Search

15th October | Current Affairs | MB Books


1. 15 अक्टूबर : विश्व छात्र दिवस

15 अक्टूबर को विश्व छात्र दिवस के रूप में मनाया जाता है, इसे भारत के पूर्व राष्ट्रपति व महान वैज्ञानिक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के जन्म दिवस के उपलक्ष्य पर मनाया जाता है। 2015 में संयुक्त राष्ट्र ने 15 अक्टूबर को “विश्व छात्र दिवस” के रूप में मनाये जाने की घोषणा की थी।

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम

डॉ. अवुल पाकिर जैनुलब्दीन अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर, 1931 को रामेश्वरम में हुआ था। वे भारत के 11वें राष्ट्रपति थे, वे 2002 से 2007 तक भारत के राष्ट्रपति रहे। इससे पहले उन्होंने रक्षा अनुसन्धान व विकास संगठन (DRDO) तथा भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन (ISRO) में लगभग 4 दशकों तक वैज्ञानिक तथा साइंस एडमिनिस्ट्रेटर के रूप में कार्य किया। भारत के नागरिक अन्तरिक्ष कार्यक्रम तथा सैन्य मिसाइल विकास कार्यक्रम में उनकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण रही। मिसाइल विकास कार्यक्रम में योगदान के लिए उन्हें “मिसाइल मैन ऑफ़ इन्डिया” कहा जाता है।

इसके अलावा 1998 में किये गये पोखरण-II परमाणु परीक्षण में भी उनकी काफी महत्वपूर्ण भूमिका थी। वर्ष 1997 में उन्हें उनके योगदान के लिए भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। वर्ष 2009 में उन्हें हुवर मैडल प्रदान किया गया तथा 2013 में NSS वोन ब्राउन अवार्ड से सम्मानित किया गया।

डॉ. कलाम एक प्रसिद्ध लेखक भी थे, उनकी पुस्तकें विशेषतः छात्रों में काफी लोकप्रिय हैं। डॉ. कलाम द्वारा रचित प्रमुख पुस्तकें हैं : इंडिया 2020, विंग्स ऑफ़ फायर, इग्नाइटेड माइंडस, द लुमिनस स्पार्क्स, मिशन इंडिया, इंस्पायरिंग थॉट्स, इन्डोमिटेबल स्पिरिट, टर्निंग पॉइंट्स, टारगेट 3 बिलियन, फोर्ज योर फ्यूचर, ट्रांसेंडेंस : माय स्पिरिचुअल एक्सपीरियंस विद प्रमुख स्वामीजी, एडवांटेज इंडिया : फ्रॉम चैलेंज टू अपोर्चुनिटी।


2. Corona Vaccine के लिए ह्यूस्टन विश्‍वविद्यालय ने भारतीय-अमेरिकी कंपनी को बनाया सहयोगी

ह्यूस्टन विश्‍वविद्यालय ने कोरोनावायरस (Coronavirus) जैसी बीमारियों के लिए टीका विकसित करने की खातिर एक भारतीय-अमेरिकी द्वारा सह-स्थापित बायोटेक कंपनी ऑरावेक्स थेराप्यूटिक्स के साथ हाथ मिलाया है। हालांकि ऑरावेक्स के पास नई टीका तकनीक का लाइसेंस लेने का विकल्प है जिसे भारतीय-अमेरिकी सह-संस्थापक नवीन वरदराजन ने विकसित किया है। वरदराजन ने कहा कि कोविड​​-19 महामारी से निपटने के लिए एक सुरक्षित और टिकाऊ टीके की जरूरत है क्योंकि इस महामारी ने दुनियाभर में लाखों लोगों को संक्रमित किया गया है और 6,20,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि हमारी योजना श्वसन वायरस कोविड-19 को नाक के पास ही रोकने की है और हमारा मानना है कि इस बीमारी के लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की खातिर हमारा अलग नजरिया है। पूर्व-क्लीनिकल प्रयोगों के आधार पर वरदराजन ने कहा कि उनकी तकनीक न केवल ‘म्यूकोसल’ प्रतिरक्षा को, बल्कि व्यवस्थित रूप से प्रतिरक्षा क्षमता को भी बढ़ावा देती है। कंपनी ऑरावेक्स अपनी टीका प्रणाली को 'अगली पीढ़ी' का बताती है जिसके तहत घर पर भी टीका दिया जा सकता है।वरदराजन ने कहा कि हम ह्यूस्टन विश्वविद्यालय के साथ सहयोग को लेकर उत्साहित हैं और विभिन्न श्वसन वायरसों पर काबू के लिए इस टीका के विकास को आगे बढ़ाते हुए भविष्य की सफलता के प्रति उत्सुक हैं।

उन्होंने कहा कि हम इसकी शुरूआत कोविड-19 से कर रहे हैं।ह्यूस्टन विश्वविद्यालय के उपाध्यक्ष (शोध और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण) ए एलनाशाई ने कहा कि ऑरावेक्स हमारे लिए एक आदर्श सहयोगी है। इस सहयोग को उनका पूरे दिल से समर्थन है।


3. पाकिस्तान UNHRC का पांचवीं बार सदस्य चुना गया

पाकिस्तान के खराब मानवाधिकार रिकॉर्ड को लेकर विभिन्न मानवाधिकार समूहों के विरोध के बावजूद संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में उसे दोबारा चुन लिया गया। पाकिस्तान इस परिषद के लिए पांचवीं बार चुना गया है। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च मानवाधिकार निकाय के लिये एशिया प्रशांत क्षेत्र की चार सीटों पर पांच उम्मदवारों में से पाकिस्तान को सर्वाधिक मत मिले हैं।

पाकिस्तान ने चीन, रूस और क्यूबा के साथ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की सीटों पर जीत हासिल की है। पाकिस्तान को ये जीत मानवाधिकार के मामले में उसके खराब रिकॉर्ड के बावजूद मिली। संयक्त राष्ट्र महासभा में गुप्त मतदान में पाकिस्तान को 169 मत मिले। पाकिस्तान के बाद उज्बेकिस्तान को 164, नेपाल को 150 और चीन को 139 मत मिले। 193 सदस्यीय महासभा में सऊदी अरब को केवल 90 वोट मिल पाया और वह इस दौड़ से बाहर हो गया।

मानवाधिकार परिषद के नियमों के अंतर्गत भौगोलिक प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न क्षेत्रों को सीटें आवंटित की जाती हैं। 47 सदस्यीय मानवाधिकार परिषद में 15 सदस्यों का चुनाव पहले ही हो चुका था क्योंकि अन्य सभी क्षेत्रीय समूह के सदस्य निर्विरोध निर्वाचित हुए।

पाकिस्तान UNHRC का पांचवीं बार सदस्य चुना गया

पाकिस्तान फिलहाल 01 जनवरी 2018 से मानवाधिकार परिषद का सदस्य है। फिर से चुने जाने पर उसे परिषद के सदस्य के तौर पर तीन साल का एक दूसरा कार्यकाल मिल गया है जो 01 जनवरी 2021 से शुरू होगा। मानवाधिकार परिषद की स्थापना साल 2006 में हुयी थी। इसके बाद से यह पांचवा मौका है जब पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के सर्वोच्च निकाय के लिये निर्वाचित हुआ है।

अमेरिका ने क्या कहा?

अमेरिका का कहना है कि मानवाधिकारों को लेकर चीन का रिकार्ड बेहद खराब रहा है। कुछ ही दिन पहले अमेरिका, कनाडा और यूरोप के मानवाधिकार समूहों के एक गठबंधन ने संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों से चीन, रूस, सऊदी अरब, क्यूबा, पाकिस्तान एवं उज्बेकिस्तान के निर्वाचन का विरोध करने का आह्वान किया था। इनका कहना था कि इन देशों का मानवाधिकार रिकॉर्ड उन्हें इसके लिये अयोग्य करार देता है।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद: एक नजर में

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) एक अंतर-सरकारी निकाय है जो मानव अधिकारों की रक्षा करता है एवं उनको बढ़ावा देता है। यह मानवीय गरिमा के सार्वभौमिक आदर्शों के लिए दुनिया की प्रतिबद्धता का प्रतिनिधित्व करता है।

संयुक्त राष्ट्र संघ ने मानव अधिकार आयोग की स्थापना वर्ष 1946-47 में आर्थिक एवं सामाजिक परिषद की एक कार्यात्मक समिति के रूप में की थी। इसका मुख्य कार्य-प्रतिवेदन तैयार करना, अधिकारों के अंतर्राष्ट्रीय बिल, नागरिक स्वतंत्रता, स्त्री दशा एवं मानवाधिकार सम्बन्धी विषयों पर अपनी अनुशंसाएं प्रकट करना था। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 मार्च 2006 को एक नई मानवाधिकार परिषद के गठन का प्रस्ताव पारित किया। इस 47 सदस्यीय मानवाधिकार परिषद ने 53 सदस्यीय मानवाधिकार आयोग का स्थान लिया है।

यूएनएचआरसी, महासभा परिषद के उद्देश्यों की प्राप्ति में राष्ट्रों के योगदान और प्रतिबद्धता को देखता हैं। इसके प्रत्येक सीट की अवधि तीन वर्ष होती है। मानवाधिकार उच्चायुक्त संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख मानव अधिकार अधिकारी होते हैं। यूएनएचआरसी, संयुक्त राष्ट्र सचिवालय का एक हिस्सा है। इसका मुख्यालय जिनेवा में स्थित हैं।


4. एक्सिस बैंक ने Google pay के साथ मिलकर लॉन्च किया ACE क्रेडिट कार्ड

एक्सिस बैंक ने डिजिटल अर्थव्यवस्था में उपयोगकर्ताओं की बढ़ती भागीदारी पर ध्यान केंद्रित करने के लिए एक्सिस ACE क्रेडिट कार्ड नामक एक नया एंट्री-लेवल क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है।

यह उपयोगकर्ताओं को एप्लीकेशन से जारी करने के लिए एक सहज, डिजिटल अनुभव दिलाने के लिए लॉन्च किया है।

कार्ड Google पे के सहयोग से लॉन्च किया गया है और यह वीज़ा (सिग्नेचर) प्लेटफॉर्म पर चलेगा।


5. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विश्व बैंक से सहायता प्राप्त STARS परियोजना को दी मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विश्व बैंक से सहायता प्राप्त STARS परियोजना के कार्यान्वयन को मंजूरी दी है। यह परियोजना शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए प्रत्यक्ष संबंधों के साथ हस्तक्षेपों को लागू करने, विकासित करने, मूल्यांकन और सुधार करने में राज्यों का समर्थन करना चाहती है। STARS का उद्देश्य राज्यों के लिए टीचिंग-लर्निंग और परिणाम को मजबूत बनाना है।

इस परियोजना की कुल लागत लगभग 5,718 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है, जिसमें से विश्व बैंक से प्राप्त वित्तीय सहायता 500 मिलियन अमरीकी डालर (लगभग 3700 करोड़ रुपये) होगी। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद हुई प्रेस वार्ता के दौरान यह जानकारी दी है।

इस परियोजना में छह राज्य - राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा और केरल - शामिल होंगे। यह मील का पत्थर साबित होगी और इस परियोजना के माध्यम से नई शिक्षा नीति की शुरुआत होने की उम्मीद है।

मुख्य विशेषताएं

इस STARS परियोजना के तहत, हमारे देश में पहचाने गए छह राज्यों को शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के उद्देश्य से विभिन्न हस्तक्षेपों के लिए सहायता प्रदान की जाएगी।

इस परियोजना का मुख्य केंद्र और उद्देश्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 के उद्देश्यों के अनुरूप गुणवत्ता आधारित शिक्षण परिणाम हासिल करना है।

यह परियोजना चयनित राज्यों में भारतीय स्कूल शिक्षा प्रणाली में समग्र निगरानी और माप गतिविधियों में हस्तक्षेप के माध्यम से सुधार कर रही है।

यह परियोजना वास्तविक परिणामों को हासिल करने के लिए निधियों की प्राप्ति और संवितरण को इन परिणामों से जोड़कर इनपुट के प्रावधान और इन परिणामों को कायम रखने से ध्यान हटाएगी।

इस परियोजना को शिक्षा मंत्रालय के स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग के तहत एक नई केंद्र प्रायोजित योजना के तौर पर लागू किया जाएगा।

STARS परियोजना के दो प्रमुख भागों में ये भी शामिल हैं

1) यह परियोजना में राष्ट्रीय स्तर पर निम्नलिखित हस्तक्षेप की परिकल्पना की गई है:

छात्रों की रिटेंशन, ट्रांजीशन और कम्पलीशन रेस्ट्स के बारे में सटीक और प्रामाणिक डाटा हासिल करने के लिए शिक्षा मंत्रालय के राष्ट्रीय डाटा सिस्टम को मजबूत बनाना।

राज्यों के पीजीआई स्कोर को बेहतर बनाने में सहायता प्रदान करना।

अधिगम मूल्यांकन प्रणाली की मजबूती के लिए समर्थन करना।

राष्ट्रीय मूल्यांकन केंद्र (PARAKH) की स्थापना के लिए शिक्षा मंत्रालय के प्रयासों का समर्थन करना।

STARS परियोजना में एक आकस्मिक आपातकालीन प्रतिक्रिया घटक (CERC) भी शामिल होगा, जो किसी भी प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदा या स्वास्थ्य आपातकाल के मामले में अधिक उत्तरदायी होगा। इससे सरकार को ऐसी विभिन्न परिस्थितियों जैसेकि, स्कूल बंद/ बुनियादी ढांचे की क्षति, अपर्याप्त सुविधाएं की प्रतिक्रिया में मदद मिलेगी जिनसे सीखने की क्षति होती है और इसके साथ ही दूरस्थ शिक्षा की सुविधा के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग करने के लिए यह योजना उपयोगी साबित होगी।

2) यह परियोजना राज्य स्तर पर निम्नलिखित हस्तक्षेप की परिकल्पना करती है:

छोटे बच्चों की शिक्षा और मूलभूत शिक्षा को मजबूत करना

अधिगम मूल्यांकन प्रणालियों में सुधार

शिक्षक विकास और स्कूल नेतृत्व के माध्यम से कक्षा निर्देश और सुधार उपायों को मजबूत करना

स्कूली बच्चों को मुख्यधारा में शामिल करने के लिए, करियर गाइडेंस और परामर्श, इंटर्नशिप और कवरेज के माध्यम से स्कूलों में व्यावसायिक शिक्षा को मजबूत बनाना।

प्रमुख उद्देश्य

इस परियोजना के कुछ लक्षित उद्देश्यों में निम्नलिखित को हासिल करना शामिल है:

ग्रेड 3 भाषा में न्यूनतम प्रवीणता प्राप्त करने वाले छात्रों की संख्या में वृद्धि

माध्यमिक विद्यालय पूर्णता दर में सुधार

गवर्नेंस इंडेक्स स्कोर में सुधार

अधिगम मूल्यांकन प्रणाली (लर्निंग असेसमेंट सिस्टम्स) को सुदृढ़ बनाना

राज्यों के बीच क्रॉस-लर्निंग की सुविधा के लिए साझेदारी विकसित करना

राज्य स्तरीय सेवा वितरण में सुधार


6. भारतपे ने अपने अभियान के लिए 11 क्रिकेट स्टार्स को बनाया अपना ब्रांड एंबेसडर

BharatPe ने ब्रांड एंबेसडर के रूप में 11 क्रिकेट स्टार्स के साथ अपने सबसे प्रभावी टीवी अभियान ‘Team BharatPe’ को शुरू की घोषणा की है।

इस टीवीसी सीरीज़ को जाने-माने बॉलीवुड निर्देशक पुनीत मल्होत्रा द्वारा निर्देशित किया गया है, और जो- "हम है टीम भारतपे - जो देश के हर दुकानदार के साथ है खड़े" का संदेश देता है।

टीम BharatPe में रोहित शर्मा, जसप्रित बुमराह, केएल राहुल, मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, श्रेयस अय्यर, पृथ्वी शॉ, संजू सैमसन, युजवेंद्र चहल, और शुभमन गिल शामिल हैं।


7. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र सरकार का तोहफा, दिया 520 करोड़ रुपये का पैकेज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 14 अक्टूबर 2020 को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेशों के लिए 520 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज को मंजूरी दी है। यह पांच साल की अवधि के लिए है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में दीनदयाल अंत्योदय योजना- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के लिए 520 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज को मंजूरी दी।

केंद्र सरकार ने कहा कि इससे इन केंद्र शासित प्रदेशों की जरूरत के आधार पर मिशन के अंतर्गत पर्याप्त धन सुनिश्चित कराया जाएगा। साथ ही केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में सभी केंद्र प्रायोजित व उन्मुख योजनाओं को धरातल पर समयबद्ध तरीके से उतारना ही भारत सरकार का लक्ष्य है।

उद्देश्य

इसका मुख्य उद्देश्य गरीब परिवारों को डीएवाई-एनआरएलएम के तहत उनकी आजीविका के साथ-साथ संस्थानों और बैंकों से वित्तीय संसाधनों के जरिए परिवार की एक महिला सदस्य को स्वयं सहायता समूह में शामिल करना, प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण के साथ-साथ आजीविका योजनाओं में सहायता प्रदान करना है।

मुख्य बिंदु

मिशन में स्वयं सहायता की भावना के साथ समुदाय पशेवरों के जरिए समुदाय संस्थानों के साथ कार्य करना शामिल है।

कार्यक्रम की सबसे अहम बात यह है कि इसे राष्ट्रीय, राज्य, जिला और ब्लॉक स्तर पर कार्यान्वयन सहायता इकाइयों के साथ मिशन मोड में लागू किया गया है।

यह जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बदली परिस्थितियों को देखते हुए ग्रामीण परिवारों और महिला सशक्तीकरण के लिहाज से जीवन स्तर को सुधारने का काम करेगा।

डीएवाई-एनआरएलएम एक केंद्र प्रायोजित कार्यक्रम है। इसका उद्देश्य देशभर में ग्रामीण गरीब परिवारों के लिए कई आजीविका के प्रचार के माध्यम से ग्रामीण गरीबी को समाप्त करना है।

दीनदयाल अंत्योदय योजना: एक नजर में

दीनदयाल अंत्योदय योजना का मुख्य उद्देश्य कौशल विकास और अन्य उपायों के माध्यम से आजीविका के अवसरों में वृद्धि कर शहरी और ग्रामीण गरीबी को कम करना है। मेक इन इंडिया, कार्यक्रम के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए सामाजिक तथा आर्थिक बेहतरी के लिए कौशल विकास आवश्यक है। दीनदयाल अंत्योदय योजना को आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय के तहत शुरू किया गया था।

इस योजना का लक्ष्य चरणबद्ध तरीके से शहरी बेघरों हेतु आवश्यक सेवाओं से लैस आश्रय प्रदान करना भी होगा। योजना शहरी सड़क विक्रेताओं की आजीविका संबंधी समस्याओं को देखते हुए उनकी उभरते बाजार के अवसरों तक पहुँच को सुनिश्चित करने के लिए उपयुक्त जगह, संस्थागत ऋण, और सामाजिक सुरक्षा और कौशल के साथ इसे सुविधाजनक बनाने से भी संबंधित है। केंद्र सरकार ने शहरी और ग्रामीण गरीबों के लिए दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना का आरंभ 25 सितंबर 2014 को किया था। योजना का उद्देश्य कौशल विकास और अन्य उपायों के माध्यम से आजीविका के अवसरों में वृद्धि कर शहरी और ग्रामीण गरीबी को कम करना है।


8. नितिन गडकरी ने किया 'जोजिला सुरंग' के निर्माण का शुभारंभ, पहली ब्लास्टिंग से की शुरुआत

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने 14.15 किलोमीटर की 'जोजिला सुरंग' के निर्माण से संबंधित कार्य के लिए गुरुवार को पहली 'ब्लास्टिंग' की शुरुआत की। गडकरी ने कहा कि यह भारत के लिए गौरव का क्षण है। इस परियोजना को नए सिरे से तैयार किए जाने से सरकारी खजाने को 4000 करोड़ रुपए की बचत होगी। यह एशिया की सबसे बड़ी सुरंगों में एक होगी। इससे श्रीनगर घाटी और लेह के बीच पूरे साल संपर्क बना रहेगा।ब्लास्टिंग से तात्पर्य किसी ठोस चीज को विस्फोट के जरिए उड़ाना या तोड़ना है। यह परियोजना रणनीतिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि जोजिला पास श्रीनगर-कारगिल-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग पर 11,578 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। सर्दियों में भारी बर्फबारी के दौरान यह बंद रहता है। अभी यह मार्ग वाहन चलाने की दृष्टि से दुनिया के सबसे खतरनाक रास्तों में आता है। यह परियोजना भू-रणनीतिक दृष्टि से भी संवेदनशील है। गडकरी ने एक वर्चुअल समारोह में ‘ब्लास्ट’ के जरिए इसका शुभारंभ करते हुए कहा कि यह भारत के लिए ‘गौरव का क्षण’ है। उन्होंने कहा कि इस परियोजना को नए सिरे से तैयार किए जाने से सरकारी खजाने को 4,000 करोड़ रुपए की बचत होगी। हालांकि इसके लिए सुरक्षा और गुणवत्ता से किसी तरह का समझौता नहीं किया गया है। इस सुरंग से राष्ट्रीय राजमार्ग-एक पर श्रीनगर और लेह के बीच सभी मौसम में संपर्क बना रहेगा। इससे जम्मू-कश्मीर में चौतरफा आर्थिक और सामाजिक-सांस्कृतिक एकीकरण में भी मदद मिलेगी। इसके तहत राष्ट्रीय राजमार्ग-एक पर करीब 3,000 मीटर की ऊंचाई पर जोजिला पास के नीचे 14.15 किलोमीटर की सुरंग का निर्माण किया जाएगा। अभी यहां साल में सिर्फ छह माह वाहन चलाए जा सकते हैं। सरकार ने कहा है कि निर्माण कार्य पूरा होने के बाद यह सुरंग आधुनिक भारत के इतिहास की एक बड़ी उपलब्धि होगी।

लद्दाख, गिलिगत और बाल्तिस्तान में देश की सीमा के पास भारी सैन्य गतिविधियों के मद्देनजर यह सुरंग देश की रक्षा की दृष्टि से भी काफी महत्वपूर्ण होगी।


9. ओलंपिक के 400 हर्डल्स रेस के चैंपियन चार्ली मूर का निधन

वर्ष 1952 के हेलसिंकी ओलंपिक में चार-मीटर हर्डल्स रेस चैंपियन चार्ली मूर (Charlie Moore) का निधन।

उन्होंने 1952 में बारिश में 400 हर्डल्स रेस जीतकर 50.8 सेकंड में क्वार्टर फाइनल में सेट किए गए ओलंपिक रिकॉर्ड की बराबरी की थी।

इसके अलावा उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका की 1,600 मीटर रिले टीम के लिए हेलसिंकी में एक रजत पदक भी जीता था।

ओलंपिक के बाद, उन्होंने लंदन में ब्रिटिश एम्पायर गेम्स में 440 हर्डल्स रेस में 51.6 का विश्व रिकॉर्ड बनाया।


10. बिहार के मंत्री विनोद कुमार सिंह का निधन

बिहार के अति पिछड़ा और अति पिछड़ा वर्ग मंत्री विनोद कुमार सिंह का COVID-19 के कारण का निधन।

वह उत्तरी बिहार के कटिहार जिले के प्राणपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक थे और इस निर्वाचन क्षेत्र से तीन बार विधायक चुने गए थे।


11. Reliance Industries को KKR से मिले 5550 करोड़ रुपए, 1.28% हिस्सेदारी के लिए किया निवेश

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (eliance Industries Limited) ने गुरुवार को कहा कि उसे वैश्विक निवेश फर्म केकेआर (KKR) से उसकी खुदरा शाखा में निवेश के लिए 5550 करोड़ रुपए मिले हैं। इससे पहले आरआईएल (RIL) ने 23 सितंबर को घोषणा की थी कि केकेआर उसकी सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (Reliance Retail Ventures Limited) में 1.28 प्रतिशत इक्विटी हिस्सेदारी (Share) खरीदने के लिए निवेश (Investment) करेगी। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड को एलिसियम एशिया होल्डिंग्स (केकेआर की एक इकाई) से 5,550 करोड़ रुपए मिले हैं और इसके बदले केकेआर को 81,348,479 इक्विटी शेयर आवंटित किए गए हैं। केकेआर का रिलायंस इंडस्ट्रीज की किसी सहायक कंपनी में दूसरा निवेश है। इससे पहले उसने इसी साल जियो प्लेटफार्म में 11,367 करोड़ रुपए का निवेश किया था। इससे पहले आरआईएल ने बताया था कि इस निवेश के तहत रिलायंस रिटेल का मूल्य 4.21 लाख करोड़ रुपए आंका गया है।

आरआरवीएल की सहायक इकाई रिलायंस रिटेल भारत के सबसे बड़े और तेजी से बढ़े खुदरा कारोबार का संचालन करती है और देशभर में इसके लगभग 12,000 स्टोर में 64 करोड़ लोग जाते हैं।


12. ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान दिल्ली में लागू किया जायेगा

प्रदूषण रोधी उपाय ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान दिल्ली में लागू किया जायेगा। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने बिजली जनरेटर सेट के संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया है। पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण ने पहले पंजाब, दिल्ली, राजस्थान और हरियाणा सरकारों को ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत वायु प्रदूषण नियंत्रण उपायों को लागू करने का निर्देश दिया था।

ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान क्या है?

ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान संस्थागत उपाय हैं जिन्हें वायु की गुणवत्ता बिगड़ने पर अपनाया जाता है। यह एक आपातकालीन उपाय है। इसे पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण द्वारा तैयार किया गया था। इसका उद्देश्य पार्टिकुलेट मैटर पीएम 10 और पीएम 2.5 को “मध्यम” वायु गुणवत्ता सूचकांक से अधिक होने से रोकना है।

योजना के बारे में

योजना चार श्रेणियों को सूचीबद्ध करती है और विशेष श्रेणी की स्थिति आने पर अपनाए जाने वाले उपायों को सूचीबद्ध करती है। वे इस प्रकार हैं :

मध्यम से ख़राब

वायु गुणवत्ता को मध्यम से ख़राब के रूप में वर्गीकृत किया जाता है, जब एंबिएंट पार्टिकुलेट मैटर कंसंट्रेशन निम्नानुसार है:

पीएम 5 का सान्द्रण 61 से 120 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर के बीच होता है

पीएम 10 की सांद्रता 101 और 350 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर के बीच है

इस स्थिति के दौरान किए जाने वाले उपाय इस प्रकार हैं:

बिजली संयंत्रों में प्रदूषण नियंत्रण के उपाय लागू किए जाने चाहिए

पटाखों पर प्रतिबंध

कचरा जलाना बंद किया जाए

सड़कों की मशीनीकृत सफाई

बहुत ख़राब

वायु गुणवत्ता को बहुत खराब के रूप में वर्गीकृत किया जाता है, जब एंबिएंट पार्टिकुलेट मैटर कंसंट्रेशन निम्नानुसार होता है:

पीएम 5 का सान्द्रण 121 से 250 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर के बीच है

पीएम 10 की सांद्रता 351 और 430 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर के बीच है

इस स्थिति के दौरान किए जाने वाले उपाय इस प्रकार हैं:

डीजल जनरेटर सेट का उपयोग बंद कर दिया जाना चाहिए

बस और मेट्रो सेवाओं की आवृत्ति बढ़ाई जानी चाहिए

खुले भोजनालयों और होटलों में कोयले और जलाऊ लकड़ी का उपयोग बंद कर दिया जाता है

गंभीर

वायु गुणवत्ता को गंभीर रूप से वर्गीकृत किया जाता है, जब एम्बिएंट पार्टिकुलेट मैटर कॉन्संट्रेशन इस प्रकार है:

पीएम 5 की सांद्रता 250 माइक्रो ग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक है

पीएम 10 की सांद्रता 430 माइक्रो ग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक है

इस स्थिति के दौरान किए जाने वाले उपाय इस प्रकार हैं

गर्म मिक्स प्लांट, स्टोन क्रशर और ईंट भट्टे बंद किये जाने चाहिए

सार्वजनिक परिवहन में ऑफ-पीक यात्रा शुरू की जानी चाहिए

सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जाना चाहिए

आपातकालीन

इसे सीवियर प्लस भी कहा जाता है। वायु गुणवत्ता को गंभीर रूप से वर्गीकृत किया जाता है, जब एम्बिएंट पार्टिकुलेट मैटर कॉन्संट्रेशन इस प्रकार है :

पीएम 5 का सान्द्रण 300 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर से अधिक है

पीएम 10 की सांद्रता 500 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर से अधिक है

इस स्थिति के दौरान किए जाने वाले उपाय इस प्रकार हैं :

निर्माण गतिविधियाँ रोक दी जाती हैं

स्कूल बंद किये जाते हैं

डीजल ट्रकों का प्रवेश निषिद्ध किया जाता है


13. भारत में पिछले 24 घंटे में दर्ज हुए 67,708 COVID-19 केस, कुल मामले 73 लाख पार

India Coronavirus Updates: भारत में 15 अक्टूबर यानी गुरुवार की सुबह तक कोरोनावायरस के संक्रमण के कुल मामलों (Coronavirus New Cases) की संख्या 73 लाख के पार हो गई है। भारत में गुरुवार को पिछले 24 घंटे में 67,708 COVID-19 केस दर्ज हुए हैं। इसके साथ ही देश में कुल संक्रमण के मामलों की संख्या 73,07,097 हो गई है। पिछले 24 घंटों में 81,541 मरीज़ ठीक हुए हैं, जिससे अब तक कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या 63,83,441 पर पहुंच गई है।

देश में रिकवरी रेट 87.35% पर चल रहा है कुल एक्टिव मरीज़ों की संख्या 11.11% यानी 8,12,390 है अगर मौतों की बात करें तो पिछले एक दिन में 680 मरीजों की मौत हुई है इस वायरस से अब तक कुल 1,11,266 लोगों की जान जा चुकी है देश में कोविड का डेथ रेट 1.52% पर चल रहा है

अगर कोरोना टेस्ट की बात करें तो पॉजिटिविटी रेट 5.95% पर चल रहापिछले 24 घंटों में 11,36,183 टेस्ट हुए हैं अब तक हुए कुल टेस्ट का आंकड़ा 9,12,26,305 हो चुका है

7 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved