Search

13th October | Current Affairs | MB Books


1. 13 अक्टूबर : अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस

13 अक्टूबर को प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य विश्व में आपदा निम्नीकरण तथा जोखिम के प्रति जागरूकता फैलाना है। इस दिन नागरिकों तथा सरकार को आपदा के लिए मज़बूत व सुरक्षित समुदाय व राष्ट्र निर्माण के लिए प्रेरित किया जाता है।

पृष्ठभूमि

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 1989 में अंतर्राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा निम्नीकरण की स्थापना की थी, इसका उद्देश्य वैश्विक स्तर पर आपदा निम्नीकरण तथा आपदाओं के बारे में जागरूकता फैलाना है। पहले इस दिवस को अक्टूबर के दूसरे बुधवार को मनाया जाता था, परन्तु 2009 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इसके लिए 13 अक्टूबर को निश्चित किया और इस दिवस का नाम बदल कर अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस कर दिया गया। इसके संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 64/200 प्रस्ताव पारित किया गया था।

आपदा जोखिम निम्नीकरण के लिए सेन्डाई फ्रेमवर्क (SFDRR) 2015-30

आपदा जोखिम निम्नीकरण के लिए सेन्डाई फ्रेमवर्क को संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों ने मार्च, 2015 को स्वीकृति दी थी। इसे जापान के सेन्डाई में आपदा जोखिम निम्नीकरण के तीसरे वैश्विक सम्मेलन के दौरान स्वीकृति दी गयी थी। इसे स्वीकार करना संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों की इच्छा पर निर्भर करता है। यह फ्रेमवर्क 2015 से 2030 की अवधि के लिए है। इस फ्रेमवर्क में स्थानीय निकायों, निजी क्षेत्र तथा अन्य स्टेकहोल्डर्स के बीच उत्तरदायित्व को साझा करने बल दिया गया है। इस फ्रेमवर्क को हयोगो फ्रेमवर्क फॉर एक्शन (2005-2015) के स्थान पर लाया गया है।

2. भारत ने संयुक्त राज्य अमेरिका के फिलाडेल्फिया शहर को 1.8 मिलियन एन 95 मास्क किये प्रदान

भारत सरकार ने अमेरिकी राज्य पेन्सिलवेनिया के सबसे बड़े शहर, फिलाडेल्फिया को 1.8 मिलियन एन 95 मास्क प्रदान किए हैं। यह भेंट कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में इस शहर की मदद करने के लिए दी गई है।

भारत द्वारा एन 95 मास्क की यह भेंट फिलाडेल्फिया के मेयर जिम केनी द्वारा फिलाडेल्फिया के फ्रंटलाइन श्रमिकों द्वारा उपयोग किए जाने वाले एन 95 मास्क की आपूर्ति के लिए भारत सरकार से अनुरोध करने के बाद प्रदान की गई है। भारत सरकार के इस कदम से स्वास्थ्य क्षेत्र में भारत-अमेरिका की मजबूत साझेदारी का एक और उदाहरण सामने आया है।

यह खबर संयुक्त राज्य में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के माध्यम से साझा की है, जिसमें उन्होंने कोविड 19 जैसे कठिन समय के दौरान फिलाडेल्फिया के लिए भारत द्वारा प्रदान की गई इस मदद की जानकारी दी है।

फिलाडेल्फिया के मेयर द्वारा 5 अक्टूबर, 2020 को इन एन 95 मास्क के लिए अनुरोध किया गया था, जो ऐसे फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं के उपयोग के लिए थे, जोकि कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं। फिलाडेल्फिया संयुक्त राज्य अमेरिका में सबसे अधिक आबादी वाला छटा शहर है।

पीपीई के निर्माण के लिए भारत की क्षमता बढ़ी

अधिकारियों के अनुसार, भारत द्वारा अमेरिकी शहर को एन 95 मास्क प्रदान करने का यह कदम, न केवल घरेलू उपयोग के लिए बल्कि, अन्य देशों को निर्यात करने के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के निर्माण में भारत की लगातार बढ़ती हुई क्षमताओं का संकेत है।

इससे पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अनुरोध पर, भारत ने मलेरिया-रोधी दवा, हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की भी आपूर्ति की थी, जिसे अमेरिका में कोरोना वायरस के संभावित इलाज के रूप में देखा गया है।

3. Johnson & Johnson ने कोरोना वैक्सीन परीक्षण पर लगाई रोक, जानें क्या है मुख्य कारण

दुनियाभर में वैज्ञानिक कोरोना वायरस वैक्सीन को तैयार करने हेतु दिन-रात जुटे हुए हैं। विश्वभर में कोरोना वायरस संक्रमितों का आंकड़ा चार करोड़ के लगभग पहुंच गया है। कोरोना के टीके की खोज के लिए विभिन्न देशों में परीक्षण चल रहा है। इस बीच, अमेरिका की चिकित्सा उपकरण विनिर्माता कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन ने कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को फिलहाल रोक दिया है।

जॉनसन एंड जॉनसन ने 12 अक्टूबर 2020 को कहा कि वह कोविड-19 (COVID-19) वैक्सीन के ट्रायल को अस्थायी रूप से रोक रहा है क्योंकि उसके प्रतिभागियों में से एक व्यक्ति बीमार हो गया है। कंपनी ने बयान में कहा कि हमने अपने कोविड-19 वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए प्रतिभागियों को दी जाने वाली आगे की खुराक फिलहाल के लिए रोक दी है। इसमें फेज 3 का ट्रायल भी शामिल है।

कोरोना वैक्सीन परीक्षण सूची में शामिल

इस महीने की शुरुआत में, जॉनसन एंड जॉनसन अमेरिका में वैक्सीन तैयार करने वाली उन कंपनियों की सूची में शामिल हुआ, जो प्रायोगिक कोरोना वैक्सीन परीक्षण से आगे बढ़ते हुए मानव परीक्षण चरण में पहुंचा। जॉनसन एंड जॉनसन की एडी26-सीओवी2-एस वैक्सीन अमेरिका में चौथी ऐसी वैक्सीन है, जो क्लिनिकल ट्रायल के अंतिम चरण में है।

एस्ट्राजेनेका ने भी परीक्षण पर रोक लगाया

एस्ट्राजेनेका ने भी इससे पहले कोरोना वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगा दी थी। परीक्षण के दौरान एक प्रतिभागी बीमार पड़ गया था, जिसके बाद कंपनी ने परीक्षण को रोक दिया। हालांकि, एस्ट्राजेनेका का कोरोना वैक्सीन परीक्षण दुनिया के कई देशों में जारी है, इसे केवल अमेरिका में ही रोका गया है।

60 हजार लोगों पर वैक्सीन का परीक्षण

जॉनसन एंड जॉनसन ने जब इस वैक्सीन के अंतिम चरण के परीक्षण को शुरू किया था, तब कंपनी ने कहा था कि इसके तहत अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, चिली, कोलंबिया, मैक्सिको और पेरू में 60 हजार लोगों पर वैक्सीन का परीक्षण किया जाएगा। जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन के ट्रायल पर रोक लगने की खबर ऐसे समय में आई है, जब इससे पहले एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन पर रोक लगा दी गई थी।

कोरोना का कहर जारी

दुनिया भर के 180 से ज्यादा देशों को कोरोना वायरस अपने चपेट में ले चुका है। दुनिया में कोविड-19 संक्रमितों की कुल संख्या 3.74 करोड़ के पार पहुंच गई है। वहीं, 10.76 लाख मरीज़ इस वायरस की वजह से अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 2.60 करोड़ से ज्यादा मरीज़ कोरोना वायरस को मात देने में सफल हुए हैं।

4. पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फ़ोर्स (FATF) की ग्रे लिस्ट में बरकरार रखा गया

फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ने घोषणा की कि पाकिस्तान को संगठन की “ग्रे सूची” के तहत रखा जायेगा। एफएटीएफ के एशिया-प्रशांत समूह ने “Follow up report on mutual evaluation of Pakistan” शीर्षक से एक रिपोर्ट प्रस्तुत की। पाकिस्तान को ‘ग्रे लिस्ट’ में डालने का फैसला इस रिपोर्ट के आधार पर लिया गया था।

मुख्य बिंदु

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आतंक के वित्त पोषण और एंटी मनी लॉन्ड्रिंग से निपटने की प्रभावशीलता पर पाकिस्तान की प्रगति 2019 की तुलना में काफी हद तक अपरिवर्तित रही।

2019 में, संगठन के एशिया प्रशांत समूह ने पाकिस्तान की स्थिति को “regular follow-up” से “enhanced follow up” तक घटा दिया था। Enhanced follow up का मतलब है कि देश को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स के अनुपालन की मासिक रिपोर्ट प्रदान करनी होगी। यह सदस्य की कमियों के सुधार की एक गहन प्रक्रिया है।

पाकिस्तान की गतिविधियाँ

2019 में एफएटीएफ सूची में डीग्रेड होने के बाद, पाकिस्तान ने तीन महत्वपूर्ण कानून पारित किए। वे हैं :

आतंकवाद विरोधी अधिनियम (संशोधन) विधेयक 2020

धन शोधन विरोधी (संशोधन) विधेयक

इस्लामाबाद राजधानी क्षेत्र वक्फ संपत्ति बिल

ग्रे सूची के तहत होने पर प्रभाव

जब किसी देश को ग्रे सूची में रखा जाता है, तो एशियाई विकास बैंक, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक जैसे अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से वित्तीय सहायता प्राप्त करना मुश्किल हो जाता है।

काला सूची में डालना

वर्तमान में पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की ब्लैक लिस्ट में डालने की संभावना नहीं है।यह मुख्य रूप से संगठन में चीन, तुर्की और मलेशिया द्वारा पाकिस्तान को दिए गए समर्थन के कारण है।

वर्तमान में उत्तर कोरिया और ईरान FATF की ब्लैक लिस्ट में हैं।

पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाल दिया गया क्योंकि यह जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी समूहों को धन के प्रवाह की जांच करने में विफल रहा।

आतंकवाद के खिलाफ देश की लड़ाई में मदद करने के लिए पाकिस्तान को 27-सूत्रीय कार्य योजना प्रदान की गई थी।हालांकि, एशिया प्रशांत समूह की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान 13 लक्ष्यों को पूर्ण करने में असफल रहा।

5. भारतीय ब्रांड 'Transform' ने चेतन आनंद को बनाया अपना ब्रांड एंबेसडर

कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन में पदक जीतने वाले चेतन आनंद को भारत के पहले घरेलू पेशेवर बैडमिंटन ब्रांड “Transform” का ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है।

Transform बैडमिंटन भारत का पहला पेशेवर बैडमिंटन ब्रांड है जो बाज़ार में सबसे बेहतर रैकेट उपलब्ध कराता है, जिन्हें वर्तमान में भारत में खेलने के लिए विदेशों से आयात किया जाता है।

ट्रांसफॉर्मर रैकेट को सैन्य-ग्रेड ग्रेफाइट से तैयार किया जाता है।

6. राष्ट्रीय कामधेनु आयोग “कामधेनु दीपावली अभियान” शुरू किया

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (आरकेए) ने “कामधेनु दीपावली अभियान” नामक देशव्यापी अभियान शुरू किया।

मुख्य बिंदु

इस अभियान का उद्देश्य दीवाली के मौसम के दौरान गोबर के व्यापक उपयोग को बढ़ावा देना है। राष्ट्रीय कामधेनु आयोग गोबर आधारित दीयों, धूप, अगरबत्ती, स्वास्तिक, देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश की मूर्तियों को बढ़ावा देगा।

इस अभियान का उद्देश्य 11 करोड़ परिवारों तक पहुंचना है और गाय के गोबर से बने 33 करोड़ दीयों को प्रज्वलित करना है। इस पहल को मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।

इस पहल से अयोध्या में 3 लाख दीप प्रज्वलित किये जायेंगे, जबकि वाराणसी में 1 लाख दीप प्रज्वलित किये जायेंगे।

महत्व

नवीन उत्पादों को बनाने के लिए गोबर के उपयोग से हजारों गाय आधारित उद्यमियों और किसानों को व्यावसायिक अवसर प्राप्त होंगे। साथ ही, इस अभियान से गौशालाओं का निर्माण करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, ये दीप चीन निर्मित दीयों के लिए सबसे अच्छा विकल्प होंगे।

प्रेरणा स्त्रोत

यह अभियान शुरू करने के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के लिए “गौम्य गणेश अभियान” मुख्य प्रेरणास्त्रोत था। इसने भगवान् गणेश की मूर्तियों को बनाने में उपयोगकर्ता के अनुकूल सामग्रियों के उपयोग को प्रोत्साहित किया।

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग

यह गायों के संरक्षण के लिए 2019 में स्थापित किया गया था। यह पशु विज्ञान और कृषि विश्वविद्यालयों के सहयोग से काम करेगा जो गाय पालन और प्रजनन, बायोगैस और जैविक खाद के क्षेत्र में कार्यरत्त हैं। यह देश में गौ संरक्षण पर दिशा और नीतिगत ढांचा प्रदान करेगा और गायों के कल्याण के लिए कानूनों का उचित कार्यान्वयन सुनिश्चित करेगा।

इसकी स्थापना राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत की गई थी। गोकुल मिशन के लिए 750 करोड़ रुपये का अंतरिम बजट आवंटित किया गया था।

महत्व

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की स्थापना से देश में मवेशियों की आबादी के संरक्षण और विकास में मदद मिलेगी। यह स्वदेशी नस्लों के संरक्षण में भी मदद करेगा। यह टीम पशुधन क्षेत्र के विकास को बढ़ाने की दिशा में काम करेगी।

राष्ट्रीय गोकुल मिशन

गोकुल ग्राम की स्थापना के लिए यह मिशन शुरू किया गया था। ये ग्राम एकीकृत मवेशी विकास केंद्र हैं। जून 2019 तक, चार ऐसे गोकुल ग्राम वाराणसी, फोरा, पटियाला, मथुरा में स्थापित किए गए। इस मिशन के तहत 21 ऐसे और केंद्र स्थापित किये जायेंगे।

इस मिशन के उद्देश्य निम्नलिखित हैं :

एक केंद्रित और वैज्ञानिक तरीके से स्वदेशी नस्लों का विकास और संरक्षण

दूध उत्पादन को बढ़ावा देना

नस्ल सुधार कार्यक्रम को बढ़ावा देना।

उच्च आनुवंशिक और रोग मुक्त योग्यता वाले बैल वितरित करना।

राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत पहलें

मिशन के तहत गोकुल ग्राम की स्थापना की गई।

राष्ट्रीय कामधेनु प्रजनन केंद्र देशी नस्लों के संरक्षण के लिए स्थापित किए गए थे

पशु स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करने के लिए पशू संजीवनी को लॉन्च किया गया था

7. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने “जगन्नाथ विद्या कनुका” योजना का किया शुभारंभ

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने राज्य के गरीब बच्चों को स्कूल किट वितरित करने के लिए "जगन्नाथ विद्या कनुका" नामक एक नई योजना की शुरूआत की है।

इस योजना के लिए राज्य लगभग 650 करोड़ रुपये खर्च करेगा।

योजना के तहत राज्य भर में 42,34,322 किट वितरित किए जाएंगे।

इस योजना के तहत, पुरे राज्य में कक्षा 1 से 10 तक के सरकारी स्कूल के छात्रों को स्कूल किट या विद्या कनुका दिए जाएंगे, जिसमें तीन जोड़ी यूनिफॉर्म, एक जोड़ी जूते, दो जोड़ी मोजे, एक बेल्ट, पाठ्यपुस्तकों का एक सेट, नोटबुक और एक स्कूल बैग होगा।

8. रिलायंस Jio का ‍रिकॉर्ड, 40 करोड़ मोबाइल ग्राहक वाली देश की पहली कंपनी

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो (Jio) ने देश के मोबाइल सेवा क्षेत्र में अपनी बादशाहत बरकरार रखते हुए मात्र चार वर्षों में बड़ा मील का पत्थर हासिल कर जुलाई-2020 में 40 करोड़ उपभोक्ताओं का आंकड़ा पार कर लिया।

एशिया के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने 5 सितंबर 2016 को देश के दूरसंचार क्षेत्र में कदम रखा और 5 वर्ष में ही इस क्षेत्र में वर्षों से जड़ जमाए बैठीं भारती एयरटेल और वोडा आइडिया को आक्रामक नीति, सस्ते प्लान और देश के दूरस्थ स्थानों पर नेटवर्क पहुंचाकर 40 करोड़ ग्राहकों वाली देश की पहली दूरसंचार सेवा प्रदाता बन गई।

देश में मोबाइल सेवा दूरसंचार क्षेत्र को शुरू हुए 25 वर्ष हो गए और पहले 40 करोड़ ग्राहक जोड़ने में क्षेत्र को 14 वर्ष लगे थे, वहीं जियो ने यह काम 4 वर्ष से भी कम वक्त में कर दिखाया।

ट्राई के आंकड़ों के अनुसार जुलाई में मोबाइल कनेक्शन के आंकड़े 5 माह बाद बढ़े हैं। कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण लॉकडाउन लगने से पांच माह से लगातार गिर रहे थे।

भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने सोमवार देर शाम जुलाई के जारी आंकड़ों में जियो ने नए ग्राहकों को बनाने का सिलसिला बरकरार रखते हुए 35 लाख 54 हजार 415 उपभोक्ता जोड़े और कुल ग्राहक 40 करोड़ 8 लाख 3018 हो गए। जियो का मोबाइल सेवा ग्राहक मामले में मार्केट हिस्सा 35.03 प्रतिशत हो गया।

मोबाइल ग्राहकों के मामलों में दूसरे नंबर की भारती एयरटेल भी जुलाई में कई माह बाद नए ग्राहक जोड़ने में कामयाब रही। कंपनी 32 लाख 60 हजार 536 नए उपभोक्ताओं के साथ 31 करोड़ 99 लाख 32 हजार 20 ग्राहक वाली कंपनी बन गई। भारती एयरटेल का बाजार हिस्सा 27.96 प्रतिशत है।

वोडा आइडिया के ग्राहकों के टूटने का सिलसिला जुलाई में भी जारी रहा और कंपनी ने 37 लाख 26 हजार 121 उपभोक्ता खो दिए। कंपनी 30 करोड़ 13 लाख 77 हजार 755 ग्राहक और 26.34 प्रतिशत हिस्से के साथ तीसरे स्थान पर है।

सरकारी कंपनी बीएसएनएल ने 3 लाख 88 हजार 313 ग्राहक बनाए और 11 करोड़ 86 लाख 5 हजार 117 उपभोक्ता और 10.37 प्रतिशत बाजार हिस्से के साथ अपने चौथे स्थान पर काबिज रही।

9. लगभग दो महीने बाद COVID-19 के सिर्फ 55,000 केस आए सामने, कुल आंकड़ा 71 लाख के पार

Coronavirus in India: भारत में कोविड-19 के 55,342 नए मामले सामने आने से संक्रमण के मामले 71.75 लाख के पार पहुंच गई है। जबकि बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या 62 लाख को पार कर गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में 55,342 नए मामले सामने आए है जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 71,75,880 हो गई है। 18 अगस्त के बाद पहली बार 55 हज़ार के करीब मामले सामने आए हैं। बताते चलें कि 18 अगस्त को 55,079 नए मामले सामने आए थे।

वहीं इस दौरान 706 लोगों की मौत हुई है, जिसके बाद कुल मृतकों की संख्या 1,09,856 हो गई है राहत की बात ये है कि मंगलवार को एक बार फिर संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वाले लोगों की संख्या रही पिछले 24 घंटों में 77,760 मरीज ठीक हुए हैं अब तक कुल 62,27,295 लोग कोरोना को मात देने में कामयाब रहे हैं देश में इस वक्त 8,38,729 मामले एक्टिव स्टेज में हैं, यानी कि इनका इलाज या तो अस्पताल में चल रहा है या फिर यह डॉक्टरों के निर्देशों के अनुसार होम आइसोलेशन में हैं

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार रिकवरी रेट 86.78 प्रतिशत हो गया है, वहीं 11.68 फीसदी मरीज एक्टिव स्टेज में हैं डेथ रेट 1.53 प्रतिशत पर बरकरार है तो अब पॉजिटिविटी रेट गिरकर 5.15 प्रतिशत हो गया है

कोरोना संक्रमित मामलों में भारत विश्व में दूसरे पायदान पर है अमेरिका सर्वाधिक 78 लाख से ज्यादा मामलों (78,03,884) मामलों के साथ शीर्ष पर है, वहीं भारत में संक्रमितों की संख्या 71.75 लाख पर पहुंच चुकी है तीसरे नंबर पर ब्राजील है जहां यह संख्या 51 लाख से ज्यादा लोग (50,94,979) इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं वहीं 13,05,093 मामलों के साथ रूस चौथे और कोलंबिया 9,19,083 पांचवें नंबर पर बना हुआ है

7 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved