिक्रमा करेगा।

  • इस अंतरिक्ष स्टेशन का जीवनकाल 15 वर्ष है।

  • इसका वजन 90 टन से अधिक है।

  • तियानगॉन्ग स्पेस स्टेशन का आकार अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के आकार का एक चौथाई होगा।

पिछला चीनी मिशन :

  • 2011 में, चीनी ने तियानगॉन्ग-1 को लॉन्च किया था। यह पहला प्रोटोटाइप मॉड्यूल था जिसने स्थायी रूप से चालक दल स्टेशन के लिए नींव रखी थी।

  • 2016 में, दूसरी लैब तियानगॉन्ग-2 लॉन्च की गई थी।

अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station) :

  • इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन अमेरिका, कनाडा, रूस, जापान और यूरोप के बीच एक सहयोग है। यह 2024 में सेवानिवृत्त होगा।

  • इस सहयोग की समाप्ति के बाद, रूस अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से अलग हो जायेगा।

  • रूस ने 2025 में अपना खुद का अंतरिक्ष स्टेशन शुरू करने की योजना बनाई है।

अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के सेवानिवृत्त होने के बाद, तियानगॉन्ग पृथ्वी की परिक्रमा करने वाला एकमात्र अंतरिक्ष स्टेशन होगा।


8. IHS मार्किट ने FY22 के लिए भारत की GDP विकास दर का अनुमान 9.6% लगाया

लंदन स्थित वित्तीय सेवा कंपनी आईएचएस मार्किट (IHS Markit) ने FY22 (2021-22) में भारतीय अर्थव्यवस्था की जीडीपी विकास दर 9.6 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान लगाया है।

यह संशोधन मौजूदा लॉकडाउन और गतिशीलता वक्र जैसे कारकों पर आधारित है, जो एक विस्तार, समय-वार और अधिक भारतीय शहरों में भय के साथ युग्मित हैं।


9. सबसे उम्रदराज ‘शूटर दादी’ का निधन

‘शूटर दादी’ के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का शुक्रवार को निधन हो गया। चंद्रो तोमर कोरोना से पीड़ित थीं और मेरठ के निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। उनके जीवन पर आधारित एक फिल्म भी आई थी, 'सांड की आंख'। शूटर दादी चंद्रो तोमर उत्तर प्रदेश के बागपत में अपने परिवार के साथ रहती थीं और सोशल मीड‍िया में काफी लोकप्र‍िय थीं। वे ट्व‍िटर पर बेहद सक्र‍िय रहती थीं। पिछले मंगलवार को मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने की जानकारी मिली थी। सांस लेने में परेशानी के कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। उत्तर प्रदेश के बागपत की रहने वाली 89 साल की निशानेबाज के ट्विटर पेज पर यह जानकारी दी गई है। उनके ट्विटर पेज पर लिखा गया है, दादी चंद्रो तोमर कोरोना पॉजिटिव हैं और सांस की परेशानी के चलते हॉस्पिटल में भर्ती हैं। चंद्रो तोमर ने जब निशानेबाजी को अपनाया, तब उनकी उम्र 60 साल से अधिक थी, लेकिन इसके बाद उन्होंने कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीतीं। उन्हें विश्व की सबसे उम्रदराज निशानेबाज माना जाता है। उन्होंने अपनी बहन (देवरानी) प्रकाशी तोमर के साथ कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया था। प्रकाशी भी दुनिया की उम्रदराज महिला निशानेबाजों में शामिल हैं। अपने जीवन में उन्होंने पुरुष प्रधान समाज में कई रुढ़ियों को भी समाप्त किया।


10. प्रसिद्ध ओडिया और अंग्रेजी लेखक मनोज दास का निधन

Eminent Indian educationist, popular columnist and prolific author, who wrote in Odia and English, Manoj Das has passed away. प्रसिद्ध भारतीय शिक्षाविद, लोकप्रिय स्तंभकार और विपुल लेखक मनोज दास (Manoj Das), जो ओडिया और अंग्रेजी में लिखते थे, का निधन हो गया है। दास की पहली पुस्तक ओडिया में 'सत्वदीरा अर्तनदा (Satavdira Artanada)’ नामक कविता की थी, जो तब प्रकाशित हुई थी जब वह हाई स्कूल में थे। साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए उन्हें 2001 में पद्म श्री और 2020 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।


11. पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का कोरोनावायरस से निधन

कोरोनावायरस से संक्रमित पूर्व अटॉर्नी जनरल एवं संवैधानिक विधि विशेषज्ञ सोली सोराबजी का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। वे 91 वर्ष के थे। सोराबजी के पारिवारिक सूत्रों ने उनके निधन की जानकारी दी।

सोराबजी 1989 से 1990 तक और फिर 1998 से 2004 तक भारत के अटॉर्नी जरनल रहे। उन्हें कोरोनावायरस से संक्रमित होने के बाद दक्षिण दिल्ली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।


12. राहुल बजाज ने बजाज ऑटो का चेयरमैन पद छोड़ा, नीरज बजाज होंगे नए चेयरमैन

देश के सफलतम उद्योगपतियों में शामिल राहुल बजाज ने आखिरकार बजाज ऑटो के चेयरमैन का पद छोड़ने का फैसला कर लिया है। राहुल बजाज ने दुपहिया और तिपहिया वाहनों के क्षेत्र में बजाज ऑटो को खड़ा किया और उसे अग्रणी स्थान तक पहुंचाया। पुणे स्थित दुपहिया और तिपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी बजाज ऑटो ने शेयर बाजारों को भेजी नियामकीय सूचना में कहा है कि उसके गैरकार्यकारी चेयरमैन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उनका इस्तीफा 30 अप्रैल 2021 को कामकाज समाप्त होने के समय से प्रभावी हो जाएगा। कंपनी ने राहुल बजाज के स्थान पर नीरज बजाज को नया चेयरमैन नियुक्त किया है। वे 1 मई 2021 से कंपनी के चेयरमैन का कामकाज संभालेंगे, वहीं राहुल बजाज कंपनी के चेयरमैन एमरीटस बने रहेंगे। उन्हें 1 मई 2021 से 5 साल के लिए कंपनी का चेयरमैन एमरीटस बनाया गया है।

राहुल बजाज वर्ष 1972 से ही कंपनी के गैरकार्यकारी चेयरमैन का कार्यभार संभाले हुए हैं। वे बजाज ऑटो समूह से पिछले 5 दशकों से जुड़े हुए हैं। कंपनी ने नियामकीय सूचना में कहा है कि राहुल बजाज की आयु 83 साल हो गई है। अपनी बढ़ी उम्र को देखते हुए उनहोंने कंपनी के गैरकार्यकारी निदेशक और चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिया।

कंपनी ने कहा है कि बजाज ऑटो समूह की सफलता में राहुल बजाज का बहुत अधिक योगदान रहा है। उनके पिछले 5 दशकों के लंबे अनुभव और कंपनी के हित में उनके अनुभव, ज्ञान और बुद्धि का एक सलाहकार के तौर पर समय समय पर लाभ उठाते हुए कंपनी के निदेशक मंडल ने उन्हें कंपनी का चेयरमैन एमेरीटस नियुक्त करने को मंजूरी दे दी।

राहुल बजाज ने 1965 में बजाज समूह की कमान संभाली थी। उस समय भारत एक बंद अर्थव्यवस्था थी। उन्होंने कंपनी का नेतृत्व करते हुए 'बजाज चेतक' नाम का स्कूटर बनाया। इस स्कूटर को काफी नाम मिला और इसे भारत के मध्यमवर्गीय परिवार की आकांक्षा का सूचक माना गया। इसके बाद कंपनी लगातार आगे बढ़ती चली गई।

90 के दशक में जब भारत में उदारीकरण की शुरुआत हुई और भारत एक खुली अर्थव्यवस्था की तरफ बढ़ गया और जापानी मोटरसाइकल कंपनियों से भारतीय दुपहिया वाहनों को कड़ी टक्कर मिलने लगी, उस समय भी राहुल बजाज ने कंपनी को आगे बढ़ाया। बजाज समूह की अग्रणी कंपनी बजाज ऑटो का कारोबार एक समय 7.2 करोड़ रुपए था, जो कि आज 12,000 करोड़ रुपए तक पहुंच चुका है और उसके उत्पादों का पोर्टफोलियो भी बढ़ा है। राहुल बजाज के नेतृत्व में ही उनके उत्पादों को वैश्विक बाजार में स्थान मिला।

देश के सबसे सफलतम उद्योगपतियों में से एक राहुल बजाज को उनके खुलकर बोलने के लिए जाना जाता है और वे 2006 से लेकर 2010 तक राज्यसभा के सदस्य भी रहे। नवंबर 2019 को मुंबई में 'इकॉनॉमिक टाइम्स' के एक कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल की उपस्थिति में इस जाने-माने उद्योगपति ने सरकार की आलोचना को लेकर उद्योगपतियों के डर के बारे में चुटकी लेते हुए कहा कि 'डर का यह माहौल, पक्के तौर पर हमारे दिमाग में है। आप (केंद्र सरकार) अच्छा काम कर रहे हैं लेकिन इसके बावजूद हमारे भीतर यह विश्वास नहीं है कि आप आलोचना को सराहेंगे।'





  • Source of Internet

6 views0 comments