Search

11th May | Current Affairs | MB Books


1. 11 मई : राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day)

भारत की तकनीकी प्रगति को याद दिलाने के लिए हर साल 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day) मनाया जाता है।

11 मई को ही क्यों? : 11 मई को, भारत ने अपनी पहली सफल शक्ति-I (Shakti-I) परमाणु मिसाइल का परीक्षण किया था। इस मिसाइल का परीक्षण भारतीय सेना ने पोखरण टेस्ट रेंज, राजस्थान में किया गया था। इस ऑपरेशन को “ऑपरेशन शक्ति” कहा जाता था। शक्ति- I परमाणु मिसाइल के परीक्षण के बाद, भारत ने दो परमाणु हथियारों का सफलतापूर्वक परीक्षण भी किया था।

11 मई के दिन ही DRDO (रक्षा अनुसंधान विकास संगठन) ने त्रिशूल मिसाइल (Trishul missile) का परीक्षण पूरा किया था। यह हंस-3 (Hansa-3) नामक पहले स्वदेशी विमान की उड़ान को भी चिह्नित करता है।

ऑपरेशन शक्ति (Operation Shakti) : ऑपरेशन शक्ति के पहले चरण का कोड नाम “स्माइलिंग बुद्धा” (Smiling Buddha) था। यह मई 1974 में आयोजित किया गया था। दूसरा परमाणु परीक्षण, 1998 में आयोजित ऑपरेशन शक्ति के दूसरे चरण को पोखरण II भी कहा जाता था और यह परमाणु बमों की 5 परीक्षणों की एक श्रृंखला थी। इसका नेतृत्व दिवंगत राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था। इस सफल परीक्षण के बाद, पीएम वाजपेयी ने भारत को पूर्ण परमाणु राज्य घोषित किया था।

इन परमाणु परीक्षणों के बाद भारत के खिलाफ कई प्रतिबंध लगाए गये थे। भारत पर प्रतिबंध लगाने वाले प्रमुख देश अमेरिका और जापान थे।


2. अमेरिका ने 12 से 15 साल के बच्चों के लिए फाइजर की कोविड-19 वैक्सीन को दी मंज़ूरी

अमेरिका के खाद्य और दवा प्रशासन (एफडीए) ने 12 से 15 साल की उम्र के बच्चों के लिए फाइजर की कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। इस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित अमेरिका ने कोरोना के खिलाफ जंग में एक और बड़ा कदम आगे बढ़ाया है।

फाइजर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. बिल ग्रुबर ने एफडीए के फैसले पर खुशी जताते हुए कहा है कि इससे महामारी से लड़ने की हमारी क्षमता बढ़ेगी। एफडीए ने फाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-BioNTech) की बच्चों के लिए बनाई वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है।

COVID-19 वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित : अमेरिकी एफडीए का कहना है कि फाइजर-बायोएनटेक की COVID-19 वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। एफडीए ने बताया कि 12 से 15 साल के 2000 से अधिक वॉलंटियर्स को वैक्सीन दी गई थी। टेस्ट के डेटा में पाया गया कि वैक्सिनेशन के बाद इन बच्चों में कोरोना संक्रमण का कोई केस नहीं मिला। वहीं, कंपनी दावा है कि उसकी वैक्सीन 100 प्रतिशत असरदार है।

फाइजर की वैक्सीन लगाने की अनुमति : कोरोना वायरस की पहली लहर ने जहां सबसे ज्यादा उम्रदराज लोगों को प्रभावित किया था। वहीं, दूसरी लहर में सबसे ज्यादा असर युवाओं पर पड़ा है। तीसरी लहर के बारे में कहा जा रहा है कि इससे बच्चे सर्वाधिक प्रभावित होंगे। ऐसे में बच्चों की वैक्सीन से जुड़ी खबर कुछ राहत देने वाली है। बता दें कि कनाडा में 12-15 साल के बच्चों को फाइजर की वैक्सीन लगाने की अनुमति पहले ही दी जा चुकी है।

फाइजर वैक्सीन लगाने की मंजूरी : अमेरिका के खाद्य और दवा प्रशासन (एफडीए) ने 16 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए फाइजर वैक्सीन लगाने की पहले ही मंजूरी दे दी थी। हालांकि, फाइजर कंपनी ने पाया कि उसका टीका छोटे बच्चों पर भी कारगर है, जिसके एक महीने बाद यह घोषणा हुई।


3. नेपाल के कामी रीता ने 25वीं बार एवरेस्ट फतह कर बनाया रिकॉर्ड

नेपाली पर्वतारोही, कामी रीता (Kami Rita) ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी के सबसे अधिक आरोहियों के लिए अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए 25 वीं बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई की है। 51 वर्षीय रीता ने 1994 में एवरेस्ट पर पहली बार फतह की थी और तब से लगभग हर साल यह यात्रा कर रहे हैं।

वह कई शेरपा गाइडों में से एक हैं, जिनकी विशेषज्ञता और कौशल सैकड़ों पर्वतारोहियों की सुरक्षा और सफलता के लिए महत्वपूर्ण हैं।


4. चीन की जनसंख्या बढ़कर 1.41178 अरब, जनसंख्या बढ़ोतरी की दर शून्य के करीब पहुंची

चीन ने 11 मई 2021 को जनगणना के सरकारी आंकड़े जारी किये हैं जिनसे पता चलता है कि बीते दशकों में चीन की आबादी सबसे धीमी गति से बढ़ी है। राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो के अनुसार, चीन की आबादी पिछले एक दशक में 72 मिलियन बढ़कर 1.411 बिलियन हो गई है।

पिछले 10 सालों में चीन की आबादी में 5.38 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और अब चीन की आबादी बढ़कर 141 करोड़ हो चुकी है। चीन की राष्ट्रीय जनगणना की रिपोर्ट के अनुसार चीन की आबादी में औसतन हर साल 0.53 प्रतिशत का ही इजाफा होता आया है।

आबादी में बढ़ोतरी की दर शून्य के करीब : सरकार ने बताया कि देश की आबादी में बढ़ोतरी की दर शून्य के करीब पहुंच गई है, क्योंकि यहां बच्चों को जन्म देने वाले दंपती की संख्या कम है। चीन में कार्यबल कम हो रहा है क्योंकि देश की आबादी में बुजुर्ग लोगों की संख्या काफी अधिक है।

कामकाजी आयु वर्ग के लोगों की संख्या कम : चीन के नेताओं ने जनसंख्या को बढ़ने से रोकने के लिए 1980 से जन्म संबंधी सीमाएं लागू की थीं, लेकिन अब उन्हें इस बात की चिंता है कि देश में कामकाजी आयु वर्ग के लोगों की संख्या तेजी से कम हो रही है और इसके कारण समृद्ध अर्थव्यवस्था बनाने के प्रयास बाधित हो रहे हैं।

आबादी तेजी से घट रही है : साल 2011 में 925 मिलियन के शीर्ष पर पहुंचने वाली चीन की 15 से 59 वर्ष की कार्यशील आबादी तेजी से घट रही है। इससे मजदूरी तो बढ़ रही है, क्योंकि कंपनियां कर्मचारियों के लिए प्रतिस्पर्धा कर रही हैं, लेकिन इससे नए उद्योग स्थापित करने और आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था विकास तैयार करने में बाधा आ सकती है।

जनसंख्या के आंकड़े जारी : चीन में हर दस साल में एक बार जनसंख्या के आंकड़े जारी किये जाते हैं। साल 2020 के अंत में चीन में जनगणना हुई थी। चीन की सरकार के अनुसार, लगभग 70 लाख कर्मचारियों ने जनगणना के काम में हिस्सा लिया और उन्होंने घर-घर जाकर लोगों की गिनती की।

चीन में जनगणना के काम को बहुत ही गंभीरता से लिया जाता है ताकि भविष्य की योजनाएं उसी हिसाब से बनायी जा सकें।

चीन में जन्मदर में आई कमी : रिपोर्ट के मुताबिक चीन में राष्ट्रीय जन्मदर में अभी भी कमी दर्ज की जा रही है। जबकि चीन में पिछले कुछ सालों से राष्ट्रीय जन्मदर बढ़ाने की काफी कोशिश की जा रही है, फिर भी सरकार को सफलता नहीं मिली है। साल 2017 से लगातार चीन के राष्ट्रीय जन्मदर में कमी दर्ज की गई है।


5. OSIRIS-Rex अंतरिक्ष यान ने पृथ्वी के लिए यात्रा शुरू की

नासा के अंतरिक्ष यान ने “ओसिरिस-रेक्स” (Osiris Rex) ने पृथ्वी के लिए दो साल की लंबी यात्रा शुरू कर दी है। यह अंतरिक्ष यान 2018 में क्षुद्रग्रह बेन्नू (asteroid Bennu) पर पहुंचा था। इस अन्तरिक्षयान ने इस क्षुद्रग्रह के चारों ओर दो साल तक उड़ान भरी और कई नमूने इकट्ठा किये।

OSIRIS-Rex :

  • इस मिशन को क्षुद्रग्रह बेनु का अध्ययन करने के लिए लॉन्च किया गया था।इस मिशन ने बेन्नू की सतह को मैप करने में 5 साल व्यतीत किये।

  • 2020 में, वैज्ञानिकों ने ओसिरिस रेक्स को 60 किलो ग्राम रेजोलिथ (शीर्ष मिट्टी) को लाने करने का निर्देश दिया था।

  • यह मिशन सौर प्रणाली की उत्पत्ति और विकास को समझने में मदद करेगा।

बेन्नू ही क्यों? :

  • यह वर्तमान में पृथ्वी के लिए ज्ञात सबसे खतरनाक क्षुद्रग्रह है। इसके 22वीं शताब्दी में पृथ्वी से टकराने की 1/2700 संभावना है।

  • यह 6 साल में एक बार पृथ्वी के सबसे करीब पहुंचता है।

क्या यह एक क्षुद्रग्रह पर लैंडिंग वाला पहला मिशन था? : जापान ने हायाबुसा भेजा था और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी ने रोज़ेटा मिशन भेजा था। इस प्रकार, यह एक क्षुद्रग्रह पर लैंड करने वाला पहला मिशन नहीं था।

हायाबुसा मिशन (Hayabusa Mission) : 2014 में रयुगु (Ryugu) से नमूने एकत्र करने के लिए यह मिशन लॉन्च किया गया था। यह 2018 में रयुगु तक पहुंच गया गया। इसने वहां 18 महीने बिताए और दिसंबर 2020 में पृथ्वी पर लौट आया।

रोज़ेटा मिशन (Rosetta Mission) :

  • रोज़ेटा मिशनयूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी द्वारा 2004 में धूमकेतु चुरयीमोव-गेरासिमेंको (Churyumov-Gerasimenk) की खोज के लिए लांच किया गया था।

  • यह धूमकेतु की परिक्रमा करने वाला पहला मिशन था।इसके अलावा, यह पहला मिशन था जिसने इसकी सतह पर एक प्रोब को लैंड किया था।

6. DRDO की एंटी-कोविड दवा 2-DG को मिला आपातकालीन उपयोग के लिए DCGI का अनुमोदन

DRDO द्वारा विकसित एक एंटी-COVID-19 चिकित्सीय दवा, जिसे drug2-deoxy-D-Glucose (2-DG) कहा जाता है, को देश में कोरोनावायरस रोगियों के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया (DCGI) द्वारा आपातकालीन स्वीकृति प्रदान की गई है।

इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंसेज (INMAS), डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) की एक लैब ने डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, हैदराबाद के साथ मिलकर दवा विकसित की है।

2-डीजी आर्म में, एसओसी की तुलना में दिन -3 से पूरक ऑक्सीजन निर्भरता (42% बनाम 31%) से रोगियों के लक्षणों में काफी सुधार हुआ और ऑक्सीजन थेरेपी / निर्भरता से शुरुआती राहत का संकेत मिला।

दवा एक पाउच में पाउडर के रूप में आती है और इसे पानी में घोलना होता है।


7. असम-यूनिसेफ ऑनलाइन बाढ़ रिपोर्टिंग प्रणाली : मुख्य बिंदु

असम राज्य आपदा प्रबंधन एजेंसी (Assam State Disaster Management Agency) और यूनिसेफ (UNICEF) ने संयुक्त रूप से एक ऑनलाइन बाढ़ रिपोर्टिंग प्रणाली (Online Flood Reporting System) विकसित की है। इसके साथ, असम बाढ़ के दौरान प्रभाव संकेतकों (impact indicators) का पता लगाने के लिए डिजिटल रिपोर्टिंग प्रणाली को अपनाने वाला पहला राज्य बन गया।

सिस्टम के बारे में :

  • यह नई प्रणाली असम में बाढ़ के स्तर को दैनिक आधार पर रिपोर्ट करेगी। इससे पहले, राज्य में बाढ़ प्रबंधन प्रणाली में कई हितधारक शामिल थे, इसमें काफी समय लगता था।

  • नई प्रणाली पूरी तरह से डिजिटल है।

  • नई प्रणाली वेब-और-मोबाइल एप्लीकेशन तकनीक द्वारा संचालित है।

सिस्टम डिलीवरी :

  • यह फसलों के नुकसान और पशुधन के नुकसान की ट्रैकिंग सुविधा प्रदान करेगा और बहाली के दौरान वित्तीय सहायता प्रदान करने में भी मदद करेगा।

  • इसके अलावा, सिस्टम परिभाषित स्तरों पर तत्काल अलर्ट-आधारित सत्यापन प्रदान करेगा।

पृष्ठभूमि : असम में, हर साल 15 मई से 15 अक्टूबर के बीच दैनिक बाढ़ के स्तर के बारे में रिपोर्ट करना अनिवार्य है।

असम में बाढ़ :

  • असम में बाढ़ बहुत आम है।इसका मुख्य कारण ब्रह्मपुत्र नदी है। यह नदी काफी अस्थिर है। इसका मुख्य कारण खड़ी ढलान और उच्च अवसादन है।

  • असम बाढ़ के पीछे के कारण मानव निर्मित और प्राकृतिक दोनों हैं।क्षेत्र में बांधों से पानी की अनियमित रिहाई भी बाढ़ का कारण बनती है।

  • गुवाहाटी का आकार एक कटोरे की तरह है जो इस क्षेत्र को जल जमाव के लिए अतिसंवेदनशील बनाता है।

8. नाइट फ्रैंक द्वारा ग्लोबल प्राइम रेजिडेंशियल इंडेक्स में नई दिल्ली 32 वें स्थान पर

लंदन स्थित संपत्ति सलाहकार नाइट फ्रैंक (Knight Frank) ने ग्लोबल प्राइम रेजिडेंशियल इंडेक्स में क्रमश: 32 वें और 36 वें स्थान पर नई दिल्ली और मुंबई को स्थान दिया है।

जबकि बेंगलुरु Q1 2021 में चार स्थान नीचे चला गया और 40 वें स्थान पर है; इसी अवधि में दिल्ली और मुंबई एक-एक स्थान नीचे आ गया है।

तीन चीनी शहरों - शेन्ज़ेन, शंघाई और गुआंगज़ौ इस तिमाही में सूचकांक में शीर्ष पर हैं। शेन्ज़ेन ने विश्व क्षेत्र में 18.9% की वृद्धि के साथ सबसे मजबूत प्रदर्शन का रिकॉर्ड दर्ज किया, जबकि न्यूयॉर्क नकारात्मक 5.8% वृद्धि के साथ सबसे कमजोर प्रदर्शन करने वाला बाजार था।


9. अनुपम खेर ने न्यूयॉर्क सिटी इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता

अनुपम खेर (Anupam Kher) ने न्यूयॉर्क सिटी इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (New York City International Film Festival) में शार्ट फिल्म हैप्पी बर्थडे (Happy Birthday) में अपने अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता।

फिल्म का निर्देशन प्रसाद कदम (Prasad Kadam) द्वारा किया गया है और एफएनपी मीडिया द्वारा निर्मित है। अनुपम के अलावा, हैप्पी बर्थडे में अहाना कुमरा ने अभिनय किया है। फिल्म ने फेस्टिवल में सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म का पुरस्कार भी जीता।


10. अलेक्जेंडर ज्वेरिव ने अपना दूसरा मैड्रिड खिताब को जीतने के लिए मेटेयो बेरेटिनी को हराया

जर्मन खिलाड़ी अलेक्जेंडर ज्वेरिव (Alexander Zverev) ने अपनी चौथी ATP मास्टर्स 1000 ट्रॉफी जितने के लिए मेटेयो बेरेटिनी (Matteo Berrettini) को 6-7 (8), 6-4, 6-3 को हराकर अपना दूसरा मटुआ मैड्रिड ओपन खिताब 2021 जीता। उन्होंने अपना पहला मैड्रिड खिताब 2018 में फाइनल में थीम (Thiem) के खिलाफ जीता।

इस जीत ने उन्हें अपना चौथा मास्टर्स 1000 खिताब, और तीन साल में पहला ख़िताब दिया। वह पिछले साल के फ्रेंच ओपन में अपने चौथे राउंड में बाहर निकलने के बाद से अपने खेल में सुधार की कोशिश कर रहे है।


11. लुईस हैमिल्टन ने लगातार पांचवीं बार स्पैनिश ग्रैंड प्रिक्स जीता

लुईस हैमिल्टन (Lewis Hamilton) (मर्सिडीज-ग्रेट ब्रिटेन) ने 09 मई 2021 को आयोजित 2021 स्पेनिश ग्रैंड प्रिक्स जीता। यह जीत लुईस हैमिल्टन की लगातार पांचवीं स्पेनिश ग्रैंड प्रिक्स जीत है और साथ ही इस सीज़न की तीसरी जीत है।

मैक्स वेर्स्टाप्पेन (Max Verstappen) (रेड बुल रेसिंग-नीदरलैंड) दूसरे स्थान पर आया, जिसके बाद वाल्टेरी बोटास (Valtteri Bottas) (मर्सिडीज-फिनलैंड) तीसरे स्थान पर रहा। यह रेस 2021 फॉर्मूला वन वर्ल्ड चैम्पियनशिप का चौथा राउंड था।


12. एरीना सबैलेन्का ने मैडन मैड्रिड ओपन महिला एकल का खिताब जीता

टेनिस में, विश्व में सातवें नंबर पर, बेलारूस की एरीना सबैलेन्का (Aryna Sabalenka) ने विश्व की नंबर वन टेनिस खिलाडी, ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी (Ashleigh Barty) को हराकर 2021 का मैड्रिड ओपन महिला एकल खिताब जीता।

यह सबैलेन्का का 10 वां करियर WTA एकल खिताब, सीजन का दूसरा डब्ल्यूटीए खिताब और क्ले कोर्ट पर पहला खिताब है। मैड्रिड ओपन एक पेशेवर WTA टेनिस टूर्नामेंट है जो आउटडोर क्ले कोर्ट पर खेला जाता है। सबैलेन्का ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बार्टी को 6-0, 3-6, 6-4 से हराया।

महिला युगल के फाइनल में, चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेजीकोवा (Barbora Krejcikova) और केटरीना सिनियाकोवा (Katerina Siniakova) ने कनाडा की गैबरिएला डाबरोवस्की और फ्रांस की डेमी शूरस को 6-4, 6-3 से हराया।


13. प्रसिद्ध मूर्तिकार और राज्यसभा सांसद रघुनाथ मोहपात्रा का निधन

प्रतिष्ठित मूर्तिकार, वास्तुकार, और राज्यसभा सदस्य, रघुनाथ मोहपात्रा (Raghunath Mohapatra) का COVID-19 के इलाज के दौरान निधन हो गया है।

ओडिशा के प्रसिद्ध, मोहपात्रा को कला, वास्तुकला और संस्कृति के क्षेत्र में उनके अग्रणी योगदान के लिए 1975 में पद्म श्री, 2001 में पद्म भूषण और 2013 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया।









  • Source of Internet


15 views0 comments