Search

11th March | Current Affairs | MB Books


1. ‘पूर्वी दक्षिण एशिया में परिवहन एकीकरण’ पर विश्व बैंक की रिपोर्ट

विश्व बैंक ने हाल ही में “पूर्वी दक्षिण एशिया में परिवहन एकीकरण की चुनौतियां और अवसर” (Connecting to thrive: Challenges and Opportunities of Transport Integration in Eastern South Asia) नामक अपनी रिपोर्ट प्रकाशित की है। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत और बांग्लादेश के बीच अधिक परिवहन कनेक्टिविटी दोनों देशों की राष्ट्रीय आय में वृद्धि कर सकती है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु : इस रिपोर्ट में कहा गया है कि दोनों देशों के बीच निर्बाध द्विपक्षीय कनेक्टिविटी में भारत की राष्ट्रीय आय को 8% और बांग्लादेश की राष्ट्रीय आय को 17% तक बढ़ाने की क्षमता है। इसमें आगे कहा गया है कि, भारत को बांग्लादेश का निर्यात 182% बढ़ सकता है और यदि वे एक मुक्त व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर करते हैं, जबकि बांग्लादेश के लिए भारत का निर्यात 126% बढ़ सकता है। इस रिपोर्ट के अनुसार, अगर ट्रांसपोर्ट कनेक्टिविटी बढ़ जाती है, तो इससे भारत को बांग्लादेश का निर्यात 297% और बांग्लादेश को भारत का निर्यात 172% बढ़ जाएगा।

रिपोर्ट का महत्व : यह रिपोर्ट “मैत्री सेतु” के उद्घाटन के संदर्भ में महत्वपूर्ण हो जाती है, जो त्रिपुरा (भारत) और बांग्लादेश के बीच फेनी नदी पर बना एक पुल है। यह 1.9 किमी लंबा पुल है जो त्रिपुरा को बांग्लादेश में चटगांव बंदरगाह तक पहुंचने की अनुमति देगा।

रिपोर्ट में बांग्लादेश के बारे में क्या कहा गया है? : इस रिपोर्ट ने यह भी कहा कि, बांग्लादेश भारत, भूटान, नेपाल और अन्य पूर्वी एशिया के देशों के लिए एक रणनीतिक प्रवेश द्वार है। इस रिपोर्ट के अनुसार, क्षेत्रीय व्यापार, पारगमन और लॉजिस्टिक्स नेटवर्क में सुधार करके बांग्लादेश इस क्षेत्र में आर्थिक महाशक्ति बन सकता है।


2. ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स

“ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स” ने दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति की रैंकिंग जारी की। इस सूचकांक में प्रकाश डाला गया है कि, एलोन मस्क जो टेस्ला और स्पेसएक्स के प्रमुख हैं, ने एक नया मील का पत्थर हासिल किया है। वह पहले से ही दुनिया में दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं। टेस्ला के शेयरों के 9 मार्च, 2021 को तेजी से बढ़ने के बाद एक दिन में उनकी कुल संपत्ति 25 बिलियन डॉलर बढ़ गई।

मुख्य बिंदु : इस सूचकांक के अनुसार टेस्ला के शेयरों में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई। यह एक साल से अधिक समय में सबसे बड़ी वृद्धि थी। टेस्ला के स्टॉक में 19.64 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई और यह 673.58 डॉलर प्रति शेयर पर आ गया है। शेयर के मूल्य में इस वृद्धि के साथ, टेस्ला के मूल्यांकन में एलोन मस्क की नेटवर्थ $174 बिलियन हो गयी है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में कहा गया है कि, तकनीकी उद्योगों के शीर्ष 10 सबसे बड़े धन लाभकर्ताओं ने $54 बिलियन जोड़े हैं, 9 मार्च, 2021 को अमेरिका के टेक्नोलॉजी शेयरों में तेज रैली थी। गिरावट के तीन सप्ताह बाद यह उछाल आया है। अमेरिकी शेयरों में वृद्धि ने भी जेफ बेजोस को 6 बिलियन डॉलर हासिल करने में मदद की है जिसके साथ ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स पर उनकी कुल संपत्ति अब 180 बिलियन डॉलर है।

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स : यह दुनिया के सबसे अमीर लोगों की दैनिक रैंकिंग है। यह सूचकांक अरबपतियों के प्रत्येक प्रोफाइल पेज के नेटवर्थ विश्लेषण में विस्तृत गणना के लिए प्रदान करता है। ये आंकड़े न्यूयॉर्क में हर कारोबारी दिन के अंत में अपडेट किए जाते हैं।

एलोन मस्क : वह एक व्यवसायी, औद्योगिक डिजाइनर और इंजीनियर हैं। वह स्पेसएक्स के संस्थापक, सीईओ, सीटीओ और मुख्य डिजाइनर और टेस्ला के प्रोडक्ट डिज़ाइनर भी हैं। उन्होंने बोरिंग कंपनी की भी स्थापना की। वह न्यूरालिंक और OpenAI के सह-संस्थापक भी हैं।


3. तीरथ सिंह रावत बने उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री

पौड़ी गढ़वाल से भारतीय जनता पार्टी के सांसद तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) उत्तराखंड के अगले मुख्यमंत्री होंगे। इसकी घोषणा निर्गामी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने की, जिन्होंने इस्तीफा दे दिया है। तीरथ सिंह रावत को उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई जाएगी।

तीरथ सिंह रावत 2013-15 में उत्तराखंड में पार्टी के प्रमुख थे और अतीत में राज्य से विधायक भी थे। उनका नाम केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और उत्तराखंड के मंत्री धन सिंह रावत सहित प्रमुख उम्मीदवारों में से लिया गया।


4. भारतीय नौसेना में शामिल हुआ 'साइलेंट किलर' INS करंज

भारत-उज्बेकिस्तान संयुक्त सैन्य अभ्यास “DUSTLIK II” उत्तराखंड के रानीखेत में चौबटिया में आयोजित किया जा रहा है। यह दोनों सेनाओं के वार्षिक द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास का दूसरा संस्करण है। इसका समापन 19 मार्च, 2021 को होगा।

मुख्य बिंदु : DUSTLIK का पहला संस्करण नवंबर, 2019 के महीने में उज्बेकिस्तान में आयोजित किया गया था। इस अभ्यास के दूसरे संस्करण में भारतीय सेना और उजबेकिस्तान सेना के लगभग 45 सैनिक भाग ले रहे हैं। इस अभ्यास के दौरान, दोनों सेनाएं पहाड़ या शहरी या ग्रामीण परिदृश्यों में संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत आतंकवाद-रोधी अभियानों के संबंध में अपनी विशेषज्ञता और कौशल साझा करेंगी।

महत्व : यह संयुक्त अभ्यास दोनों देशों के सैन्य और राजनयिक संबंधों को और मज़बूत करेगा। यह आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए दोनों देशों के मजबूत संकल्प को भी दर्शाता है।

DUSTLIK : यह भारत और उज्बेकिस्तान की सेनाओं के बीच पहला संयुक्त सैन्य अभ्यास है। यह अभ्यास वर्ष 2019 में उज्बेकिस्तान में हुआ था। यह आतंकवाद से मुकाबले पर केंद्रित था। यह अभ्यास 13 नवंबर, 2019 को संपन्न हुआ था। इस दौरान भारतीय सेना की टुकड़ी को उज्बेकिस्तान सेना के साथ प्रशिक्षित किया गया था।


5. क्रिसिल: FY’22 में भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर 11% होगी

रेटिंग फर्म क्रिसिल (Crisil) के अनुसार, भारत के लोगों ने अब कोरोना वायरस महामारी के साथ जीना सीख लिया है। उनके लिए अब यह न्यू नॉर्मल बन गया है। इसके साथ ही देश में कोविड-19 संक्रमण फैलने की रफ्तार पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। वहीं, वैक्सीनेशन अभियान के रफ्तार पकड़ने के साथ निवेश केंद्रित सरकारी खर्च बढ़ने से FY’22 में भारत की जीडीपी विकास दर 11% तक पहुंचने की उम्मीद है।

लेकिन छोटे व्यवसायों और शहरी गरीबों के लिए महामारी के साथ पुनर्प्राप्ति आसान नहीं होगी।


6. OECD ने जारी किया अंतरिम ‘आर्थिक आउटलुक’

आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) ने 9 मार्च, 2021 को अपना अंतरिम आर्थिक आउटलुक प्रकाशित किया। यह अनुमान लगाया है कि वित्तीय वर्ष 2022 में भारतीय अर्थव्यवस्था 12.6% की दर से बढ़ेगी। यह G-20 देशों में सबसे अधिक है।

मुख्य बिंदु : इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, कुछ अर्थव्यवस्थाओं में नए वायरस के प्रकोप और सख्त नियंत्रण मानदंडों के बावजूद 2020 की चौथी तिमाही में रिकवरी जारी रही।

रिपोर्ट की मुख्य बातें : इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, कई बड़ी उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाएं अपेक्षाकृत तेजी से रिकवर कर रही हैं। तुर्की, चीन और भारत में मजबूत राजकोषीय और अर्ध-राजकोषीय उपाय, विनिर्माण और निर्माण में सुधार और कई अन्य गतिविधियां पूर्व-महामारी के स्तर से ऊपर चली गई हैं। इन गतिविधियों ने इन अर्थव्यवस्थाओं को उबरने में मदद की है। वित्तीय वर्ष 2021 के लिए, रिपोर्ट में अर्थव्यवस्था में संकुचन 7.4 प्रतिशत का अनुमान लगाया गया था।

भारत की वृद्धि पर अन्य रिपोर्ट : रेटिंग एजेंसी क्रिसिल लिमिटेड ने यह भी अनुमान लगाया है कि वित्तीय वर्ष 2022 में भारतीय अर्थव्यवस्था 11% की दर से बढ़ेगी। यह वृद्धि टीकाकरण कार्यक्रम और निवेश-केंद्रित सरकारी खर्चों के कारण होगी।

विश्व आर्थिक आउटलुक : विश्व आर्थिक आउटलुक एक विश्लेषण है, जो आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) द्वारा प्रकाशित किया गया है। इसमें ओईसीडी के सदस्य देशों के भविष्य के आर्थिक प्रदर्शन के पूर्वानुमान और आर्थिक विश्लेषण शामिल हैं। इस रिपोर्ट का मुख्य संस्करण अंग्रेजी में प्रकाशित होता है, हालांकि, यह फ्रेंच और जर्मन भाषाओं में भी प्रकाशित होता है।

आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OCDE) : यह एक अंतरसरकारी आर्थिक संगठन है जिसमें 37 सदस्य देश शामिल हैं। यह आर्थिक प्रगति और विश्व व्यापार की देखभाल के लिए वर्ष 1961 में स्थापित किया गया था। यह एक आधिकारिक संयुक्त राष्ट्र पर्यवेक्षक भी है।


7. IDBI Bank को PCA Framework से बाहर निकाला गया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने IDBI बैंक को प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन (Prompt Corrective Action-PCA) फ्रेमवर्क से बाहर निकाल दिया है। IDBI बैंक को इसके वित्तीय प्रदर्शन में सुधार के परिणामस्वरूप चार साल के बाद इस ढांचे से हटा दिया गया है।

पृष्ठभूमि : भारतीय रिजर्व बैंक ने मई, 2017 में IDBI बैंक को PCA ढांचे के तहत सूचीबद्ध किया था। इसका कारण यह है कि बैंक ने पूंजी पर्याप्तता (capital adequacy), उत्तोलन अनुपात (leverage ratio), परिसंपत्ति की गुणवत्ता (asset quality) और परिसंपत्तियों पर रीटर्न (return on assets) के लिए सीमाएं तोड़ दी थीं। मार्च, 2017 के महीने में शुद्ध एनपीए 13% से अधिक था।

मुख्य बिंदु : 31 दिसंबर, 2020 के अंत तक, यह नोट किया गया था कि बैंक नियामक पूंजी, उत्तोलन अनुपात और शुद्ध एनपीए पर पीसीए मापदंडों का उल्लंघन नहीं कर रहा था। इसने उस तिमाही में 378 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया। इस प्रकार, इसे नियामक फ्रेमवर्क से हटा दिया गया था।

Prompt Corrective Action (PCA) : यह एक फ्रेमवर्क है जिसके तहत कमजोर वित्तीय मैट्रिक्स वाले बैंकों को केंद्रीय बैंक द्वारा नियमन के तहत रखा जाता है। आरबीआई द्वारा 2002 में यह फ्रेमवर्क पेश किया गया था। यह उन बैंकों के लिए एक संरचित प्रारंभिक हस्तक्षेप तंत्र है जो खराब गुणवत्ता वाले हैं या घाटे की वजह से कमजोर हैं। PCA को बैंकिंग क्षेत्र में नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स (एनपीए) के मुद्दे की जांच के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। यह फ्रेमवर्क केवल वाणिज्यिक बैंकों पर लागू होता है।


8. फरवरी के लिए आईसीसी प्लेयर ऑफ मंथ अवार्ड अश्विन, ब्यूमोंट ने जीता

भारत के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने फरवरी के लिए ICC प्लेयर ऑफ द मंथ अवार्ड से सम्मानित किया। अश्विन ने इंग्लैंड के कप्तान जो रूट और वेस्टइंडीज के काइल मेयर को हराकर पुरस्कार जीता।

फरवरी में अपनी चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला में इंग्लैंड पर 2-1 की बढ़त बनाकर और अंततः मार्च में श्रृंखला 3-1 से भारत की जीत में अश्विन ने बैट-बॉल के साथ एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वह 32 स्काल्प्स के साथ श्रृंखला में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज थे और उन्होंने चेन्नई में दूसरे टेस्ट में शतक बनाया था।

इस बीच, इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज टैमी ब्यूमोंट ने फरवरी के लिए आईसीसी विमेंस प्लेयर ऑफ़ द मंथ का पुरस्कार जीता। फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन एकदिवसीय मैच खेलने के बाद ब्यूमोंट जबरदस्त विजेता बनी, जहां उन्होंने 231 रन बनाकर इनमें से प्रत्येक में पचास से अधिक रन बनाए। उन्होंने पुरस्कार के लिए अपनी टीम के साथी नेटली साइवर और न्यूजीलैंड के ब्रुक हॉलिडे को हराया।


9. पीवी सिंधु ने BWF स्विस ओपन सुपर 300 में जीता सिल्वर मैडल

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने स्विट्जरलैंड के बासेल में आयोजित BWF स्विस ओपन सुपर 300 के विमेंस सिंगल फाइनल में सिल्वर मैडल जीता है।

विश्व की 7 नंबर खिलाड़ी सिंधु को एक कड़े मुकाबले में वर्ल्ड की 3 नंबर खिलाड़ी और ओलंपिक चैंपियन कैरोलिना मारिन से हार का सामना करना पड़ा।

स्विस ओपन 2021 के विजेताओं की सूची

पुरुष एकल : विक्टर एक्सेलसेन (डेनमार्क) ने कुनलवुत विदितसन (थाईलैंड) को हराया।

महिला एकल : कैरोलिना मारिन (स्पेन) ने पीवी सिंधु (भारत) को हराया।

मेंस डबल्स : किम एस्ट्रुप और एंडर्स स्कारारुप रासमुसेन (डेनमार्क) ने मार्क लम्सफस-मार्विन सेडेल (जर्मनी) को हराया।

मिक्स्ड डबल्स : थॉम्स गिक्वेल-डेल्फीन डेल्रे (फ्रांस) ने डेनमार्क की जोड़ी माथियास क्रिस्टियनसेन-एलेक्सिस बोया को हराया।


10. कोनेरू हम्पी बीबीसी की इंडियन स्पोर्ट्सवीमेन ऑफ़ द इयर

विश्व रैपिड चेस चैंपियन कोनेरू हम्पी (Koneru Humpy) ने बीबीसी इंडियन स्पोर्टसवीमेन-ऑफ-द-ईयर पुरस्कार जीता है। वर्चुअल पुरस्कार समारोह की मेजबानी बीबीसी के महानिदेशक टिम डेवी ने की। लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार प्रसिद्ध एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने प्राप्त किया।

इंग्लिश क्रिकेट स्टार बेन स्टोक्स ने 19 वर्षीय भारतीय शूटर, मनु भाकर को इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर अवार्ड श्रेणी के विजेता के रूप में घोषित किया। भाकर ने 2018 में ISSF विश्व कप में दो स्वर्ण जीते, उसके बाद यूथ ओलंपिक में स्वर्ण और राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण के साथ बूट करने का रिकॉर्ड है।


11. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 मार्च, 2021 को प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि (PMSSN) को एक एकल गैर-चूक योग्य आरक्षित निधि (single non-lapsable reserve fund) के रूप में मंजूरी दी है।

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि : यह नॉन-लैप्सबल रिजर्व फंड है। इस फंड में स्वास्थ्य और शिक्षा उपकर में स्वास्थ्य की हिस्सेदारी से प्राप्त आय शामिल होगी। इस फण्ड में इस राजस्व का उपयोग राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, आयुष्मान भारत-स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र, आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सहित स्वास्थ्य मंत्रालय की फ्लैगशिप योजनाओं और आपातकालीन और आपदा सहायता प्रतिक्रियाओं के लिए किया जाएगा। इस फंड को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रशासित किया जाएगा। इस फंड में आपातकालीन, आपदा तैयारियों और स्वास्थ्य आपात स्थितियों के दौरान प्रतिक्रियाएं भी शामिल हैं।

महत्व : यह फण्ड महत्वपूर्ण है क्योंकि यह फंड सार्वभौमिक और सस्ती स्वास्थ्य देखभाल की पहुंच को सुनिश्चित करेगा।

फंड की आवश्यकता : स्वास्थ्य एक महत्वपूर्ण संपत्ति है क्योंकि यह विकास के बेहतर परिणाम प्राप्त करने में मदद करता है। बेहतर स्वास्थ्य बेहतर उत्पादकता की ओर ले जाता है। इसलिए, इस कोष की आवश्यकता थी ताकि सभी के लिए सार्वभौमिक स्वास्थ्य सुनिश्चित हो सके।


12. जम्मू-कश्मीर ने सुपर -75 छात्रवृत्ति योजना शुरू की

जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) 2021 के अवसर पर मेधावी लड़कियों के लिए "सुपर -75" छात्रवृत्ति योजनाएं शुरू की हैं। इस छात्रवृत्ति योजना का मूल उद्देश्य महिलाओं की शिक्षा और उद्यमशीलता को सुविधाजनक बनाना है।

सुपर -75 छात्रवृत्ति योजना गरीब परिवारों की मेधावी लड़कियों की शिक्षा का समर्थन करेगी, ताकि वे चिकित्सा, इंजीनियरिंग, आईटीआई (औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों) और मानवता जैसी धाराओं में उत्कृष्टता प्राप्त कर सकें और राष्ट्र निर्माण में योगदान कर सकें।

इसके अलावा, उपराज्यपाल सिन्हा ने 'तेजस्विनी' नामक एक नई योजना की भी घोषणा की। यह योजना 'मिशन यूथ-जे एंड के (Mission Youth-J&K)’ के तहत शुरू की गई है।

तेजस्विनी के तहत, 18 से 35 वर्ष की आयु के बीच की लड़कियों को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए 5 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।


13. APEDA ने अपना पहला वर्चुअल ट्रेड फेयर लॉन्च किया

कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (APEDA) ने 10 मार्च, 2021 को पहला वर्चुअल व्यापार मेला शुरू किया। इसका समापन 12 मार्च, 2021 को होगा।

मुख्य बिंदु : यह व्यापार मेला कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किया गया है। APEDA ने COVID-19 संबंधित प्रतिबंधों के कारण वर्चुअल ट्रेड फेयर की इस अवधारणा को शुरू किया है। यह भारत के कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किया गया था।

व्यापार मेले की थीम : इस मेले का आयोजन “India Rice and Agro Commodity” थीम के तहत किया जा रहा है। यह मेला कई कृषि उत्पादों की निर्यात क्षमता को प्रदर्शित करने पर केंद्रित है।

प्रतिभागी : इस वर्चुअल ट्रेड फेयर में आयातक और निर्यातक भाग ले रहे हैं। इन संभावित खरीदारों या आयातकों और आगंतुकों को खाद्य उत्पादों की एक विशाल श्रृंखला की जानकारी प्राप्त करने का मौका मिलेगा। इन उत्पादों को वर्चुअल मेले के माध्यम से निर्यातकों द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा।

प्रदर्शित किए जाने वाले उत्पाद : वर्चुअल ट्रेड फेयर में बासमती चावल, गैर-बासमती चावल, गेहूं, मक्का, बाजरा, मोटे अनाज और मूंगफली जैसे कई प्रमुख उत्पाद प्रदर्शित किए जाएंगे। अब तक, 135 प्रदर्शकों ने व्यापार मेले के लिए पंजीकरण किया है। इसके अलावा ब्राजील, फ्रांस, संयुक्त अरब अमीरात, यूनाइटेड किंगडम, न्यूजीलैंड, सऊदी अरब, कतर, सूडान, अफगानिस्तान, मिस्र, बहरीन, फिलीपींस, फिजी, म्यांमार, नीदरलैंड और पेरू के 266 भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय खरीदार पंजीकृत हैं।

कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (Agricultural and Processed Food Products Export Development Authority-APEDA) : यह एक निर्यात व्यापार संवर्धन निकाय है। इसकी स्थापना वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा “कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण” के तहत की गई थी। यह दिसंबर 1985 में पारित संसद के एक अधिनियम द्वारा स्थापित किया गया था। यह निकाय 13 फरवरी, 1986 को प्रभावी हुआ था।


14. दिल्ली सरकार ने 69000 करोड़ रुपये का 'देशभक्ति' बजट पेश किया

दिल्ली सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 'पैट्रीअटिज़म' या 'देशभक्ति' पर आधारित 69,000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। बजट दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) द्वारा प्रस्तुत किया गया था।

बजट पेश करते हुए उन्होंने घोषणा की कि सरकार ने भारत के 75 वें स्वतंत्रता दिवस को मनाने का निर्णय लिया है। दिल्ली सरकार 12 मार्च, 2021 से कार्यक्रम आयोजित करेगी, जो 75 सप्ताह तक चलेगा। दिल्ली में 500 स्थानों पर ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए सरकार ने 45 करोड़ रुपये आवंटित करने का प्रस्ताव किया है।

'आम आदमी नि:शुल्क COVID वैक्सीन योजना’ के तहत 50 करोड़ रुपये का परिव्यय बनाया है। इसने अपने अस्पतालों में चल रहे टीकाकरण अभियान के आने वाले चरणों में सभी के लिए मुफ्त कोविड -19 टीकाकरण की घोषणा की।


15. बेंगलुरु में ‘Xcelerator Bengaluru’ पहल का अनावरण किया गया

कर्नाटक राज्य ने महिलाओं के स्वामित्व वाले सूक्ष्म व्यवसायों को सहायता प्रदान करने के लिए “Xcelerator Bengaluru Initiative” शुरू की है।

महिलाओं को सरकार का समर्थन : राज्य ने 8 मार्च, 2021 को 2021-2021 के लिए बजट पेश किया, जिसमें महिला-केंद्रित कार्यक्रमों के लिए 37,188 करोड़ दिए गये हैं। इसी प्रकार, सरकार छोटे स्तर के या सूक्ष्म उद्यमियों, कर्मचारियों, कामकाजी महिलाओं, ग्रामीण स्वयं सहायता समूहों को भी ‘Elevate Women’ कार्यक्रम जैसी कई पहलों की मदद से प्रोत्साहित कर रही है।

Xcelerator Bengaluru : “Xcelerator Bengaluru” एक क्यूरेटेड छह महीने का त्वरक कार्यक्रम है। यह महिलाओं को अपना समर्थन प्रदान करेगा ताकि महिलाओं के स्वामित्व वाले सूक्ष्म व्यवसायों को बढ़ाने में मदद मिल सके। यह पहल UBUNTU कंसोर्टियम ऑफ वूमेन एंटरप्रेन्योरशिप एसोसिएशन, ग्लोबल अलायंस फॉर मास एंटरप्रेन्योरशिप (GAME) और फेडरेशन ऑफ कर्नाटक चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (FKCCI) द्वारा संयुक्त रूप से शुरू की गई है। यह 50,000 महिलाओं के नेतृत्व वाले उद्यमों तक पहुंचने का प्रयास करेगा। यह महिला उद्यमिता विकास संगठनों, सफल उद्यमियों और शिक्षाविदों की सहायता से डिज़ाइन और निर्मित है। इसे एसोसिएशन ऑफ वूमेन एंटरप्रेन्योर्स ऑफ कर्नाटक (AWAKE) की साझेदारी में डिज़ाइन किया गया है, जो उद्यमिता विकास द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए समर्पित है।

Federation of Karnataka Chambers of Commerce and Industry (FKCCI) : मैसूर चैम्बर ऑफ कॉमर्स की स्थापना भारत रत्न सर एम. विश्वेश्वरैया ने की थी, जो एक इंजीनियरिंग जीनियस, एक राजनेता, दूरदर्शी और महान इंस्टीट्यूशन बिल्डर थे। डब्ल्यू.सी. रोज 1920 तक इसके पहले अध्यक्ष थे। इस चैंबर को बाद में फेडरेशन ऑफ कर्नाटक चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (FKCCI) में परिवर्तित कर दिया। यह कर्नाटक में व्यापार, सेवा क्षेत्रों और उद्योगों के लिए एक शीर्ष संगठन है।


16. FIAF अवार्ड 2021: अमिताभ बच्चन को सम्मानित किया जायेगा

इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म आर्काइव्स ((FIAF) और दुनिया भर के फिल्म अभिलेखागार और संग्रहालयों का विश्वव्यापी संगठन 19 मार्च, 2021 को अमिताभ बच्चन को प्रतिष्ठित 2021 एफआईएएफ पुरस्कार प्रदान करेगा।

मुख्य बिंदु : 78 वर्षीय अभिनेता को एफआईएएफ संबद्ध Film Heritage Foundation द्वारा इस पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था। यह फाउंडेशन भारत की फिल्म विरासत को संरक्षित करने, पुनर्स्थापित करने, दस्तावेजीकरण, प्रदर्शन करने और अध्ययन करने के लिए समर्पित है। यह पुरस्कार उन्हें फिल्म निर्माता मार्टिन स्कॉर्सेसे (Martin Scorsese) और क्रिस्टोफर नोलन (Christopher Nolan) द्वारा दिया जाएगा। यह दोनों व्यक्ति इस पुरस्कार के पिछले प्राप्तकर्ता हैं। अमिताभ बच्चन को फिल्म विरासत के संरक्षण के लिए उनके समर्पण और योगदान के लिए यह पुरस्कार दिया जाएगा।

International Federation of Film Archives (FIAF) : FIAF की स्थापना वर्ष 1938 में पेरिस में Cinematheque Francaise और न्यूयॉर्क शहर में Museum of Modern Art द्वारा की गई थी। FIAF चल-चित्रों को इकट्ठा करने, संरक्षित करने और स्क्रीन करने के लिए समर्पित है जो कला और संस्कृति के कार्यों के साथ-साथ एक ऐतिहासिक दस्तावेज के रूप में मूल्यवान हैं। इसमें नवंबर 2020 तक 80 देशों में 172 फिल्म विरासत संस्थान शामिल हैं।






  • Source of Internet