Search

27th August | Current Affairs | MB Books


1. TikTok के सीईओ केविन मेयर ने दिया इस्तीफा

शॉर्ट वीडियो बेस्ड चाईनीज ऐप टिकटॉक (TikTok) के मुख्य कार्यकारी अधिकार (CEO) केविन मेयर (Kevin Mayer)ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कंपनी ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है। उनका इस्तीफा फेमस शॉर्ट-फॉर्म वीडियो-शेयरिंग ऐप और उसके एक कर्मचारी द्वारा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन पर अमेरिका में लेन-देन पर प्रतिबंध लगाने के लिए दर्ज किए गए मुकदमा करने के कुछ दिनों बाद आया है। आरोप लगाया गया था कि ट्रंप प्रशासन चीन विरोधी बयानबाजी को हवा देने और इसका चुनाव में फायदा लेने के लिए ये सब कुछ कर रहा है।

स्टाफ को लिखे एक पत्र में, टीकटॉक के सीईओ ने कहा,"यह बहुत भारी मन से है कि मैं आप सभी को यह बताना चाहता हूं कि मैंने कंपनी छोड़ने का फैसला किया है " टिकटोक के जीएम वैनेसा पाप्प्स अंतरिम आधार पर केविन मेयर की जगह लेंगीमेयर ने जून महीने में ही टिकटोक के स्वामित्व वाली चीनी कंपनी बाइटडांस में मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) के रूप में पदभार ग्रहण किया था वह सीधे कंपनी (बाइटडांस) के संस्थापक और सीईओ यिमिंग झांग को रिपोर्ट करते रहे हैं

TikTok की वेबसाइट के अनुसार, मेयर डिज्नी में एक लंबे और सफल कैरियर के बाद टिकटोक में शामिल हुए थे, वहां डायरेक्ट टू कंज्यूमर्स और इंटरनेशनल बिजनेस के अध्यक्ष के रूप में अपनी भूमिका के के दौरान उन्होंने कंपनी की प्रमुख स्ट्रीमिंग सेवा डिज़नी + के विकास और सफल रोलआउट की देखरेख की

इस बीच, कैलिफोर्निया स्थित टिक्कॉक और बाइटडांस ने व्हाइट हाउस की उस स्थिति को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है, उन्होंने कहा कि उन्होंने "टिकटॉक के यूएस उपयोगकर्ता डेटा की गोपनीयता और सुरक्षा की रक्षा के लिए असाधारण उपाय किए हैं"

कंपनी ने 6 अगस्त को ट्रंप प्रशासन द्वारा जारी कार्यकारी आदेश (टिकटॉक पर बैन) को 3 नवंबर को होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रंप के कथित "चीन विरोधी बयानबाजी व्यापक अभियान" में एक साधन के रूप में वर्णित किया क्योंकि ट्रम्प अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर अपना दूसरा कार्यकाल चाहते हैं

2. US में कोरोनावायरस से 1000 से अधिक कैदियों की मौत

अमेरिका में कोरोनावायरस (Coronavirus) से अब तक 1000 से अधिक कैदियों की मौत हो चुकी है।

द अमेरिकन सिविल लिबर्टीज यूनियन (एसीएलयू) ने बुधवार को यह जानकारी दी।

एसीएलयू ने ट्वीट कर कहा कि देशभर के जेलों कोविड-19 (Covid-19) से मरने वाले कैदियों की संख्या आज 1000 तक पहुंच गई। देश के 10 कारागारों में कोरोना का प्रकोप है।

एसीएलयू ने कहा कि कैदियों की मौत की संख्या में वृद्धि अमेरिकी न्याय प्रणाली और सामूहिक उत्पीड़न का परिणाम है, जिसके कारण मौजूदा समय 20 लाख से अधिक लोग सलाखों में हैं।

3. सीनेट मतदान का बहिष्कार करने वाले 5.4 करोड़ लोगों के खिलाफ मुकदमा करेगा मिस्र

मिस्र के चुनाव आयोग ने बुधवार को कहा कि वह इस महीने सीनेट चुनाव में हिस्सा नहीं लेने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा करने की तैयारी कर रहा है। इस महीने की शुरुआत में देश की संसद के ऊपरी और मुख्य रूप से शक्तिहीन सदन के दो-तिहाई सांसदों के लिए चुनाव हुआ था।

राष्ट्रीय चुनाव प्राधिकरण के अनुसार सीनेट की 300 सीटों में से 200 के लिए करीब 6.3 करोड़ लोगों को मतदान करने का अधिकार था, लेकिन 11-12 अगस्त को हुए मतदान में केवल 89.9 लाख या 14.23 प्रतिशत लोगों ने ही मतदान किया। अन्य 100 सीटों पर सदस्यों का चयन राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल-सिसी करेंगे।LEARN MORE→

चुनाव कोरोनावायरस महामारी के बीच कराए गए लेकिन आयोग का कहना है कि उसने मतदाताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी एहतियाती कदम उठाए थे। आयोग के प्रमुख लाशीन इब्राहीम ने कहा कि उन्होंने चुनाव का बहिष्कार करने वालों के खिलाफ कानून लाने और उन पर 500 मिस्र पाउंड तक का जुर्माना लगाने का संकल्प किया है।

सोशल मीडिया पर इस फैसले की काफी आलोचना भी का जा रही है। लोगों का कहना है कि 5.3 करोड़ लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाना असंभव है, वहीं कुछ का कहना है कि सरकार हर तरीके से पैसे कमाना चाहती है।

4. चीन ने किया कैरियर मिसाइलों का परीक्षण, अमेरिकी बलों पर हमले के लिए की विकसित

चीन की सेना ने दक्षिणी चीन सागर में 2 मिसाइलों का परीक्षण किया जिसमें एक कैरियर मिसाइल भी शामिल थी। सैन्य विशेषज्ञों का कहना है कि इसे अमेरिकी बलों पर हमले के लिए विकसित किया गया हो सकता है। एक समाचार-पत्र में गुरुवार को प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी गई।

हांगकांग के 'साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट' समाचार-पत्र ने चीनी सेना के अज्ञात करीबी सूत्रों के हवाले से खबर दी कि डीएफ-26बी और डीएफ-21डी मिसाइलों को बुधवार को दक्षिणी द्वीप प्रांत हैनान और पार्सल द्वीप समूहों के बीच वाले इलाके में दागा गया।

इस खबर की पुष्टि के आग्रह पर रक्षा मंत्रालय और बीजिंग में विदेश मंत्रालय की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। विश्व के सबसे व्यस्ततम व्यापार मार्गों में से एक दक्षिण चीन सागर पर नियंत्रण को लेकर बढ़ते विवाद बीजिंग के वॉशिंगटन और उसके दक्षिणी पड़ोसी देशों के साथ रिश्ते में लगातार कड़वाहट पैदा कर रहे हैं।

ट्रंप प्रशासन ने विवादित क्षेत्र के ज्यादातर हिस्से पर संप्रभुता के बीजिंग के दावों को इस साल खारिज कर दिया था। इसके कुछ हिस्सों पर वियतनाम, फिलीपीन और अन्य देश की सरकारें भी दावा करती हैं। बुधवार को किए गए ये परीक्षण चीन की उस शिकायत के बाद आए हैं जिसमें उसने कहा था कि अमेरिकी यू2 जासूसी विमान बीजिंग द्वारा घोषित नो फ्लाई जोन में घुस आया था।

डीएफ-21 का निशाना असामान्य रूप से सटीक होता है और इसे सैन्य विशेषज्ञ कैरियर किलर कहते हैं जिनका मानना है कि इसे उन अमेरिकी विमानवाहकों को निशाना बनाने के लिए विकसित किया गया है, जो चीन के साथ संभावित संघर्ष में शामिल हो सकते हैं।

बीजिंग ने पिछले 2 दशक में मिसाइलों, लड़ाकू विमानों, परमाणु पनडुब्बियों और अन्य हथियारों को विकसित करने की कोशिश में खूब खर्च किया है ताकि वह अपनी सीमाओं से परे भी अपनी सेना को विस्तार दे सके। खबर में बताया गया कि डीएफ-26बी को उत्तर-पश्चिमी प्रांत किंगहाई से जबकि डीएफ-21डी को पूर्वी तट पर शंघाई के दक्षिण में स्थित जेझियांग प्रांत से प्रक्षेपित किया गया।

5. अमेरिका ने फिर दिया चीन को बड़ा झटका! 24 कंपनियों को किया बैन

अमेरिका (US) और चीन (China) के बीच जारी तनाव ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा है। भले ही दोनों देश दावा कर रहे हो कि द्विपक्षीय बातचीत अच्छी चल रही है लेकिन अमेरिका के फैसलों से तो फ़िलहाल स्थिति अच्छी नज़र नहीं आ रही है। साउथ चाइना सी (South China Sea), हॉन्ग कॉन्ग (Hong Kong) और ताइवान (Taiwan) जैसे मुद्दों के बाद अब दोनों देशों ने एक-दूसरे के खिलाफ व्यापार युद्ध की शुरुआत भी कर दी है। अमेरिका ने इसी क्रम में चीन की 24 कंपनियों को बैन भी कर दिया है। दरअसल अमेरिका चीन की उन कंपनियों को निशाना बना रहा है जो की चीनी सेना के साथ सीधे तौर पर जुड़कर काम करती हैं। इस बार भी अमेरिका ने चीन की 24 कंपनियों प्रतिबंधित सूची में डाल दिया है जो चीन की सेना की मदद करती हैं। जिसके बाद ये कंपनियां अमेरिका में अपना बिजनेस नहीं कर पाएंगी। इसके अलावा इन कंपनियों और इनसे जुड़े लोगों के खिलाफ कड़ी जांच भी की जाएगी। अमेरिका ने आरोप लगाया है कि ये कंपनियां साउथ चाइना सी में ऑर्टिफिशियल द्वीप बनाकर उसके सैन्य अड्डा बनाने में सहायता करती हैं। अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में द्वीपों के निर्माण को लेकर चीन की कई बार आलोचना भी हो चुकी है। इसके अलावा समुद्री मामलों की ट्रिब्यूनल ने चीन के खिलाफ भी फैसला दिया था। चीनी कंपनियां कर रहीं सेना के लिए जासूसी अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियों का आरोप है कि इन कंपनियों में चीनी जासूस काम करते हैं और ये देश की सुरक्षा के लिए ख़तरा साबित हो रहीं हैं। इसके आलावा साउथ चाइना सी में सुबी रीफ स्‍पार्टले द्वीप समूह को लेकर भी अमेरिका परेशान है। इस पर चीन का नियंत्रण है लेकिन वियतनाम, फ‍िल‍िपीन्‍स और ताइवान पर सूबी रीफ पर अपना दावा जताते रहे हैं। चीन ने अब साउथ चाइना सी में कई कृत्रिम द्वीप बना लिए हैं और वहां पर उसने बड़े पैमाने पर युद्धपोत, फाइटर जेट और हथियार तैनात किए हैं। पीपल्‍स डेली की ओर से जारी वीडियो फुटेज में द‍िखाया गया है कि चीनी फाइटर जेट अज्ञात फाइटर जेट का पीछा कर रहे हैं और कह रहे हैं कि इस इलाके से चले जाओ अन्‍यथा आपको मार गिराया जाएगा। साउथ चाइना सी के 90 फीसदी हिस्से पर चीन अपना दावा करता है हालांकि इस समुद्र को लेकर उसका फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और वियतनाम के साथ विवाद है। वहीं, पूर्वी चाइना सी में जापान के साथ चीन का द्वीपों को लेकर विवाद चरम पर है। दक्षिण चीन सागर वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए काफी महत्वपूर्ण है। यहां दुनिया का सबसे महंगा शिपिंग लेन है और हर साल इस रास्ते से 3.4 ट्रिलियन पाउंड का व्यापार होता है। ब्रिटेन का 12 प्रतिशत समुद्री व्यापार यानी 97 अरब डॉलर का निर्यात-आयात इसी क्षेत्र से होता है। इस क्षेत्र पर विवाद 1947 से ही है जब 1945 में जापान द्वारा सरेंडर करने के बाद चीन ने 'नाइन-डैश'लाइन खींच दी थी. ये मुद्दा संयुक्त राष्ट्र इमं भी लंबित है।

6. कौन हैं सैयद ज़फ़र इस्लाम, जो BJP के इतिहास में सातवें मुस्लिम सांसद होंगे

भारतीय जनता पार्टी ने अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद ज़फ़र इस्लाम (Syed Jafar Islam) को राज्यसभा उपचुनाव (Rajyasabha Bypolls) के लिए अपना उम्मीदवार चुना है। दरअसल, वरिष्ठ नेता अमर सिंह के निधन के बाद से राज्यसभा में सीट खाली हुई है, जिसके बाद उत्तर प्रदेश की राज्यसभा सीट पर उपचुनाव कराए जा रहे हैं। अगर ज़फ़र इस्लाम चुने गए तो वो बीजेपी के इतिहास में सातवें मुस्लिम सांसद होंगे। दिलचस्प है कि ज़फ़र इस्लाम बीजेपी से पिछले सात सालों से जुड़े हुए हैं और अब उन्हें राज्यसभा भेजा जा रहा है। तो आखिर कौन हैं ज़फ़र इस्लाम, जिनके नाम पर बीजेपी राज्यसभा में दांव खेल रही है?

कौन हैं सैयद ज़फर इस्लाम

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद ज़फ़र इस्लाम उत्तर प्रदेश से राज्यसभा उपचुनाव के लिए बीजेपी के उम्मीदवार बनाए गए हैं। अमर सिंह के निधन से खाली हुई सीट पर उपचुनाव कराया जा रहा है, जिसमें पार्टी ने उन्हें अपना कैंडिडेट चुना है।

ज़फ़र इस्लाम की उम्मीदवारी इसलिए भी खास है क्योंकि अब तक बीजेपी के इतिहास में छह ही मुस्लिम सांसद हुए हैं- मुख्तार अब्बास नक़वी, शहनवाज़ हुसैन, सिकंदर बख्त (राज्यसभा) और आरिफ बेग, एमजे अकबर और नज़मा हेपतुल्ला। सैय्यद ज़फ़र इस्लाम सातवें मुस्लिम सांसद होंगे।

मौजूदा हालात में मुख्तार अब्बास नक़वी के बाद बीजेपी के दूसरे मुस्लिम सांसद होंगे सैयद ज़फ़र इस्लाम। बीजेपी के टिकट पर तीन ही मुस्लिम सांसद लोकसभा चुनाव जीते हैं- मुख्तार अब्बास नकवी, शहनवाज़ हुसैन और आरिफ़ बेग।

ज़फ़र इस्लाम का नाम इस बार इसलिए भी खास है क्योंकि मध्य प्रदेश कांग्रेस की राजनीति में सक्रिय कांग्रेस के पूर्व युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को बीजेपी में लाने में उन्होंने बड़ी भूमिका अदा की थी। सिंधिया ने अपने कुछ समर्थक विधायकों के साथ बीजेपी का हाथ थाम लिया था, जिसके बाद राज्य में कमलनाथ की सरकार गिर गई थी और बीजेपी की शिवराज सिंह चौहान की सत्ता एक बार फिर वापस आ गई थी।

डॉ. सैयद ज़फ़र इस्लाम झारखंड के रहने वाले हैं और मुंबई में सक्रिय रहे हैं। वो बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं. वो बीजेपी के मुखर, उदारवादी और कॉर्पोरेट घरानों से रिश्ता रखने वाला मुस्लिम चेहरा हैं।

पार्टी संगठन में पिछले 7 साल से काम कर रहे हैं। उससे पहले वे 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी की रणनीतिक टीम में थे।

वैसे ज़फ़र इस्लाम प्रोफेशनल इंवेस्टमेंट बैंकर रहे हैं। उनकी आर्थिक मामलों पर पकड़ मानी जाती है।

राजनीति में आने से पहले वे डॉइच बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर भी थे। फिलहाल वो एयर इंडिया के बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक भी हैं।

7. नीति आयोग की निर्यात तत्परता सूचकांक 2020 में गुजरात टॉप पर, महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर

नीति आयोग की तरफ से जारी किए गए निर्यात तत्परता सूचकांक (Export Preparedness Index)-2020 में गुजरात ने शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। केंद्र सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग ने ‘निर्यात तत्परता सूचकांक 2020’ की सूची जारी की है। इस सूची में महाराष्ट्र और तमिलनाडु क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

केंद्र सरकार के प्रमुख थिंक टैंक की 26 अगस्त 2020 को जारी रिपोर्ट के मुताबिक छह तटीय राज्य गुजरात, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, ओडिशा, कर्नाटक और केरल पहले 10 राज्यों में शुमार हैं। इस सूचकांक से पता चलता है कि किस राज्य में निर्यात को बढ़ावा दने के लिेए कितनी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

मुख्य बिंदु

• भूमि से घिरे राज्यों में राजस्थान का प्रदर्शन सबसे अच्छा रहा है, जिसके बाद तेलंगाना और हरियाणा का स्थान रहा है।

• पर्वतीय राज्यों में उत्तराखंड रैकिंग में सबसे ऊपर रहा है। इसके बाद त्रिपुरा और हिमाचल प्रदेश का स्थान रहा है।

• केंद्र शासित प्रदेशों में दिल्ली का प्रदर्शन सबसे बेहतर रहा है। उसके बाद गोवा और चंडीगढ़ का स्थान आता है।

• इस रिपोर्ट में कहा गया है कि छत्तीसगढ़ और झारखंड दो ऐसे मैदानी राज्य हैं, जिन्होंने निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के कदम उठाए हैं।

• नीति आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि समान सामाजिक-आर्थिक चुनौतियों का सामना कर रहे राज्य छत्तीसगढ़ और झारखंड की तरह कदम उठा सकते हैं।

रैंकिंग कैसे दी जाती है

नीति आयोग के इस निर्यात तत्परता सूचकांक में राज्यों को चार महत्वपूर्ण मानदंडों पर रैंकिंग दी जाती है। निर्यात को लेकर राज्यों की नीति, व्यवसायिक अनुकूलता, निर्यात से जुड़ा पूरा तंत्र और निर्यात क्षेत्र में उनका प्रदर्शन कैसा रहा है यह देखा जाता है।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने क्या कहा?

इस रिपोर्ट के लोकार्पण के मौके पर नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि निर्यात, आत्मनिर्भर भारत का अभिन्न हिस्सा है और देश को जीडीपी तथा विश्व व्यापार में निर्यात हिस्सेदारी बढ़ाने के लिये प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि हम आने वाले वर्षों में विश्व व्यापार में भारत का हिस्सा दोगुना करने का प्रयास करेंगे।

भारत का प्रति व्यक्ति निर्यात

नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा कि भारत का प्रति व्यक्ति निर्यात 241 अमेरिकी डॉलर है, जबकि यह आंकड़ा दक्षिण कोरिया में 11,900 डॉलर और चीन में 18,000 डॉलर है इसलिए भारत के निर्यात में बढ़ोतरी की विशाल संभावनाएं हैं।

नीति आयोग के सीईओ ने क्या कहा?

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा कि दीर्घावधि में आर्थिक विकास के लिए निर्यात में तेज वृद्धि बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि अनुकूल पारिस्थितिकी तंत्र किसी देश को वैश्विक मूल्य श्रृंखलाओं में महत्वपूर्ण योगदान करने और एकीकृत उत्पादन नेटवर्क का लाभ उठाने में समक्ष बनाता है। भारत का वस्तु निर्यात वर्ष 2016-17 में 275.9 अरब डालर से बढ़कर 2017-18 में 303.5 अरब डालर पर पहुंच गया। चालू वित्त वर्ष के दौरान कोविड-19 के कारण देश के निर्यात कारोबार पर काफी बुरा असर पड़ा है।

8. ब्रिक्स उद्योग मंत्रियों की 5 जी, एआई सहित क्षेत्रीय सहयोग बढ़ाने के लिए हुई वीडियो मीटिंग

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और 5 जी सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देने के तरीकों पर चर्चा करने के लिए 24 अगस्त, 2020 को ब्रिक्स देशों के उद्योग मंत्रियों ने वीडियो बैठक में भाग लिया था।

इस पांच सदस्य-देशों की बैठक, जिसमें ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं, ने नए उद्योगों जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, 5 जी, और औद्योगिक इंटरनेट में सहयोग पर एक संयुक्त बयान दिया है।

चीन के उद्योग और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, जिओ यक़िंग ने यह कहा है कि, ब्रिक्स के साथ व्यावहारिक सहयोग को मजबूत करने के लिए चीन में ब्रिक्स इनोवेशन बेस की स्थापना के बारे में बीजिंग सक्रिय रूप से विचार कर रहा है।

मुख्य विशेषताएं

• ब्रिक्स उद्योग मंत्रियों की वीडियो बैठक सितंबर 2020 की शुरुआत में ब्रिक्स के विदेश मंत्रियों की प्रस्तावित बैठक से पहले हुई है, जिसे वर्तमान ब्रिक्स अध्यक्ष रूस द्वारा संचालित किया गया है।

• इस बैठक के दौरान, चीन ने ब्रिक्स देशों से यह आग्रह किया है कि, वे डिजिटल परिवर्तन, विशेष रूप से एआई, डिजिटल अर्थव्यवस्था और 5 जी में अपने सहयोग को मजबूत करें।

• इस बैठक में उद्यमों के डिजिटल परिवर्तन और उनकी नवाचार क्षमताओं को बढ़ावा देने के लिए और स्थायी सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए भी सहयोग को प्रोत्साहित किया गया।

• जिओ याक़िंग ने इस बात पर जोर दिया कि, ब्रिक्स देशों को संचार को मजबूत करने, आर्थिक सुधार को बढ़ावा देने और महामारी नियंत्रण और रोकथाम में अपने अनुभव साझा करने, काम और उत्पादन फिर से शुरू करने, चिकित्सा आपूर्ति की गारंटी देने और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए आपस में पूरा सहयोग करना चाहिए।

• विकास के लचीलेपन को बढ़ाने, औद्योगिक और आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने, एक अच्छा विकास वातावरण बनाने की आवश्यकता और जोखिमों का जवाब देने के लिए इन देशों की क्षमताओं को बढ़ाने के बारे में भी चर्चा की गई।

भारत और चीन के बीच आर्थिक संबंध प्रभावित

वर्तमान में, 15 जून, 2020 को गल्वान घाटी में टकराव के बाद, भारत और चीन के द्विपक्षीय संबंध एक कठिन दौर से गुजर रहे हैं। इस घटना ने दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को भी प्रभावित किया है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के विजन के तहत भारत ने आत्मनिर्भरता का रास्ता अपनाया है और केवल आवश्यक वस्तुओं के लिए ही आयात करने का निश्चय किया है।

हाल ही में, भारत ने कुछ चीनी ऐप्स पर भी प्रतिबंध लगा दिया था और चीन सहित अपने पड़ोसी देशों से विदेशी निवेश के लिए सख्त जांच प्रक्रिया अपनाई थी। भारत भी अब सिर्फ एक देश पर पूरी तरह निर्भर रहने के बजाय अपनी आपूर्ति श्रृंखला को अधिक विविध और लचीला बनाने पर सहजता से काम कर रहा है।

मौजूदा कोविड ​​-19 के कारण, रूस ने जुलाई 2020 में एससीओ और ब्रिक्स शिखर सम्मेलन को स्थगित कर दिया था। यह शिखर सम्मेलन जून में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद शुरू होने के बाद एक मीटिंग पॉइंट हो सकता था।

9. केंद्र सरकार ने मानसिक स्वास्थ्य के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर

केंद्र सरकार ने मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के लिए ‘किरण’ हेल्पलाइन सेवा शुरू की। देशभर के जिन लोगों को मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं की तलाश है, वे 03 सितम्बर 2020 से ‘किरण’ के माध्यम से इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। यह एक फ्री हेल्पलाइन है, जिसे केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया है।

कोरोना वायरस महामारी औरल लॉकडाउन के दौरान लोगों में मानसिक बीमारियों की दर भी बढ़ी है। केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री, थावर चंद गहलोत ने 27 अगस्त 2020 को मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के लिए एक टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 'किरण' शुरू किया।

टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय व इसके सहयोगियों द्वारा तैयार हेल्पलाइन 1800-599-0019 का मकसद शुरुआती जांच, प्राथमिक उपचार, मनोवैज्ञानिक समर्थन, तनाव प्रबंधन, मानसिक स्वास्थ्य की बेहतरी, विचलित व्यवहार के रोकथाम और मनोवैज्ञानिक क्षेत्र में संकट प्रबंधन को उपलब्ध कराना है।

उद्देश्य

मानसिक स्वास्थ्य पुर्नसुधार संबंधी सेवाएं उपलब्ध कराने के साथ ही हेल्पलाइन का उद्देश्य तनाव, चिंता, डिप्रेशन, पैनिक अटैक, एडजस्टमेंट डिस्ऑर्डर, पोस्ट ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिस्ऑर्डर, सब्सटेंस एब्यूज, सुसाइडल थॉट्स, महामारी के चलते पैदा हुए मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध कराना है।

हेल्पलाइन के बारे में

इस हेल्पलाइन के द्वारा 13 भाषाओं में बात की जा सकती हैं। इसमें किसी भी व्यक्ति, परिवार, गैर सरकारी संगठनों, डीपीओ, माता-पिता संघों, पेशेवर संगठनों, पुनर्वास संस्थानों, अस्पतालों या देश भर में समर्थन की आवश्यकता वाले किसी भी व्यक्ति के लिए सहायता प्रदान करेगी। इसमें लद्दाख, जम्मू और कश्मीर, आठ उत्तर-पूर्वी राज्य के साथ अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप शामिल है।

प्रति घंटे 300 लोगों को संभालने की क्षमता के साथ 660 वॉलेंटियर्स नैदानिक और पुनर्वास मनोवैज्ञानिक, 668 वॉलेंटियर मनोचिकित्सकों के साथ-साथ 75 विशेषज्ञ हेल्पलाइन के 25 केंद्रों में शामिल किए जाएंगे।

इस हेल्पलाइन का समन्वय नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर द एम्पावरमेंट ऑफ पर्सन्स फॉर मल्टीपल डिसेबिलिटी (NIEPMD, चेन्नई) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ रिहैबिलिटेशन (NIMHR, सीहोर) द्वारा किया जाएगा।

10. जेम्स एंडरसन ने 600 विकेट लेने वाले दुनिया के पहले तेज गेंदबाज बने

इंग्लैंड के दिग्गज तेज़ गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में 600 विकेट लेने वाले पहले तेज़ गेंदबाज़ बन गए हैं। पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज के तीसरे और आखिरी टेस्ट के दौरान 25 अगस्त 2020 को उन्होंने अपने टेस्ट करियर के 600 विकेट पूरे कर लिये। इसके साथ ही टेस्ट इतिहास में 600 विकेट पूरे करने वाले वह पहले तेज गेंदबाज बन गए।

जेम्स एंडरसन का 600वां शिकार पाकिस्तान के कप्तान अजहर अली बने। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने पहली स्लिप में उनका कैच जैसे ही लपका, सभी खिलाड़ियों ने एंडरसन को घेर लिया। यह उपलब्धि उन्होंने 156वें टेस्ट मैच में हासिल की। टेस्ट मैच शुरू होने से पहले एंडरसन के 593 विकेट थे। इस तेज गेंदबाज ने पहली पारी में 56 रन देकर 5 विकेट लिये, जिससे उनके टेस्ट विकेटों की संख्या 598 तक पहुंच गई थी।

कोरोना के कारण मैदान में एक भी दर्शक नहीं

कोरोना वायरस महामारी के कारण लागू प्रतिबंधों की वजह से मैदान में एक भी दर्शक नहीं था। जेम्स एंडरसन ने 2003 में जिम्बाब्वे के खिलाफ लॉर्ड्स में टेस्ट पदार्पण किया था।

दुनिया के इकलौते तेज गेंदबाज

जेम्स एंडरसन ने इतिहास रचते हुए टेस्ट क्रिकेट में 600 विकेट पूरे कर लिए। वे टेस्ट क्रिकेट मे ऐसा करने वाले दुनिया के इकलौते तेज गेंदबाज हैं, जबकि ओवरऑल चौथे बोलर हैं। उनसे पहले यह आंकड़ा श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन (800), ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न (708) और भारत के अनिल कुंबले (619) ने ही पार किया था।

जेम्स एंडरसन टेस्ट विकेट: एक नजर में

जेम्स एंडरसन ने 2003 में मार्क वर्मेलेन को आउट कर अपना पहला टेस्ट विकेट लिया था। साल 2007 में महेंद्र सिंह धोनी उनका 50वां टेस्ट शिकार थे। उन्होंने जैक्स कैलिस को आउट कर साल 2008 में अपने 100 टेस्ट विकेट पूरे किए थे। एंडरसन ने साल 2010 में 200 टेस्ट विकेट ले लिए थे। पीटर सिडल उनका 200वां टेस्ट शिकार बने थे।

एंडरसन ने साल 2013 में पीटर फुल्टन को आउट कर 300 टेस्ट विकेट पूरे किए थे। साल 2015 में मार्टिन गुप्टिल को आउट कर अपने टेस्ट विकेटों की संख्या 400 पहुंचाई थी। उन्होंने 2017 में जब वेस्टइंडीज के क्रैग ब्रैथवेट को आउट किया, तब वह 500 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए थे। अब अजहर अली उनका 600वां टेस्ट शिकार बने हैं।

11. India Coronavirus Update : देश में Corona के मामले 33 लाख के पार, रिकवरी दर में हुआ सुधार

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और बुधवार देर रात तक संक्रमण के 71 हजार से अधिक नए मामले सामने आने से कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33 लाख के पार हो गया तथा करीब 969 और कोरोना मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या 60 हजार से अधिक हो गई। वायरस के बढ़ते कहर के बीच राहत की बात यह है कि मरीजों के स्वस्थ होने की संख्या में भी वृद्धि जारी है और आज फिर रिकवरी दर में आंशिक सुधार दर्ज की गई। महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु समेत विभिन्न राज्यों से मिली जानकारी के अनुसार आज देर रात तक 71,010 नए मामले सामने आने से संक्रमितों का कुल आंकड़ा 33,02,764 तथा मृतकों की संख्या 60,581 हो गई है। चिंता की बात यह है कि स्वस्थ होने वाले मरीजों की तुलना में नए मामलों में वृद्धि जारी है जिसके कारण सक्रिय मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। आज रिकॉर्ड 15,428 मरीज बढ़ने से सक्रिय मामले बढ़कर 7,22,695 पहुंच गए। इस दौरान 51,561 लोगों के स्वस्थ होने से संक्रमण मुक्त होने वालों का आंकड़ा 25,18,813 पर पहुंच गया। इसके कारण स्वस्थ होने वाले मरीजों की दर गत दिवस के 76.24 प्रतिशत से आज सुधरकर 76.26 फीसदी पर पहुंच गई। मृत्यु दर भी घटकर 1.83 फीसदी रह जाने से भी राहत मिली है। राज्यों से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में सबसे अधिक 14,888 नए मामले सामने आए। इसके बाद आंध्र प्रदेश में 10830, कर्नाटक में 8580, तमिलनाडु में 5958, उत्तर प्रदेश में 5640, ओडिशा में 3371, पश्चिम बंगाल में 2974, केरल में 2476, बिहार में 2163, दिल्ली में 1693, पंजाब में 1513, हरियाणा में 1397, गुजरात में 1197, मध्य प्रदेश में 1064 तथा छत्तीसगढ़ में 1045 नए मामले सामने आए। कोरोना महामारी से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के रिकॉर्ड 14,888 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या आज रात बढ़कर 7,18,711 पहुंच गई। राज्य में इस दौरान नए मामलों की तुलना में स्वस्थ मामलों में भी गिरावट दर्ज की गई और इस दौरान 7,637 और मरीजों के स्वस्थ होने से संक्रमण से मुक्ति पाने वालों की संख्या 5,22,427 पहुंच गई है। इस दौरान 295 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 23,089 हो गई है। राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर आज आंशिक गिरावट के साथ 72.68 फीसदी हो गई जो मंगलवार को 73.14 प्रतिशत पहुंच गई थी जबकि मरीजों की मृत्यु दर कल के 3.23 प्रतिशत से घटकर 3.21 फीसदी रह गई। चिंता की एक और बात यह भी है कि राज्य में आज सक्रिय मामलों में 6,952 की बढ़ोतरी दर्ज की गई। राज्य में कुल सक्रिय मामलों की संख्या आज 1,72,873 पहुंच गई। तमिलनाडु में सक्रिय मामलों की संख्या 1154 घटकर 52,128 हो गई है तथा 6721 लोगों की मौत हुई है। वहीं राज्य में अब तक 332,454 लोग संक्रमणमुक्त हुए हैं। आबादी के हिसाब से देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में भी इस दौरान 287 मरीजों की वृद्धि हुई है जिससे सक्रिय मामले 49,575 हो गए हैं तथा इस महामारी से 3059 लोगों की मौत हुई है जबकि 144,754 मरीज ठीक हुए हैं। पश्चिम बंगाल में कोरोनावायरस के 27349 सक्रिय मामले हैं तथा 2909 लोगों की मौत हुई है, वहीं अब तक 114,543 लोग स्वस्थ हुए हैं। तेलंगाना में कोरोना के 25,685 सक्रिय मामले हैं और 780 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 85223 लोग इस महामारी से ठीक हुए है। ओडिशा में मरीजों की संख्या 198 बढ़ने से सक्रिय मामले 24333 हो गए। राज्य में 2545 लोगों के स्वस्थ होने से रोगमुक्त लोगों की संख्या 59470 हो गई है जबकि 428 लोगों की मौत हुई है। केरल में सक्रिय मामले बढ़कर 21296 हो गए तथा 1456 लोगों के स्वस्थ होने से ठीक हुए लोगों की संख्या बढ़कर 40339 हो गई है। राज्य में अब तक 244 लोगों की मौत हुई है। बिहार में 1676 मरीज कम हुए हैं और अब यहां सक्रिय मामलों की संख्या 19716 हो गई है। राज्य में 519 लोगों की मौत हुई है जबकि 104,301 लोग संक्रमणमुक्त भी हुए हैं। गुजरात में सक्रिय मामले 14,641 हैं तथा 2928 लोगों की मौत हुई है और 71236 लोग इस बीमारी से स्वस्थ भी हुए हैं। इसके बाद पंजाब में सक्रिय मामलों की संख्या 14254 हो गई है तथा संक्रमण से निजात पाने वालों की संख्या बढ़कर 29145 हो गई है जबकि अब तक 1178 लोगों की मौत हो चुकी है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इस दौरान सक्रिय मामले की तादाद में 372 की वृद्धि होने से यह संख्या 11,998 हो गई है। वहीं संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या 4330 हो गई है तथा अब तक 147743 मरीज रोगमुक्त हुए हैं।

कोरोना महामारी से अब तक मध्य प्रदेश में 1265, राजस्थान में 980, जम्मू-कश्मीर में 638, हरियाणा में 623, झारखंड में 347, असम में 260, छत्तीसगढ़ में 221, उत्तराखंड में 213, पुड्डुचेरी में 172, गोवा में 157, त्रिपुरा में 83, चंडीगढ़ में 40, अंडमान निकोबार द्वीप समूह में 37, हिमाचल प्रदेश में 30, लद्दाख में 24, मणिपुर में 24,नगालैंड में नौ, मेघालय में आठ, अरुणाचल प्रदेश में पांच, सिक्किम में तीन तथा दादर-नागर हवेली एवं दमन-दीव में दो लोगों की मौत हुई है।

12. ड्वेन ब्रावो बने टी20 क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज

वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर और दुनिया की विभिन्न टी20 लीग में खेलने वाले ड्वेन ब्रावो क्रिकेट के इस सबसे छोटे प्रारूप में 500 विकेट हासिल करने वाले पहले गेंदबाज बन गए हैं। ब्रावो ने कैरेबियाई प्रीमियर लीग (सीपीएल) में ट्रिनिबागो नाइटराइडर्स की तरफ से सेंट लूसिया जॉक्स के खिलाफ खेलते हुए सलामी बल्लेबाज रकीम कार्नवॉल को आउट करके यह उपलब्धि हासिल की। ट्रिनिबागो ने बारिश से प्रभावित यह मैच 6 विकेट से जीता। मध्यम गति के गेंदबाज ब्रावो ने 459 टी20 मैचों में यह उपलब्धि हासिल की जहां तक फिलहाल किसी अन्य गेंदबाज का पहुंचना मुश्किल लग रहा है। ब्रावो (501 विकेट) के बाद टी20 में सर्वाधिक विकेट हासिल करने वाले गेंदबाजों में श्रीलंका के लसिथ मलिंगा दूसरे नंबर पर काबिज हैं जिनके नाम पर 390 विकेट दर्ज हैं। उनके बाद सुनील नारायण (383), इमरान ताहिर (374), सोहेल तनवीर (356) और शाकिब अल हसन (354) का नंबर आता है। ब्रावो ने वेस्टइंडीज की तरफ से 40 टेस्ट, 164 वनडे और 71 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं।

13. मध्य प्रदेश में मेट्रो रेल कंपनी बनी 'मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन'

मध्य प्रदेश के भोपाल और इन्दौर शहरों में मेट्रो रेल चलाने के लिए गठित मध्य प्रदेश मेट्रो रेल कंपनी लिमिटेड को अब मध्य प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के नाम से जाना जाएगा। जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में बुधवार को कंपनी की निदेशक मंडल की बैठक में कंपनी का नाम बदलकर 'मध्य प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन' करने का निर्णय लिया गया। अधिकारी ने बताया कि कंपनी को बोर्ड बनाए जाने के संबंध में भारत सरकार, मध्य प्रदेश सरकार एवं मध्य प्रदेश मेट्रो रेल कंपनी लिमिटेड के बीच 19 अगस्त 2019 को त्रिपक्षीय एमओयू साइन किया गया था। बुधवार की बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई। कॉपोरेशन के प्रबंध निदेशक नीतेश व्यास ने बताया कि त्रिपक्षीय समझौते के अनुसार नए बोर्ड में भारत सरकार के 5 संचालक तथा मध्य प्रदेश सरकार के 5 संचालक (प्रबंध संचालक सहित) शामिल होंगे। मध्य प्रदेश सरकार के नगरीय विकास आयुक्त इसके प्रबंध संचालक होंगे तथा प्रमुख सचिव वित्त, राजस्व, लोक निर्माण विभाग तथा नगरीय विकास विभाग इसके संचालक होंगे। चौहान ने बैठक में निर्देश दिए कि इस संबंध में आगामी कार्यवाहियां तत्परता के साथ पूर्ण की जाएं, जिससे प्रदेश के इंदौर-भोपाल शहरों में मेट्रो रेल के कार्य को गति प्रदान कर लक्षित समय 3 से 4 वर्ष में पूर्ण किया जा सके।

भारत सरकार के मेट्रो रेल अधिनियमों के अंतर्गत मेट्रो निर्माण क्षेत्र को मेट्रोपोलिटन क्षेत्र घोषित किया जाना आवश्यक है। इस संबंध में बैठक में इंदौर एवं भोपाल मेट्रो क्षेत्रों को 'मेट्रोपोलिटन क्षेत्र' घोषित किए जाने संबंधी कार्रवाई किए जाने का निर्णय लिया गया।

14 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved