Search

10th & 11th January | Current Affairs | MB Books


1. 10 जनवरी : विश्व हिंदी दिवस

प्रत्येक वर्ष 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य विश्व भर में लोगों में हिंदी भाषा के बारे में जागरूकता फैलाना है तथा हिंदी को एक अंतर्राष्ट्रीय भाषा के रूप में प्रस्तुत करना है।

10 जनवरी ही क्यों?

पहला विश्व हिंदी सम्मेलन 10 जनवरी, 1975 को नागपुर में आयोजित किया गया था। इस सम्मेलन में 30 देशों से प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था। इस सम्मेलन की समृति में भारत सरकार ने 2006 से 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाने के निर्णय लिया था।

यह हिंदी दिवस के अलग कैसे है?

हिंदी दिवस प्रतिवर्ष 14 सितम्बर को मनाया जाता है क्योंकि इस दिन हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दी गयी थी। 14 सितम्बर, 1949 को संविधान सभा ने हिंदी भाषा को भारत की अधिकारिक भाषा का दर्जा दिया था।

विश्व हिंदी दिवस का उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हिंदी भाषा को प्रोत्साहन दिया है जबकि हिंदी दिवस को केवल राष्ट्रीय स्तर पर ही मनाया जाता है।

हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के लिए संवैधानिक प्रावधान

हिंदी विश्व की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है, संविधान के अनुच्छेद 120, 210, 343, 344 तथा 348-351 द्वारा हिंदी भाषा के प्रोत्साहन पर बल दिया गया है।


2. भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 3 प्रमुख समितियों की करेगा अध्यक्षता

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टी एस तिरुमूर्ति ने घोषणा की है कि भारत अपने कार्यकाल के दौरान शक्तिशाली 15-राष्ट्र संयुक्त राष्ट्र के गैर-स्थायी सदस्य के रूप में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की तीन प्रमुख समितियों की अध्यक्षता करेगा।

इन समितियों में से भारत 2022 में यूएनएससी की आतंकवाद रोधी समिति की अध्यक्षता करेगा, जिस वर्ष भारत की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ भी है।

भारत ने 01 जनवरी, 2021 से UNSC में अपना दो साल का कार्यकाल शुरू किया।

यह आठवीं बार है जब देश गैर-स्थायी सदस्य के रूप में UNSC में शामिल हुआ है। 2021 में, भारत के अतिरिक्त, नॉर्वे, केन्या, आयरलैंड और मैक्सिको परिषद में गैर-स्थायी सदस्यों के रूप में शामिल हुए।


3. “मोदी इंडिया कॉलिंग-2021” पुस्तक का विमोचन किया गया

हाल ही में 16वें प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर “मोदी इंडिया कॉलिंग – 2021” नामक एक कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया गया।

मुख्य बिंदु

इस पुस्तक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की “107 विदेशी और द्विपक्षीय यात्राओं” के दौरान खींची गई विभिन्न तस्वीरें शामिल हैं। यह पुस्तक भाजपा नेता विजय जॉली का विचार है और इसे दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने जारी किया था। इस पुस्तक का प्रकाशन मनीष मीडिया द्वारा किया गया है। इस पुस्तक में 450 पन्ने हैं जिनमें पीएम मोदी की हजारों तस्वीरें हैं।

16वां प्रवासी भारतीय दिवस

16वें प्रवासी भारतीय दिवस का उद्घाटन 9 जनवरी को पीएम मोदी ने किया था। इस वर्चुअल सम्मेलन के मुख्य अतिथि सूरीनाम गणराज्य के राष्ट्रपति चन्द्रिकाप्रसाद संतोखी हैं। 16वें प्रवासी भारतीय दिवस की थीम है : “आत्मनिर्भर भारत में योगदान”।

प्रवासी भारतीय दिवस 9 जनवरी को 2 साल बाद मनाया जाता है। 9 जनवरी, 1915 को दक्षिण अफ्रीका से महात्मा गांधी की भारत वापसी की याद में यह दिवस मनाया जाता है। इस तरह का पहला दिवस वर्ष 2003 में मनाया गया था।


4. पाकिस्तान ने "फतह -1" रॉकेट सिस्टम का किया सफल परीक्षण

पाकिस्तानी सेना ने सफलतापूर्वक स्वदेशी रूप से विकसित गाइडेड मल्टी लॉन्च रॉकेट सिस्टम, फतह -1 का सफल उड़ान परीक्षण पूरा किया है।

फतह -1 हथियार प्रणाली "दुश्मन के इलाके" पारंपरिक आयुध ले जाने में सक्षम है।

सेना के महानिदेशक, मीडिया विंग, मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार के अनुसार, फतह -1 हथियार प्रणाली 140 किमी की सीमा तक लक्ष्य को मार सकती है।


5. 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) में बांग्लादेश होगा फोकस कंट्री

51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) में बांग्लादेश ‘फोकस कंट्री’ होगा। ‘कंट्री इन फोकस’ एक विशेष खंड होता है जिसके द्वारा देश की सिनेमाई उत्कृष्टता और योगदान को सम्मानित किया जाता है। भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) का आयोजन गोवा में 16 से 24 जनवरी के बीच किया जाएगा। कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए, IFFI अपना पहला हाइब्रिड फिल्म समारोह आयोजित करेगा।

मुख्य बिंदु

इस फिल्म महोत्सव में बांग्लादेश की चार फिल्मों का प्रदर्शन किया जायेगा, इसमें तनवीर मोकम्मल की ‘जिबोनधुली’, जाहिदुर रहीम अंजान की ‘मेघमल्लार’, रुबायत हुसैन की ‘अंडर कंस्ट्रक्शन’ और ‘सिंसियरली योर्स ढाका’ शामिल है।

इसके अलावा, उन कार्यक्रमों की लाइन-अप की घोषणा की गयी है, जो त्योहार के दौरान ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दिखाई जाएँगी। इसमें ‘लाइव फ़्लेश’, ‘बैड एजुकेशन’, स्पैनिश फ़िल्म निर्माता पेड्रो अल्मोडोव्वर की ‘वोल्वर’ और स्वीडिश फ़िल्म निर्देशक रुबेन ओस्तलैंड की ‘स्क्वायर एंड फ़ोर्स मेजर शामिल हैं।

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल (IFFI)

इस फिल्म फेस्टिवल का आयोजन केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्रालय, फिल्म महोत्सव निदेशालय तथा गोवासरकार द्वारा किया जा रहा है। भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल की स्थापना 1952 में हुई थी, तब से इस फिल्म फेस्टिवल का आयोजन प्रतिवर्ष गोवा में किया जाता है। इस फिल्म फेस्टिवल के द्वारा विश्व भर के सिनेमा को अपनी फिल्म कला का प्रदर्शन करने के लिए प्लेटफार्म प्राप्त होता है।


6. तौडेरा फिर बने मध्य अफ्रीकी गणराज्य के राष्ट्रपति

फॉस्टिन-आर्कचेंज तौडेरा द्वारा 53% से अधिक मतों से चुनाव जीतने के बाद दोबारा मध्य अफ्रीकी गणराज्य का राष्ट्रपति चुना गया।

63 वर्षीय राष्ट्रपति 2016 से सत्ता में हैं लेकिन देश के विशाल हिस्सों पर नियंत्रण हासिल करने के लिए हथियाबंद विरोधियों से लगातार संघर्ष कर रहे है।

सोने और हीरे के उत्पादक मध्य अफ्रीकी गणराज्य की आबादी 4.7 मिलियन है।


7. दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के लिए LiDAR तकनीक का उपयोग किया जायेगा

10 जनवरी को दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के लिए जमीनी सर्वेक्षण करने के लिए LiDAR तकनीक का उपयोग शुरू किया गया। LiDAR का अर्थ ‘Light Detection and Ranging’ है।

मुख्य बिंदु

भारतीय रेलवे हेलीकॉप्टर पर माउंटेड LiDAR तकनीक का उपयोग कर रहा है। पहली बार मुंबई अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना में इसका उपयोग किया गया था, उसके बाद अब दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर में इस तकनीक का उपयोग किया जा रहा है।

इस तकनीक में जीपीएस डाटा, लेजर डाटा, फ्लिघ पैरामीटर्स के संयोजन का उपयोग किया जाता है, इससे सटीक सर्वेक्षण किया जा सकता है।

दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर की लंबाई लगभग 800 किलोमीटर है और स्टेशनों के संरेखण का फैसला सर्वेक्षण के आधार पर और सरकार के परामर्श से किया जायेगा। यह कॉरिडोर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र को आगरा, लखनऊ, मथुरा, प्रयागराज, रायबरेली, इटावा, भदोही, अयोध्या और वाराणसी जैसे प्रमुख शहरों से जोड़ेगा।

यह तकनीक बहुत कम समय में उच्च गुणवत्ता वाला डाटा प्रदान करती है। यह डाटा आमतौर पर भूस्खलन, सड़कों, सतही परिवहन, नहर, सिंचाई और शहर नियोजन से संबंधित परियोजनाओं में उपयोग की जाती है।

LIDAR

यह एक रिमोट सेंसिंग विधि है जो पृथ्वी पर दूरी को मापने के लिए स्पंदित लेजर के रूप में प्रकाश का उपयोग करती है। यह प्रणाली लाइट पल्सेस पृथ्वी के आकार और इसकी सतह विशेषताओं के बारे में 3D जानकारी उत्पन्न करती हैं। एक LiDAR उपकरण में एक स्कैनर, लेजर और एक जीपीएस रिसीवर होता है। हेलीकॉप्टर और हवाई जहाज LiDAR डेटा प्राप्त करने के लिए सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले प्लेटफ़ॉर्म हैं।

LiDAR दो प्रकार के होते हैं – स्थलाकृतिक (topographic) और बाथमीट्रिक (Bathymetric)।Topographic LiDAR भूमि का नक्शा बनाने के लिए इन्फ्रारेड लेजर का उपयोग करता है। दूसरी ओर, बाथमीट्रिक LiDAR नदी के तल की ऊँचाई और समुद्र तल को मापता है।

इस तकनीक में उपयोग किए जाने वाले प्रकीर्णन प्रभाव रमन प्रकीर्णन, रेले स्कैटरिंग, माई स्कैटरिंग हैं।


8. IHS मार्किट ने वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था के 8.9 प्रतिशत की दर से बढ़ने का जताया अनुमान

लंदन स्थित वित्तीय सेवा कंपनी IHS मार्किट ने अप्रैल 2021 से शुरू होने वाले वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 8.9 प्रतिशत की दर से वृद्धि का अनुमान जताया है।

यह अनुमान भारत द्वारा 2020 की आखिरी तिमाही में घरेलू आर्थिक गतिविधियों में आए महत्वपूर्ण सुधार पर आधारित है।

9. एलन मस्क अमेज़ॅन के जेफ बेजोस को पीछे छोड़ बने दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, Tesla के सीईओ एलन मस्क अमेजन के जेफ बेजोस को पीछे छोड़ दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए। एलोन मस्क की कुल संपति 188.5 बिलियन डॉलर से अधिक आंकी गई है।

गुरुवार की सुबह टेस्ला (TSLA) के शेयरों में 6% की बढ़ोतरी ने अपने सीईओ की स्टॉक होल्डिंग और विकल्पों का मूल्य 10 बिलियन डॉलर तक बढ़ा दिया, जिससे उनकी नेटवर्थ लगभग 188.5 बिलियन डॉलर हो गई।

उनके साथ ही 2% से कम की मामूली वृद्धि ने बेजोस के अमेज़ॅन (एएमजेडएन) के शेयरों को लगभग 3 बिलियन डॉलर तक बढ़ा दिया, जिससे उनकी नेटवर्थ 187 बिलियन डॉलर हो गई।

ब्लूमबर्ग के अनुसार, बिल गेट्स अब 132 बिलियन डॉलर की कुल संपति के साथ तीसरे स्थान पर हैं।


10. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) बनी 12 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैप वाली दूसरी भारतीय कंपनी

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) 12 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैप वाली दूसरी भारतीय कंपनी बन गयी है। मार्केट कैप कंपनी का वह मूल्य है जिसका व्यापार स्टॉक मार्केट में किया जाता है। मार्केट कैप की गणना कुल शेयर की संख्या को शेयर की वर्तमान कीमत से गुणा करके की जाती है।

मुख्य बिंदु

बीएसई पर टीसीएस के शेयर कीमत में 3.5% बढ़ोत्तरी हुई और यह 3,230 रुपये के 52 सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया था। कंपनी के समेकित शुद्ध लाभ 8,727 करोड़ रुपये (7.17% की सालाना वृद्धि) पहुँच गया है। जुलाई-सितंबर तिमाही में टीसीएस का समेकित शुद्ध लाभ 7,504 करोड़ रुपये था। दिसंबर तिमाही में, कंपनी ने 9 वर्षों में सबसे मजबूत वृद्धि देखी है, हालांकि तीसरी ति