Search

12th September | Current Affairs | MB Books


1. बहरीन और इजराइल के बीच शांति समझौता, ट्रंप ने बताया ऐतिहासिक दिन

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि इसराइल ने बहरीन के साथ एक शांति समझौता किया है। इससे इजराइल के साथ राजनयिक संबंध सामान्य होने में मदद मिल सकेगी।

ट्रंप ने यह घोषणा इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और बहरीन के किंग हमद बिन इसा अल खलीफा के बीच फोन पर हुई बात के बाद की।

इसके करीब एक महीने पहले ट्रंप ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और इजराइल के बीच मध्यस्थता की थी। अगले हफ्ते व्हाइट हाउस में यूएई और इजराइल के नेताओं के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर होने हैं।

ट्रंप ने संवाददाताओं को बताया कि शांति और सहयोग की भावना से प्रेरित होकर नेतन्याहू और अल खलीफा इस पर सहमत हुए हैं कि बहरीन इजराइल के साथ अपने राजनयिक संबंधों को पूरी तरह सामान्य करेगा।

दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध स्थापित होंगे, सीधी उड़ानें शुरू होंगी तथा स्वास्थ्य, व्यवसाय, प्रौद्योगिकी, शिक्षा, सुरक्षा और कृषि समेत व्यापक क्षेत्रों में सहयोग के लिए पहल की जाएगी।

ट्रंप ने कहा कि वास्तव में यह एक ऐतिहासिक दिन है। उन्होंने कहा कि अब जब कई देश इजराइल के साथ संबंधों को सामान्य कर रहे हैं, हमें भरोसा है कि क्षेत्र और अधिक स्थिर, सुरक्षित एवं समृद्ध होगा।

2. ट्रंप ने टिकटॉक के लिए समयसीमा बढ़ाने से इनकार किया

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने किसी अमेरिकी कंपनी को अपना स्वामित्व सौंपने या पूरी तरह से बंद करने के लिए टिकटॉक के लिए समय सीमा ने बढ़ाने का फैसला किया है।

टिकटॉक विवाद क्या है?

एक लोकप्रिय वीडियो-शेयरिंग एप्प टिकटॉक जो वायरल सनसनीखेज वीडियो बनाने की अपनी क्षमता के कारण विश्व स्तर पर प्रसिद्ध हो गया था और इसका स्वामित्व चीनी कंपनी बाइटडांस के पास था। यह एप्प इतना लोकप्रिय हो गया कि इसने कई कलाकारों को सिनेमा उद्योग में पदार्पण करने में मदद की। अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते तनाव के बीच ट्रंप प्रशासन ने इस एप्प के खिलाफ सख्त कदम उठाए। डेटा गोपनीयता और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरे के हवाला देते हुए ट्रम्प प्रशासन ने अमेरिका में इस एप्प पर प्रतिबंध लगाने वाले एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए। ट्रम्प ने कहा कि, यह एप्प संभावित रूप से चीन को संघीय कर्मचारियों के स्थानों को ट्रैक करने की अनुमति दे सकता है और उनके व्यक्तिगत डेटा को भी एकत्र कर सकता है, जिसका उपयोग उन्हें हेरफेर करने या ब्लैकमेल करने और कॉरपोरेट जासूसी करने के लिए किया जा सकता है।

टिकटॉक जैसा एप्प यूजर डेटा पर फेसबुक या किसी अन्य सोशल मीडिया एप्प की तरह काम करता है। यह एप्प यूजर को बेहतर अनुभव प्रदान करने के लिए यथासंभव अधिक से अधिक उपयोगकर्ता डेटा एकत्र करने का प्रयास करता है। चीन में इसका डेटा सेंटर स्थापित किया गया है यह उपयोगकर्ता डेटा गोपनीयता के लिए एक संभावित खतरा है। इन सभी विवरणों को ध्यान में रखते हुए ट्रम्प प्रशासन ने कहा कि, या तो कंपनी के स्वामित्व को किसी भी अमेरिकी कंपनी में स्थानांतरित कर दिया जाए या अपने परिचालन को पूरी तरह से अमेरिका में बंद कर दिया जाए।

टिकटॉक को खरीदने के लिए कौन सी अमेरिकी कंपनी सबसे बड़ी दावेदार है?

माइक्रोसॉफ्ट अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में टिकटॉक के संचालन को खरीदने के लिए सबसे बड़ा दावेदार बन गया है। माइक्रोसॉफ्ट के अलावा ट्विटर भी चर्चा में है। ट्विटर के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि कंपनी के पास खरीदारी करने के लिए पर्याप्त नकदी नहीं है। नए मालिक को यह सुनिश्चित करना होगा कि उसका चीनी सरकार के साथ कोई संबंध नहीं है।

3. अमेरिका ने 1000 चीनी छात्रों का वीजा रद्द किया

इस साल, अमेरिका और चीन के बीच संबंधों में बड़ी गिरावट देखी गई है। इस सब के बीच हाल ही में अमेरिका ने एक हजार से अधिक चीनी छात्रों के वीजा को रद्द कर दिया, जो छात्र वीजा पर चीन से अमेरिका आ रहे थे।

कारण

इस निर्णय मई में राष्ट्रपति ट्रम्प ने जारी किया गया था और यह 1 जून से लागू किया गया। इसमें कहा गया है कि चीन अपनी खुद की सैन्य क्षमताओं को बढ़ावा देने और आधुनिकीकरण के लिए संवेदनशील अमेरिकी प्रौद्योगिकियों और बौद्धिक संपदा का अधिग्रहण करने के लिए व्यापक रूप से अभियान में शामिल है।

अमेरिका में चीनी छात्र

चीनी छात्र अमेरिका में अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय के छात्रों के मामले में पहले नंबर पर हैं। नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, 2018-19 सत्र में अमेरिका के विभिन्न विश्वविद्यालयों में तीन लाख सत्तर हजार छात्रों को दाखिला दिया गया था। कुछ चीनी छात्र जो पहले से ही अमेरिकी विश्वविद्यालयों में हैं, उन्हें हाल ही में बीजिंग स्थित अमेरिकी दूतावास से एक ईमेल प्राप्त हुआ था जिसमें कहा गया था कि उनका वीजा रद्द कर दिया गया है और यदि वे अमेरिका में यात्रा करना चाहते हैं तो उन्हें नए वीजा के लिए आवेदन करना होगा।

आगे का रास्ता

हालिया समय में, अमेरिका और चीन दोनों देशों ने संबंधों में भारी गिरावट देखी है। वीजा रद्द करने के इस मुद्दे से पहले, कपास और टमाटर जैसी वस्तुओं पर प्रतिबंध ने वैश्विक समाचार मंच पर एक बड़ी हेडलाइन बनाई हती। कोरोना वायरस के प्रसार के लिए दोनों देशों के बीच एक आरोप-प्रत्यारोप के दौर ने और व्यापार युद्ध ने दोनों देशों के रिश्तों को पहले से काफी ख़राब कर दिया है।

4. पूर्व स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन WHO के स्वतंत्र पैनल में हुई शामिल

महामारी संबंधी तैयारियों और प्रतिक्रिया के लिए गठित विश्व स्वास्थ्य संगठन के स्वतंत्र पैनल ने पूर्व स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन को दुनिया भर से चुने गए 11 पैनलिस्ट के पैनल में शामिल किया है।

यह निर्णय पैनल के दो प्रमुखों न्यूजीलैंड के पूर्व प्रधान मंत्री हेलेन क्लार्क और लाइबेरिया के पूर्व राष्ट्रपति एलेन जॉनसन सरलीफ द्वारा किया गया।

पैनल द्वारा बताया गया कि पैनल ने 120 लोगों की समीक्षा की लेकिन उनका चयन उनके कौशल के आधार पर किया गया है।

जिसमें प्रकोप की प्रतिक्रिया में विशेषज्ञता, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रणालियों का प्रबंधन, युवाओं और सामुदायिक सहभागिता में नेतृत्व, सामाजिक-आर्थिक विश्लेषणात्मक क्षमताएं, WHO सहित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के बारे में जानकारी और इसी के समान अंतरराष्ट्रीय प्रक्रियाओं का अनुभव शामिल था।

5. इंडिया पोस्ट ने फाइव स्टार विलेज योजना शुरू की

डाक विभाग द्वारा फाइव स्टार विलेज योजना शुरू की गई है। यह योजना भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रमुख डाक योजनाओं की सार्वभौमिक कवरेज (100% कवरेज) सुनिश्चित करती है।

मुख्य तथ्य

इस योजना को सबसे पहले महाराष्ट्र में लागू किया जाएगा। प्रत्येक जिले के 50 गांवों को 2020-2021 के दौरान कवर किया जाएगा।

इस योजना का उद्देश्य जन जागरूकता में अंतराल को दूर करना और दूरदराज के गांवों में डाक उत्पादों और सेवाओं की पहुंच बनाना है।

इस योजना के तहत, सभी डाक उत्पाद और सेवाएं ग्रामीण स्तर पर उपलब्ध, विपणन और प्रचारित की जाएंगी।

शाखा कार्यालय खोले जाएंगे जो वन-स्टॉप शॉप के रूप में कार्य करेंगे। यह ग्रामीणों की सभी डाकघर संबंधी जरूरतों को पूरा करेगा।

फाइव स्टार योजना निम्नलिखित उप-योजनाओं या पहल की निगरानी करेगी :

बचत बैंक खाते, आवर्तक जमा खाते, एनएससी या केवीपी प्रमाण पत्र।

सुकन्या समृधि खाते व पीपीऍफ़ खाते

भारत डाक भुगतान बैंक खातों से जुड़ा हुआ वित्त पोषित डाकघर बचत खाता

डाक जीवन बीमा पॉलिसी या ग्रामीण डाक जीवन बीमा पॉलिसी।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना खाता तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना खाता

गावों को प्रदर्शन आधारित स्टार रेटिंग प्रदान की जाएगी। यदि कोई गाँव पाँच उप-योजनाओं में से चार के लिए सार्वभौमिक कवरेज प्राप्त करता है, तो गाँव को फोर-स्टार दर्जा मिलेगा।

इस योजना का क्रियान्वयन कौन करेगा?

इसे पांच ग्रामीण डाक सेवकों की टीम द्वारा लागू किया जाएगा। इस टीम का नेतृत्व ब्रांच पोस्ट मास्टर करेंगे। मंडल प्रमुख, सहायक अधीक्षक और डाक निरीक्षक सभी गतिविधियों की निगरानी करेंगे।

6. पुलिस अधिकारी पूनम खत्री के नाम हुआ वुशू वर्ल्ड चैंपियन का खिताब

भारतीय पुलिस अधिकारी पूनम खत्री ने पिछले साल वुशु विश्व चैम्पियनशिप में जीते अपने रजत पदक के गोल्ड में तब्दील होने के बाद विश्व चैम्पियनशिप खिताब हासिल किया है।

पूनम हरियाणा के झज्जर जिले की रहने वाली हैं।

पूनम महिलाओं के 75 किलोग्राम वर्ग में ईरानी प्रतिद्वंद्वी मारियम से फाइनल में हार गई थी, लेकिन हाल ही में मरियम के डोप टेस्ट में फैल होने के बाद, पूनम खत्री को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया है।

भारतीय वुशू एसोसिएशन के महासचिव सुहैल अहमद ने इस जानकारी की पुष्टि की।

7. भारत-चीन के बीच 5 सूत्री समझौते पर हुई सहमति

भारत और चीन पूर्वी लद्दाख में 4 महीने से जारी गतिरोध को दूर करने के लिए सुरक्षाबलों को सीमा से जल्द पीछे हटाने और तनाव बढ़ाने की आशंका वाली किसी भी कार्रवाई से बचने समेत 5 सूत्री समझौते पर सहमति जताई। दोनों देशों ने स्वीकार किया कि सीमा पर मौजूदा स्थिति किसी भी पक्ष के हित में नहीं है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर और उनके चीनी समकक्ष वांग यी के बीच गुरुवार की शाम हुई वार्ता के दौरान दोनों देशों के बीच समझौता हुआ। जयशंकर और वांग ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक से इतर मॉस्को में मुलाकात की। यह बातचीत ढाई घंटे तक चली। पूर्वी लद्दाख में चार महीने से चले आ रहे तनाव के बीच गत सोमवार को एलएसी पर दोनों सेनाओं के बीच फिर से गतिरोध हुआ, जिसका आरोप दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर लगाया। ताजा टकराव के बाद दोनों पक्षों ने एलएसी पर विवाद वाले सभी स्थलों पर बड़ी संख्या में सैनिक और भारी अस्त्र-शस्त्र तैनात कर दिए। सरकारी सूत्रों ने बताया कि पांच सूत्री समझौता सीमा पर मौजूदा हालात को लेकर दोनों देशों के नजरिए का मार्गदर्शन करेगा। विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार तड़के एक संयुक्त विज्ञप्ति जारी की। इसमें कहा गया, दोनों विदेश मंत्री इस बात पर सहमत हुए कि मौजूदा स्थिति किसी के हित में नहीं है। वे इस बात पर सहमत हुए कि सीमा पर तैनात दोनों देशों की सेनाओं को बातचीत जारी रखनी चाहिए, उचित दूरी बनाए रखनी चाहिए और तनाव कम करना चाहिए। हालांकि पांच सूत्री समझौते में सैनिकों के पीछे हटने और शांति-सौहार्द्र बहाल करने के लिए समय सीमा का जिक्र नहीं किया गया है। बयान में कहा गया, दोनों मंत्री इस बात पर सहमत हुए कि दोनों पक्ष चीन-भारत सीमा मामले संबंधी सभी मौजूदा समझौतों और नियमों का पालन करेंगे, शांति बनाए रखेंगे तथा किसी भी ऐसी कार्रवाई से बचेंगे, जो तनाव बढ़ा सकती है। जयशंकर और वांग वार्ता में इस बात पर सहमत हुए कि जैसे ही सीमा पर स्थिति बेहतर होगी, दोनों पक्षों को सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति और सौहार्द बनाने के लिए नया विश्वास कायम करने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ना चाहिए।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि वार्ता में भारतीय पक्ष ने पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास चीन द्वारा बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों और सैन्य साजो-सामान की तैनाती का मामला उठाया और अपनी चिंता जताई। सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि चीनी पक्ष बलों की तैनाती के लिए विश्वसनीय स्पष्टीकरण नहीं दे सका। सूत्रों के अनुसार, भारतीय पक्ष ने जोर दिया कि तात्कालिक कार्य यह सुनिश्चित करना है कि संघर्ष वाले क्षेत्रों से सभी सैनिक पूरी तरह से पीछे हटें और भविष्य में किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए यह जरूरी है। सरकारी सूत्रों ने बताया कि जयशंकर ने वांग से कहा कि संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति एवं सौहार्द बनाए रखना जरूरी है।

विदेश मंत्री ने अपने चीनी समकक्ष से कहा कि लद्दाख में हुई हाल की घटनाओं से द्विपक्षीय रिश्तों के विकास पर असर पड़ा है और तत्काल समाधान भारत तथा चीन के हित के लिए जरूरी है। संयुक्त बयान के अनुसार, जयशंकर और वांग ने सहमति जताई कि दोनों पक्षों को भारत-चीन संबंधों को विकसित करने के लिए दोनों देशों के नेताओं के बीच बनी आम सहमति से मार्गदर्शन लेना चाहिए, जिसमें मतभेदों को विवाद में तब्दील नहीं होने देना शामिल है।

यह स्पष्ट है कि इसका संदर्भ 2017 में डोकलाम में गतिरोध के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच दो अनौपचारिक शिखर वार्ताओं से था। संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों पक्षों ने भारत-चीन सीमा मामले पर विशेष प्रतिनिधि (एसआर) तंत्र के माध्यम से संवाद और संचार जारी रखने के लिए सहमति व्यक्त की है। इसमें कहा गया, उन्होंने इस संदर्भ में इस बात पर भी सहमति व्यक्त की कि इसकी बैठकों में भारत-चीन सीमा मामलों पर परामर्श और समन्वय के लिए कार्य तंत्र जारी रहना चाहिए। भारतीय सेना और चीन की सेना के बीच मई की शुरुआत से ही पूर्वी लद्दाख में एलएसी के पास कई स्थानों पर तनावपूर्ण गतिरोध बना हुआ है।

बीजिंग में चीनी विदेश मंत्रालय के अनुसार, वांग ने जयशंकर से कहा कि दोनों देशों के बीच मतभेद होना सामान्य बात है, लेकिन उन्हें उचित संदर्भ में समझना और नेताओं से मार्गदर्शन लेना महत्वपूर्ण है।वांग ने कहा कि चीन और भारत के बीच मतभेद होना सामान्य बात है, क्योंकि ये दोनों बड़े पड़ोसी देश हैं। इन मतभेदों को द्विपक्षीय संबंधों के बारे में उचित संदर्भ में समझना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, भारत एवं चीन के संबंध एक बार फिर दोराहे पर आ गए हैं, लेकिन यदि दोनों पक्ष सही दिशा में आगे बढ़ना जारी रखते हैं, तो ऐसी कोई मुश्किल या चुनौती नहीं होगी, जिससे पार न पाया जा सके। दोनों देशों के बीच एक सप्ताह में दूसरी बार उच्चस्तरीय संवाद हुआ है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और उनके चीनी समकक्ष वेई फेंगहे ने भी एससीओ की बैठक के इतर चार सितंबर को मॉस्को में मुलाकात की थी। दिल्ली में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और शीर्ष सैन्य अधकारियों ने पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव कम करने के लिए भारत और चीन के बीच हुए पांच सूत्री समझौते पर चर्चा की। सरकारी सूत्रों ने बताया कि बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, थलसेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे, वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरके एस. भदौरिया और नौसेना प्रमुख एडमिरल कर्मबीर सिंह तथा अन्य अधिकारी शामिल थे। पूर्वी लद्दाख में तनाव कम करने के लिए भारत और चीन की सेनाओं के बीच अगले सप्ताह की शुरूआत में कोर कमांडर स्तर की बातचीत होने की संभावना है। यह भी पता चला है कि थलसेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने सेना के मुख्यालय में शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ समझौते के प्रावधानों के साथ ही लद्दाख में समग्र स्थिति पर विचार-विमर्श किया। गतिरोध वाले स्थानों पर तनाव कम करने के मकसद से शुक्रवार को सुबह ग्यारह बजे से दोपहर तीन बजे तक चुसूल में ब्रिगेड कमांडर स्तर की वार्ता हुई।

8. हुबली रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर रखा गया श्री सिद्धरूधा स्वामीजी रेलवे स्टेशन

कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन का नाम बदल दिया गया है, अब इसे श्री सिद्धरूधा स्वामीजी रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाएगा।

केंद्र सरकार ने हुबली के रेलवे स्टेशन का नाम बदलने के लिए हुबोलियों की लंबे समय से उठ रही मांग को पूरा कर दिया है।

हुबली रेलवे स्टेशन का नाम, जो दक्षिण पश्चिम रेलवे का मुख्यालय है, पिछले पांच वर्षों में दूसरी बार बदला गया है।

इससे पहले साल 2015 में ‘Hubli’ to ‘Hubballi’ किया गया था। श्री सिद्धरूधा स्वामीजी भारतीय हिंदू गुरु और दार्शनिक थे।

9. ऑस्ट्रेलिया ने पहले वनडे में इंग्लैंड को 19 रन से हराया

जोश हेजलवुड के 3 विकेट और 1 शानदार कैच के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने पहले एक दिवसीय क्रिकेट मैच में इंग्लैंड को 19 रन से हरा दिया और सैम बिलिंग्स का शतक भी मेजबान के काम नहीं आ सका।

ओल्ड ट्रैफर्ड पर जीत के लिए रिकॉर्ड 295 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने 4 विकेट 57 रन पर गंवा दिए थे जिनमें से लेग स्पिनर एडम जाम्पा ने 2 विकेट लिए। जॉनी बेयरस्टो (84) और बिलिंग्स (109 गेंद में 118 रन) ने 5वें विकेट के लिए 103 रन जोड़े लेकिन हेजलवुड ने डाइव लगाकर बेयरस्टो का कैच लपककर इस साझेदारी का अंत किया।

बिलिंग्स मैच की आखिरी गेंद पर आउट हुए। इंग्लैंड ने 9 विकेट पर 275 रन बनाए। हेजलवुड ने 26 रन देकर 3 विकेट लिए। इससे पहले ग्लेन मैक्सवेल (77 रन) और मिशेल मार्श (73 रन) की अर्द्धशतकीय पारियों और दोनों के बीच छठे विकेट लिए 126 रन की साझेदारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने 295 रन बनाए। ऑस्ट्रेलियाई टीम हालांकि अपने स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के बिना खेलने उतरी थी क्योंकि अभ्यास के दौरान एक गेंद उनके सिर पर लग गई।

ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि एहतियात के तौर पर ऐसा किया गया है। गुरुवार को यह घटना तब हुई जब कोचिंग स्टाफ का एक सदस्य नेट पर गेंद फेंक रहा था और एक गेंद स्मिथ के सिर पर लग गई। स्मिथ ‘कनकशन’ जांच में फिट पाए गए लेकिन एहतियात के तौर पर दूसरे मैच से पहले शनिवार को उनकी एक और जांच होगी।

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन के टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया जिसे जोफ्रा आर्चर ने सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (6 रन) को बोल्ड कर सही साबित किया। पारी के 10वें ओवर में मार्क वुड ने कप्तान आरोन फिंच (16 रन) को विकेटकीपर जोस बटलर के हाथों कैच कराया। मार्क्स स्टोइनिस (43 रन) और मार्नुस लाबुशेन (21) अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल सके। विकेटकीपर एलेक्स कैरी (10 रन) जब पैवेलियन लौटे तो टीम का स्कोर 5 विकेट पर 123 रन था।

इसके बाद मैक्सवेल और मार्श ने शानदार साझेदारी की। आर्चर ने मैक्सवेल को बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा। मार्श ने 100 गेंद की पारी में 6 चौके लगाए। वह वुड की गेंद पर पगबाधा हुए। मिशेल स्टार्क (नाबाद 19) ने पारी की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम के स्कोर को 9 विकेट 294 तक पहुंचाया। इंग्लैंड के लिए आर्चर और वुड ने तीन-तीन जबकि आदिल रशीद ने दो और क्रिस वोक्स ने एक विकेट चटकाए।

10. क्रिसिल ने वित्त वर्ष 2021 में भारत की जीडीपी -9% रहने का लगाया अनुमान

CRISIL ने वित्त वर्ष 2020-21 में भारत की GDP दर -9% रहने का अनुमान जताया है।

CRISIL ने कोविड -19 के महामारी अनिश्चितता और सरकार से पर्याप्त वित्तीय सहायता की कमी के कारण अपने पूर्वानुमान 5% को संशोधित किया।

इसके अलावा क्रिसिल ने FY22 के लिए भारत की GDP में 10% दर से बढ़ने का अनुमान जताया है।

अगले तीन वर्षों के लिए, 2023 और 2025 के दौरान CRISIL ने भारतीय GDP में सालाना 6.2% की वृद्धि अनुमान भी जताया है।


11. वित्त वर्ष 2020 में 3.5 प्रतिशत रहा जॉब ग्रोथ रेट: रिपोर्ट

केयर रेटिंग्स रिपोर्ट के अनुसार, अर्थव्यवस्था में लंबे समय से बने तनाव के कारण वित्त वर्ष 2020 में जॉब ग्रोथ रेट घटकर 3.5 प्रतिशत पर आ गया है, जबकि वित्त वर्ष 2019 में यह 3.8 प्रतिशत था। हालांकि, कुल नौकरियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। साल 2019 की 48.32 लाख के मुकाबले साल 2020 में कुल 50.02 लाख नौकरी मिली हैं।

केयर रेटिंग्स की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, वित्त वर्ष 2020 में 1.70 लाख नई नौकरियां पैदा हुई हैं। यह आंकड़ा साल 2019 में 1.76 लाख था। रिपोर्ट के अनुसार, साल 2020 में 321 कंपनियों ने अपने हेडकाउंट में 1.13 लाख की कमी की। वहीं, 2019 में 272 कंपनियों ने अपने हेडकाउंट में 1.18 लाख की कमी की थी।

मुख्य बिंदु

• साल 2020 में टॉप-10 कंपनियों ने अपने हेडकाउंट में 1.41 लाख की बढ़ोतरी की थी। इन 10 में से चार-चार कंपनियां आईटी और बैंकिंग सेक्टर की, जबकि दो कंपनियां एनबीएफसी सेक्टर से थीं।

• रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल देश में 9 कंपनियों में हेडकाउंट की संख्या 1 लाख से ज्यादा रही। इसमें चार कंपनियां आईटी सेक्टर, दो बैंकिंग, एक-एक ऑटो, एनबीएफसी और अन्य सेक्टर की शामिल रहीं।

• वहीं, सात कंपनियों में हेडकाउंट की संख्या पचास हजार से एक लाख के बीच रही। 17 कंपनियों में हेडकाउंट की संख्या 25 से 50 हजार के बीच रही। 33 कंपनियों में हेडकाउंट की संख्या 25 हजार से ज्यादा रही जो कुल एम्प्लॉयमेंट का 57 प्रतिशत था।

आईटी सेक्टर टॉप पर

पिछले साल सबसे ज्यादा नौकरी देने में चार सेक्टरों की भागीदारी 61 प्रतिशत रही। इसमें 23 प्रतिशत के साथ आईटी सेक्टर टॉप पर रहा। इसके बाद 22 प्रतिशत के साथ बैंकिंग सेक्टर दूसरे, 9 प्रतिशत के साथ ऑटो तीसरे और 7 प्रतिशत के साथ फाइनेंस सेक्टर चौथे नंबर पर रहा। कभी सबसे ज्यादा नौकरियां देने में शामिल रहा टेक्सटाइल सेक्टर 2.4 प्रतिशत की हिस्सेदारी के साथ पांचवें स्थान पर रहा।


12. प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण): पीएम मोदी ने 1.75 लाख घरों का किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 सितम्बर 2020 को पीएम आवास योजना (ग्रामीण) के तहत मध्य प्रदेश में बने 1.75 लाख घरों का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने लोगों को उनके नए घर में गृह प्रवेश के लिए शुभकामनाएं दी। प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लाभार्थियों से बातचीत की और उन्हें नए घर के बारे में जानकारी भी ली।

इस कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस बार आप सभी की दीवाली, आप सभी के त्योहारों की खुशियां कुछ और ही होगी। कोरोना काल नहीं होता तो आज आपके जीवन की इतनी बड़ी खुशी में शामिल होने के लिए, आपके घर का एक सदस्य, आपका प्रधानसेवक आपके बीच होता।

मध्य प्रदेश के पौने 2 लाख ऐसे परिवार, जिनका गृह-प्रवेश हो रहा है, उनको भी मैं बहुत बधाई देता हूं, इस बार आप सभी की दीवाली, आप सभी के त्योहारों की खुशियां कुछ और ही होंगी।कोरोना काल नहीं होता तो आज आपके जीवन की इतनी बड़ी खुशी में शामिल होने के लिए आपका प्रधानसेवक आपके बीच होता।

45 से 60 दिन में एक घर तैयार

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सामान्य तौर पर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक घर बनाने में औसतन 125 दिन का समय लगता है। कोरोना के इस काल में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घरों को केवल 45 से 60 दिन में ही बनाकर तैयार कर दिया गया है। आपदा को अवसर में बदलने का ये बहुत ही उत्तम उदाहरण है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम गरीब कल्याण अभियान से मध्य प्रदेश सहित देश के अनेक राज्यों में करीब 23 हजार करोड़ रुपए के काम पूरे किए जा चुके हैं।

प्रधानमंत्री ने क्या कहा?

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले गरीब सरकार के पीछे दौड़ता था, अब सरकार लोगों के पास जा रही है। अब किसी की इच्छा के मुताबिक लिस्ट में नाम जोड़ा या घटाया नहीं जा सकता। चयन से लेकर निर्माण तक वैज्ञानिक और पारदर्शी तरीका अपनाया जा रहा है। घर के डिजायन भी स्थानीय जरूरतों के अनुसार तैयार और स्वीकार किए जा रहे हैं। पूरी पारदर्शिता के साथ हर चरण की पूरी मॉनिटरिंग के साथ लाभार्थी खुद अपना घर बनाता है।

पृष्ठभूमि

बता दें कि साल 2016 में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण की शुरुआत की गई थी। देशभर में अब तक 1.14 करोड़ आवास बनाए जा चुके हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत लाभार्थी को सौ प्रतिशत अनुदान राशि के रूप में 1.20 लाख रुपये दिए जाते हैं। इसका 60 प्रतिशत हिस्सा केंद्र सरकार वहन करती है जबकि 40 प्रतिशत राज्य सरकार वहन करती है। प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य मार्च 2022 तक दो करोड़ किफायती घर बनाना है।


13. मूडीज का चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 11.5 प्रतिशत गिरावट का अनुमान

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने चालू वित्त वर्ष में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 11.5 प्रतिशत की कमी आने का नया अनुमान व्यक्त किया है। इससे पहले मूडीज ने भारतीय अर्थव्यवस्था में चार प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया था। रेटिंग एजेंसी ने शुक्रवार को कहा कि भारत का साख परिवेश निचली वृद्धि, ऊंचे कर्ज तथा कमजोर वित्तीय प्रणाली से प्रभावित हो रहा है। कोरोना वायरस महामारी की वजह से ये जोखिम और बढ़े हैं। मूडीज ने कहा, ‘‘अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रणाली में गहरे दबाव से देश की वित्तीय मजबूती में और गिरावट आ सकती है। इससे साख पर दबाव और बढ़ सकता है।''

मूडीज ने कहा कि उसका अनुमान है कि 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 11.5 प्रतिशत की गिरावट आएगी। मूडीज ने कहा है कि हालांकि अगले वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था 10.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करेगी। इससे पहले एक वैश्विक रेटिंग एजेंसी फिच ने चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है। घरेलू रेटिंग एजेंसियों क्रिसिल और इंडिया रेटिंग्स ने चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में क्रमश: 9 प्रतिशत और 11.8 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया है।

17 views

MB Books Pvt. Ltd.

+91-9708316298

Timing:- 11:30 AM to 5:30 PM

Sunday Closed

mbbooks.in@gmail.com

Boring Road, Patna-01

Shop

Socials

Be The First To Know

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter

Sign up for our newsletter

© 2010-2020 MB Books all rights reserved